Bhind: प्रीतम लोधी की रैली में पुलिस पर हमला, आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल, गाड़ी में भी ब्लास्ट

56
Bhind: प्रीतम लोधी की रैली में पुलिस पर हमला, आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल, गाड़ी में भी ब्लास्ट


Bhind: प्रीतम लोधी की रैली में पुलिस पर हमला, आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल, गाड़ी में भी ब्लास्ट

भिंड: ब्राह्मणों के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणी करने वाले प्रीतम लोधी (pritam lodhi rally in bhind without permission) को बीजेपी ने पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया है। इसके बाद ओबीसी वर्ग में नाराजगी है। ओबीसी नेता लगातार बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ बयानबाजी कर रहे हैं। वहीं, भिंड में ओबीसी महासभा की तरफ से एक रैली निकाली गई। इस रैली में भीड़ ने पुलिसकर्मियों पर पथराव और हमला कर दिया है। घटना में आधा दर्जन से अधिकर पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। पुलिस के एक वाहन में हल्का ब्लास्ट भी हुई है। ओबीसी महासभा की ओर से यह रैली निकाली जा रही थी।


ओबीसी महासभा की रैली का नेतृत्व बीजेपी से निष्कासित प्रीतम सिंह लोधी कर रहे थे। इस रैली को प्रशासन ने अनुमति नहीं दी थी, इसके बावजूद प्रीतम सिंह रैली निकाल रहे थे। ये रैली जब सुभाष तिराहे पर पहुंची तो यहां मौजूद डीएसपी अरविंद शाह ने रैली का रूट डायवर्ट करने की कोशिश की और यहीं से बात बिगड़ गई। रूट डायवर्ट करने की बात पर रैली में मौजूद लोग उग्र हो गए और उन्होंने पुलिसकर्मियों पर हमला बोल दिया।

भीड़ ने पुलिसकर्मियों पर पथराव कर दिया और लाठी-डंडों से हमला कर दिया। इस हमले में आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल हो गए। घायलों को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भेजा गया है। इस मामले में एडिशनल एसपी कमलेश खुरपुसे का कहना है कि बिना अनुमति के रैली निकाली गई थी और रैली में मौजूद लोगों ने पुलिस पर पथराव कर दिया इसलिए कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब है कि प्रीतम सिंह लोधी के निष्कासन पर बीजेपी के अंदर से भी आवाज उठ रही है। वह पूर्व सीएम उमा भारती के करीबी हैं। लोधी को पार्टी ने ब्राह्मणों पर टिप्पणी को लेकर बाहर का रास्ता दिखाया है। इसके बाद बागेश्वर धाम के महाराज ने भी लोधी के खिलाफ बयानबाजी की है। लोधी पर कार्रवाई के कारण ओबीसी समाज शिवराज सरकार से फिलहाल नाराज दिख रही है।

इसे भी पढ़ें

Madhya Pradesh BJP: प्रीतम लोधी बीजेपी से निष्कासित, ब्राह्मणों पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर एक्शन



Source link