Bharatpur News: राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल बना जंग का मैदान, हंगामा देख मंत्री भी बिना समापन किए लौटे

0
64

Bharatpur News: राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल बना जंग का मैदान, हंगामा देख मंत्री भी बिना समापन किए लौटे

भरतपुर : राजस्थान के भरतपुर शहर के लोहागढ़ स्टेडियम में आयोजित राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल शनिवार को हंगाम के भेंट चढ़ गया। खेल का मैदान उस समय जंग का मैदान बन गया जब एक टीम के खिलाड़ियों ने गड़बड़ी का आरोप लगा दिया था। खिलाड़ियों ने जमकर हंगामा खड़ा कर दिया और नारेबाजी शुरू कर दी। ओलंपिक खेल का समापन करने पहुंचे कैबिनेट मंत्री विश्वेंद्र सिंह हंगामा देख वहां से निकल गए।

क्यों हुआ विवाद?

राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल का समापन शनिवार को लोहागढ़ स्टेडियम में होना था। कबड्डी का सेमीफाइनल गेम सेवर और कासौट गांव की टीमों के बीच हुआ था। जिसे कुछ कारणों की वजह से रद्द कर दिया था। लेकिन बाद में जब मैच कराया गया तक कासौट गांव की टीम ने कम समय देने का आरोप लगाया था। शनिवार को प्रतियोगिता के समापन के अवसर पर जब फाइनल मैच होना था तो कासौट टीम ने गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए हंगामा खड़ा कर दिया था। हंगामे के बाद चारों तरफ अफरा-तफरी मच गई थी। पुलिस को भी बल प्रयोग करना पड़ा।
Rajasthan Politics: मंत्री मुरारी बोले- मर सकता हूं लेकिन भाजपा में नहीं जाऊंगा, एक ही मंच पर दिखे दोनों गुट के मंत्री
मंत्री पहुंचे थे समापन करने

राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल का समापन करने के लिए कैबिनेट मंत्री विश्वेंद्र सिंह पहुंचे थे। लेकिन इसी बीच खिलाड़ियों द्वारा की जा रही नारेबाजी और हंगामे को देख मंत्री वहां से वापस लौट गए। हालांकि खिलाड़ी मंत्री के पक्ष में जयकारे लगाकर इस गड़बड़ी की जांच की मांग कर रहे थे। फिलहाल इस मैच को शाम तक के लिए टाल दिया गया है। विरोध प्रदर्शन कर रहे खिलाड़ियों को अधिकारियों द्वारा आश्वासन दिया गया है कि यदि गड़बड़ी हुई है तो वह इसका सबूत पेश करें।

क्या कहना है अधिकारी का

Copy

जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी श्रीनिधि बीटी ने बताया कि राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक प्रतियोगिता का समापन होना था। खिलाड़ियों की एक टीम ने विरोध कर दिया। खिलाड़ियों की समझाइश की जा रही है। समापन करने आए कैबिनेट मंत्री विश्वेंद्र सिंह भी नाराज होकर लौट गए हैं। कबड्डी की दो टीमों के बीच विवाद हुआ था।
navbharat times -मैं राजस्थान का हूं, कैसे दूर हो सकता हूं, गहलोत ने किया रुख साफ, नहीं छोडेंगे CM की कुर्सी!
जिला खेल अधिकारी पर उठ रहे सवाल

विरोध प्रदर्शन और हंगामा कर रहे खिलाड़ियों ने जिला खेल अधिकारी और कोच पर गड़बड़ी का आरोप लगाया। खिलाड़ियों ने कहा कि जब दो टीमों के बीच मैच होता है तो एक हार और एक जीत होती है। लेकिन प्रतियोगिता में भाग ले रहे कोच और पीटीआई गड़बड़ी कर रहे हैं। यहां पक्षपात किया जा रहा है।
navbharat times -Rajasthan Politics : हर परिस्थिति से निपटने में माहिर गहलोत पूरा करें कार्यकाल- मंत्री विश्वेन्द्र सिंह
मंत्री ने कहा आयोजक ही खेल बिगाड़ रहे

इस मामले पर कैबिनेट मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने कहा कि राज्य सरकार का उद्देश्य राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल के जरिए लोगों के बीच खेल की भावना को पैदा करना है। लेकिन यहां आयोजित खेल को खेल के आयोजक ही खराब कर रहे हैं। जिला खेल अधिकारी सत्य प्रकाश लुहाच और राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल प्रतियोगिता के नोडल अधिकारी श्रीनिधि बीटी खेल को बिगाड़ने के लिए जिम्मेदार है।

Rajasthan Congress Crisis: गहलोत ने किया गेम या गांधी परिवार का दांव पड़ा उल्टा? राजस्थान का खेल समझिए

राजस्थान की और समाचार देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Rajasthan News