महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री जी की बेटी हैं भूमि पेडनेकर, ऑडिशन लेते-लेते खुद बन गईं हिरोइन

282
महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री जी की बेटी हैं भूमि पेडनेकर, ऑडिशन लेते-लेते खुद बन गईं हिरोइन

महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री जी की बेटी हैं भूमि पेडनेकर, ऑडिशन लेते-लेते खुद बन गईं हिरोइन

भूमि पेडनेकर आज सोमवार को अपना बर्थडे सेलिब्रेट कर रही हैं। महाराष्ट्र के मंत्री जी की बेटी रहीं भूमि ने अपनी पहली फिल्म ‘दम लगा के हईशा’ से सबका दिल जीत लिया, जिस रोल के लिए वह बाकी लड़कियों का ऑडिशन ले रही थीं।

 

महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री जी की बेटी हैं भूमि पेडनेकर
भूमि पेडनेकर आज 18 जुलाई को अपना 33वां जन्मदिन सेलसिब्रेट कर रही हैं। साल 2015 में आयुष्मान खुराना के साथ उनकी फिल्म ‘दम लगा के हईशा’ में पहली बार पर्दे पर लोगों को एक ऐसी हिरोइन दिखीं, जो दिखने में थुलथुल और छोटे शहर की सीधी-सादी सिंपल सी लड़की थी। अमूमन हिरोइन को लेकर जैसा अब तक कहा और सुना जाता रहा है, उससे काफी अलग। वह बाकी हिरोइनों की तरह पर्दे पर स्लिम-ट्रिम और ग्लैमरस तो कतई न दिखीं, लेकिन इसके बावजूद ऑडियंस से उन्हें भरपूर प्यार मिला। आयुष्मान के साथ भूमि की इस जोड़ी को लोगों ने खूब पसंद किया और यहीं से शुरू हो गया उनकी फिल्मों का सफर। हालांकि, आपक जानकर हैरानी होगी कि भूमि पेडनेकर ने इसी फिल्म के लीड रोल के लिए तकरीबन 100 लड़कियों का ऑडिशन लिया था और बाद में इसी रोल के लिए उन्हें सिलेक्ट कर लिया गया। भूमि का बैकग्राउंड भी काफी मजबूत रहा है। उनके पापा महाराष्ट्र के पूर्व गृह और श्रम मंत्री हुआ करते थे और मां सुमित्रा एंटी टोबैको ऐक्टिविस्ट रही हैं। मां एंटी टोबैको ऐक्टिविस्ट यूं ही नहीं बनीं बल्कि इसके पीछे एक दर्दनाक कहानी रही है।

‘दम लगा के हईशा’ के लिए भूमि ने सौकड़ों लड़कियों का लिया था ऑडिशन
फिल्म ‘दम लगा के हईशा’ में डेब्यू करने से पहले यशराज फिल्म्स के कास्टिंग डिपार्टमेंट में काम करती थीं भूमि। फिल्म में डेब्यू से पहले भूमि करीब 6 साल से वहां काम कर रही थीं और ढेर सारे ऐक्टर्स का कास्ट कर चुकी थीं। फिल्म ‘दम लगा के हईशा’ की लीड ऐक्ट्रेस के लिए भी उन्होंने 100 से अधिक लड़कियों का ऑडिशन लिया। अंत में भूमि को इस रोल के लिए खुद ही कास्ट कर लिया गया। फिल्म के डायरेक्टर शरत कटारिया को लगा कि इस रोल के लिए भूमि से बेहतर कोई और नहीं और वह काफी टैलेंटेड भी हैं।

भूमि ने कभी नहीं सोचा कि ऑडिशन लेते-लेते फिल्म मिल जाएगी
हालांकि, भूमि ने एक इंटरव्यू में बताया था कि इस फिल्म के लिए जब वह लड़कियों का ऑडिशन ले रही थीं तो उस दौरान उन्हें कभी अपना खयाल आया ही नहीं कि वह भी इसे कर सकती हैं। खैर, इस फिल्म में उन्हें लीड रोल मिला भी और उन्होंने अपना शानदार परफॉर्मेंस भी दिखाया। इसके बाद उन्होंने ‘टॉयलेट: एक प्रेम कथा’ और ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ जैसी कई लाजवाब फिल्मों में काम किया। भूमि ने फिर कभी अपने सफर की तरफ पलट कर नहीं देखा।

भूमि के पापा थे महाराष्ट्र के होम और लेबर मिनिस्टर
18 जुलाई 1989 को पैदा हुईं भूमि पेडनेकर कोंकणी और हरियाणवी मूल से जुड़ी हैं। उनके पापा सतीश पेडनेकर पापा महाराष्ट्र के होम और लेबर मिनिस्टर हुआ करते थे। भूमि ने अपना बचपन पॉलिटिकल माहौल के बीच जीया है। हालांकि, भूमि तब 18 साल की ही थीं जब उनके पापा का निधन हो गया। साल 2011 में भूमि पापा के यूं चले जाने की वजह से अंदर तक टूट गई थीं। जिंदगी में आगे बढ़ने के लिए उनके पास मेहनत और काम के अलावा कुछ और नहीं था। बताया जाता है कि भूमि के पिता का निधन कैंसर की वजह से हुआ था। इस बीमारी में भूमि और परिवार वालों ने उनकी तड़प भी देखी थी, जिसकी वजह से वह काफी परेशान रहा करते थे।

इस दर्दनाक घटना की वजह से मां ने एंटी टोबैको अभियान का झंडा थाम लिया
इस घटना ने पूरे परिवार को तोड़कर रख दिया, लेकिन आगे मजबूती के साथ बढ़ने की हिम्मत भी दी। एक तरफ भूमि जमकर मेहनत करने लगीं और दूसरी तरफ मां ने अपने हसबैंड की असामयिक मौत की वजह से एंटी टोबैको का झंडा हाथ में उठा लिया। वह सोशल ऐक्टिविस्ट के तौर पर लोगों को टोबैको से होनेवाली खतरनाक बीमारी के खिलाफ जानकारियां देने लगीं और एंटी टोबैको अभियान में शामिल हो गईं।

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए NBT फेसबुकपेज लाइक करें
Web Title : bhumi pednekar took over 100 auditions for dum laga ke haisha her father was a former home and labour minister of maharashtra
Hindi News from Navbharat Times, TIL Network

Source link