बीजेपी नेता निकला प्रेमी का हत्यारा।

0

शामली जनपद के गांव हरिनगर बिडोली में हुई 8 दिन पहले मां बेटे की हत्या के मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है पकड़े गए दोनों आरोपियों में से एक आरोपी बीजेपी जिला पंचायत सदस्य है जिसका मृतक लड़की से आरोपी जिला पंचायत के बीते 4 साल से पहलेप्रेम प्रसंग थे ।

भाजपा नेता को अपनी करतूत पर जरा भी पछतावा नहीं है।उसने अपने राजनीतिक करियर को बचाने के लिए एक मां-बेटी की हत्या कर दी।इसका खुलासा पुलिस ने आठ दिन बाद करते हुए आरोपी भाजपा नेता आैर उसके क साथी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने प्रेम-प्रसंग के चलते हत्या की वारदात को अंजाम दिया। पुलिस ने हत्यारों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया।

युवती से फोन पर होती थी बात

दरअसल वारदात जनपद शामली के झिंझाना थाना क्षेत्र के कस्बा बिडोली की है।जहां करीब 8 दिन पूर्व एक महिला व उसकी बेटी की रात्रि में गला दबाकर हत्या कर दी गई थी।वारदात के बाद हत्यारे दोनों के शवों को लेकर भाग रहे थे।ग्रामीणों के देखने पर वह शव छोड़कर फरार हो गए थे।इसी के बाद पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी। 8 दिन बाद पुलिस ने झिंझाना क्षेत्र से बीजेपी के नेता और जिला पंचायत सदस्य सुधीर कुमार और उसके एक दोस्त सुनील को गिरफ्तार किया है।पकड़े गए दोनों आरोपियों ने मां बेटी की हत्या की वारदात का जुर्म कबूल कर लिया है।साथ ही इसकी वजह भी बताई है।

तीन साल से थे भाजपा नेता के संबंध और प्रेम-प्रसंग

हत्यारोपी बीजेपी नेता सुधीर ने बताया कि मृतक युवती से उसके करीब 4 साल से संबंध थे। युवती उससे एक तरफा प्रेम करती थी। इससे वह बदनामी के कारण बचना चाहता था। वहीं लड़की उसे फोन करती थी। इससे बचने व अपने राजनीतिक करियर को बचाने के लिए आरोपी ने दोस्त सुनील निवासी मछरौली के साथ मिलकर के इस दोहरे हत्याकांड को अंजाम दिया था। वहीं बीजेपी नेता मुख्य आरोपी सुधीर कुमार ने बताया कि दोनों मां बेटी की हत्या उसने समाज से गंदगी साफ करने और अपने राजनीतिक कैरियर को बचाने के लिए की है। वह उससे जबरदस्ती संबंध बनाने का दबाव बना रही थी। जिसके चलते उसने वारदात को अंजाम दिया है। हत्या की वारदात के बाद आरोपी बीजेपी नेता को कोई पछतावा भी नहीं है। वही रुकमा एसपी शामली अजय कुमार ने बताया कि पुलिस ने मां बेटी के दोहरे हत्याकांड का खुलासा किया है। हत्यारोपी जिला पंचायत सदस्य सुधीर व उसके दोस्त सुनील को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी सुधीर के कब्जे से मृतक युवती का मोबाइल फोन भी बरामद किया है। एसपी ने हत्याकांड का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को 20 हजार का इनाम देने की घोषणा की है।