बिहार: बोधगया को बम से दहलाने की साज़िश रची गयी

0

गणतंत्र दिवस का दिन नजदीक है. देश की राजधानी दिल्ली में आतंकियों हमलों को लेकर सतर्क होना वाजिब है. यही कारण है कि कई बड़े शहरों में सेनानियों की सुरक्षा मजबूत कर दी गयी है. लेकिन विरोधी देश हमला करने का समय कहाँ देखते हैं. 26 जनवरी तो अभी नहीं आया, लेकिन भारत के जाने-माने पर्यटक स्थल को बम से दहलाने की साजिश जरूर सामने आ गयी है.

बिहार के बोधगया को बम से दहलाने का मामला सामने आया है. बोध गया में स्थित महाबोधि मंदिर का ये मामला है. अकसर बिहार के लोग छठ पूजा जैसे बड़े पर्व को मनाने के लिए इस मंदिर में हर साल जाते हैं. भारत के प्रमुख स्थलों में से एक महाबोधि मंदिर पर हर साल पर्व पर लाखों लोगों का जमावड़ा देखने को मिलता है. संदिग्ध आतंकियों ने महाबोधि मंदिर परिसर के आसपात तीन जगहों पर विस्फोटक छुपा रखे थे. कालचक्र मैदान के गेट नम्बर चार के पास से एक विस्फोटक और दो उससे कुछ दूरी पर रखे गए थे.

कई बार महाबोधि मंदिर को बम से उड़ाने की साजिश रची गयी थी. हमारे सुरक्षाबलों की वजह से हालाँकि आतंकियों की ये नयी साजिश नाकाम हो गई है. बम मिलने के बाद इसे निरंजना नदी में रखा गया है. पुलिस जांच में तीन संदिग्धों को भी सीसीटीवी में देखा गया है. शाम साढ़े चार बजे ये तीनों संदिग्ध मंदिर में प्रवेश करते देखे गए. इन तीनों में दो भारतीय और एक नेपाली शामिल हैं. इसी दौरान लावारिस हालत में वहां एक बैग मिला. संदिग्ध वस्तु दिखने के बाद तत्काल बम निरोधक दस्ता को बुलाया गया. स्कैन करने पर केन में विस्फोटक की बात सामने आई. इसके बाद तलाशी का दायरा बढ़ा दिया गया. पुलिस के मुताबिक श्रीलंका मॉनिस्ट्री के पास चौराहे के करीब एक पेड़ के चबूतरे के नीचे बैग में रखा दूसरा विस्फोटक मिला. साथ ही महाबोधि मंदिर के बाहर लाल चबूतरा के पास भी ऐसा ही एक थैला दिखा. जांच में इसमें भी विस्फोटक होने की बात सामने आई.

मंदिर के आस-पास सुरक्षा पहले से ज्यादा मजबूत कर दी गयी है. मंदिर में किसी यात्री प्रवेश होने से पहले सही तरह से जांच की जा रही है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × 2 =