Bihar Panchayat Election: दो से ज्यादा बच्चे वाले भी लड़ सकेंगे बिहार पंचायत चुनाव, कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाने वाले भी डालेंगे वोट

75

Bihar Panchayat Election: दो से ज्यादा बच्चे वाले भी लड़ सकेंगे बिहार पंचायत चुनाव, कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाने वाले भी डालेंगे वोट

पटना
बिहार पंचायत चुनाव की तारीखों का ऐलान हो चुका है। नीतीश कुमार सरकार ने कैबिनेट की बैठक (Nitish Kumar Cabinet Decision) में पंचायत चुनाव के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। सूबे में 11 चरणों में मतदान (Bihar Panchayat Election Schedule) होंगे। सबसे पहले उन जिलों में चुनाव होंगे जहां बाढ़ की समस्या (Bihar Flood) नहीं है। बाढ़ प्रभावित इलाकों में आखिरी फेज में वोटिंग कराने की तैयारी है।


24 अगस्त को बिहार पंचायत चुनाव की अधिसूचना (Bihar Panchayat Chunav) जारी हो जाएगी। 24 सितंबर को पहले फेज की वोटिंग होगी, कुल 11 चरणों में चुनाव कराए जाएंगे। आखिरी फेज की वोटिंग 12 दिसंबर को होगी। छह पदों के लिए ग्राम पंचायत और ग्राम कचहरी के चुनाव होने हैं। इनमें मुखिया, पंचायत समिति सदस्य, जिला परिषद सदस्य, वार्ड सदस्य, सरपंच और पंच के पद शामिल हैं। कोरोना काल में होने वाले बिहार पंचायत चुनाव में खास बात यह भी है कि दो से ज्यादा बच्चे वाले भी चुनाव लड़ सकेंगे और जिनके वैक्सीन नहीं लगी है, वो भी वोट डाल सकेंगे।

बिहार पंचायत चुनाव में हर पोलिंग बूथ पर लगेगी बायोमेट्रिक मशीन, ऐसे करेगी फर्जी वोटर की पहचान

‘दो से ज्यादा बच्चे वाले चुनाव भी लड़ सकेंगे और वोट भी डाल सकेंगे’
पहले चर्चा थी कि पंचायतीराज अधिनियम में संशोधन के बाद दो बच्चों से अधिक वाले माता-पिता को चुनाव लड़ने से वंचित किया जा सकता है। लेकिन, अबतक इस प्रकार का कोई संशोधन नहीं किया जा सका है। राज्य निर्वाचन आयोग के सूत्रों ने बताया कि इस संबंध में ग्रामीण क्षेत्रों में जारी चर्चा केवल अफवाह है। दो से ज्यादा बच्चे वाले चुनाव भी लड़ सकेंगे और वोट भी डाल सकेंगे।

बिहार पंचायत चुनाव में इन 36 चिन्हों के सहारे अपनी किस्मत आजमाएंगे मुखिया पद के प्रत्याशी… यहां देखिए पूरी लिस्ट

चुनाव में 1 लाख 88 हज़ार EVM की पड़ेगी जरूरत
जानकारी के अनुसार, बिहार पंचायत चुनाव में 1 लाख 88 हज़ार EVM की जरूरत पड़ेगी। बताया गया कि देश के 30 राज्यों से ईवीएम मंगाए गए हैं, जिन्हें राज्य के सभी जिलों में पहुंचा दिया गया है। राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से मिली जानकारी के अनुसार, चुनाव के दौरान नगर निकाय में जुड़ने वाले पंचायत के वोटर और बूथ को हटाया जाएगा। मुखिया वार्ड मेंबर पंचायत समिति और जिला परिषद की वोटिंग ईवीएम से तो पंच और सरपंच पद के लिए वोटिंग बैलेट पेपर से कराया जाएगा। राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से यह भी बताया गया कि इसके लिए आरक्षण रोस्टर सीट को डिजिटल फॉर्मेट में तैयार किया जा रहा है।

पंचायत चुनाव की तारीख का शेड्यूल देखिए…

वोटिंग का फेज मतदान की तारीख
पहला चरण 24 सितंबर
दूसरा चरण 29 सितंबर
तीसरा चरण 08 अक्टूबर
चौथा चरण 20 अक्टूबर
5वां चरण 24 अक्टूबर
6वां चरण 03 नवंबर
7वां चरण 15 नवंबर
8वां चरण 24 नवंबर
9वां चरण 29 नवंबर
10वां चरण 08 दिसंबर
11वां चरण 12 दिसंबर

6 पदों के लिए 129 चुनाव चिन्ह भी घोषित
त्रिस्तरीय बिहार पंचायत चुनाव 2021 में करीब 10 लाख उम्मीदवार विभिन्न पदों के लिए अपना भाग्य आजमाएंगे। गौरतलब है कि इस बार 6 पदों के लिए जिनमें मुखिया, पंच, सरपंच, वार्ड सदस्य, पंचायत समिति सदस्य और जिला पंचायत सदस्य के पद शामिल हैं, के लिए चुनाव होंगे। निर्वाचन आयोग ने सभी 6 पदों के लिए 129 चुनाव चिन्ह भी घोषित कर दिया है। इसके अलावा निर्वाचन आयोग ने 14 चुनाव चिन्ह सुरक्षित भी रखे हैं ताकि उम्मीदवारों की ओर से चुनाव चिन्ह बदले जाने का आग्रह किए जाने के बाद बदला जा सके।

Bihar Panchayat Chunav 2021: पंचायत चुनाव पर बीजेपी का खास फोकस, प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में पार्टी ने लिए ये बड़े फैसले

2 लाख 59 हज़ार 260 पदों पर होना है निर्वाचन
बिहार पंचायत चुनाव 2021 में इस बार कुल 2 लाख 59 हज़ार 260 पदों पर निर्वाचन होना है। इसमें मुखिया के 8,387 पद, सरपंच के 8,387 पद, वार्ड सदस्य के 1 लाख 14 हज़ार 667 पद, पंचायत समिति सदस्य के लिए 11 हज़ार 491 पद, जिला परिषद सदस्य के 1161 और पंच के 1 लाख 14 हज़ार 667 पदों के लिए चुनाव होना है।

सांकेतिक तस्वीर

बिहार की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Delhi News

Source link