Bitcoin latest price: बिटकॉइन ने पूरे किए 13 साल, 1000 रुपये को बनाया 76.4 करोड़

113

Bitcoin latest price: बिटकॉइन ने पूरे किए 13 साल, 1000 रुपये को बनाया 76.4 करोड़

हाइलाइट्स

  • दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टो बिटकॉइन ने 13 साल पूरे किए
  • इस दौरान इसने 1000 रुपये के निवेश को 76.4 करोड़ बनाया
  • 3 जनवरी को जारी हुआ था बिटकॉइन का ऑरिजिनल ब्लॉक
  • पिछले साल नवंबर में 68,790 डॉलर पहुंची थी इसकी कीमत

नई दिल्ली
दुनिया की सबसे पुरानी, सबसे लोकप्रिय और सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन (Bitcoin) ने 13 साल पूरे कर लिए हैं। यूं तो बिटकॉइन के क्रिएटर सतोशी नाकामोतो (Satoshi Nakamoto) ने 28 अक्टूबर, 2008 को इसका व्हाइटपेपर जारी किया था लेकिन मिंट डेट 3 जनवरी, 2009 थी। यही वजह है कि कई लोग 3 जनवरी को ही इसका बर्थडे मानते हैं।

Mudrex के सीईओ और को-फाउंडर एदुल पटेल का कहना है कि दुनियाभर में क्रिप्टोकरेंसीज और ब्लॉकचेन के उभार में बिटकॉइन की सबसे अहम भूमिका है। नाकामोतो ने 3 जनवरी को बिटकॉइन का ऑरिजिनल ब्लॉक रिलीज किया था जिसे अब जेनेसिस ब्लॉक (Genesis Block) के नाम से जाना जाता है। इसमें पहली 50 बिटकॉइन थीं। इसका पहला ट्रांजैक्शन मई 2009 में हुआ था। इसका मकसद दुनिया में एक ऐसी करेंसी लाना था जिसमें बैंकों और दलालों की कोई भूमिका नहीं होगी।

जानिए क्यों चीन की एवरग्रैंड कंपनी को गिरानी होंगी 39 इमारतें, शेयर्स में ट्रेडिंग भी की गई सस्पेंड

1000 रुपये को बनाया 76.43 करोड़
बिटकॉइन के लिए पिछले 13 साल काफी उतारचढ़ाव वाले रहे। इस दौरान इसने कई दोस्त और दुश्मन बनाए। बिटकॉइन के अब तक के रिटर्न को कैल्कुलेट करना असंभव है क्योंकि इसकी शुरुआत जीरो के साथ हुई थी। जुलाई 2010 में इसकी कीमत 0.09 डॉलर पहुंची और पिछले साल नवंबर में यह 68,790 डॉलर के ऑल टाइम हाई पर पहुंची थी।

बिटकॉइन ने पिछले 13 साल में भारी भरकम रिटर्न दिया है। यानी शुरुआत में इसमें 1000 रुपये का निवेश नवंबर 2021 में 76.43 करोड़ रुपये बन गया होता। itsblockchain के फाउंडर हितेश मालवीय का कहना है कि पिछले 13 साल में बिटकॉइन में भारी उतारचढ़ाव आए और आज भी यह अपने वजूद के लिए संघर्ष कर रही है। पिछले दो साल मे बिटकॉइन के निवेशकों में काफी बदलाव आया है। अब रिटेल के बजाय इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स इसमें दांव लगा रहे हैं।

टाटा ग्रुप के इन दो शेयरों में एक साल में दिया 2,400% से ज्यादा रिटर्न, क्या आपके पास हैं!

अल साल्वाडोर ने दी मान्यता
इंस्टीट्यूशनल और रिटेल निवेशकों की बढ़ती दिलचस्पी का ही नतीजा है कि बिटकॉइन का मार्केट कैप एक लाख करोड़ डॉलर के पार पहुंच चुका है। दुनिया के सबसे बड़े रईस एलन मस्क (Elon Musk) की कंपनी टेस्ला (Tesla) के साथ-साथ Square और MicroStrategy जैसी कंपनियों ने भी बिटकॉइन को सपोर्ट किया है। Morgan Stanley अपने कुछ अमीर ग्राहकों को बिटकॉइन फंड्स का एक्सेस देने वाला पहला बैंक बना था।

2021 में लैटिन अमेरिकी देश अल साल्वाडोर (El Salvador) बिटकॉइन को कानूनी मान्यता देने वाला पहला देश बना था। वहां गुड्स और टैक्स के पेमेंट में बिटकॉइन का इस्तेमाल किया जा सकता है। साथ ही क्रिप्टो एक्सचेंजेज को भी कैपिटल गेन्स टैक्स से अलग रखा गया है। पिछले साल अक्टूबर में ही न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज में पहले बिटकॉइन ईटीएफ ने ‘BITO’ के नाम से शुरुआत की।

राजनीति की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – राजनीति
News