BJP विधायक पहले हाथी पर हुए सवार, फिर हवा में लहराई राइफल, जानिए फिर क्या हुआ

0
vinay singh
vinay singh

भारतीय जनता पार्टी के विधायक का एक कार्यक्रम के आयोजन में राइफल से फायरिंग करने का मामला सामने आया है। पहले वह हाथी पर सवार होकर मैदान परिसर में पहुंचे और उसके बाद हवा में राइफल से फायरिंग की।

पूरा मामला बिहार के बेतिया में योगापट्टी थाने के मच्छरगावां बाजार के समीप रमना मैदान परिसर का है जहा कंस वध मेले में लौरिया से बीजेपी विधायक विनय बिहारी ने हाथी पर सवार होकर राइफल से फायरिंग की। घटना गुरुवार देर शाम की है। इसके बाद सोशल मीडिया पर इसका वीडियो और फोटो वायरल हो गया। इसके बाद पुलिस ने भी कार्रवाई तेज कर दी है। एसडीपीओ पंकज कुमार रावत ने बताया कि मामले की छानबीन शुरू कर दी गयी है। विधायक से जांच में सहयोग करने को कहा गया है।

बता दें कि बीजेपी विधायक ने राइफल योगापट्टी थाने में जमा करवा दी है। अब तक की छानबीन में पता चला है कि राइफल का लाइसेंस विधायक की पत्नी व पूर्व जिला परिषद उपाध्यक्ष चंचला बिहारी के नाम से है। राइफल से फायरिंग हुई है या नहीं, इसकी जांच पुलिस के आर्मर (तकनीकी विशेषज्ञ) करेंगे।

इधर, बीजेपी विधायक ने बताया कि कंस वध मेले का आयोजन पुराने जमाने से होता आ रहा है। इस मौके पर शस्त्र की पूजा भी होती है। इसी परंपरा के तहत उन्होंने फायरिंग की है, लेकिन विरोधियों साजिश के तहत इसका वीडियो बनाकर मामले को दूसरा मोड़ दे दिया। विरोधी उनको बदनाम करना चाहते हैं। राइफल उनकी पत्नी के नाम पर है और वे इसके केयरटेकर हैं। उन्हें पुलिस पर विश्वास है कि जांच सही तरीके से होगी।

 बता दें कि योगापट्टी के मच्छरगांवा बाजार से पहले रमना में कंस वध मेला लगा था। मेले में सैकड़ों लोग वहां मौजूद थे। मुख्य अतिथि विनय बिहारी मेले में शामिल होने के लिए हाथी पर बैठ हाथ में राइफल लिए हुए पहुंचे थे। इसके बाद उन्होंने फायरिंग भी की। इस मामले पर सियासत भी शुरू हो गई है। राजद के प्रदेश महासचिव रणकौशल प्रताप सिंह उर्फ गुड्डू सिंह ने विधायक विनय बिहारी पर एफआईआर दर्ज करने और राइफल जब्त करने की मांग की है।

ये भी पढ़ें : फ्लैट दिलाने के नाम पर फर्जीवाड़ा, खरीदारों से वसूले करोड़ों