बंगाल बीजेपी ने टीएमसी पर लगाए विधायक और वर्करों पर हमले के आरोप, पुलिस बोली- ऐसा कुछ नहीं हुआ

0
333
बंगाल बीजेपी ने टीएमसी पर लगाए विधायक और वर्करों पर हमले के आरोप, पुलिस बोली- ऐसा कुछ नहीं हुआ

बंगाल बीजेपी ने टीएमसी पर लगाए विधायक और वर्करों पर हमले के आरोप, पुलिस बोली- ऐसा कुछ नहीं हुआ

बंगाल विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद से ही राज्य में जारी खूनी खेल अब दो महीने के बाद भी थमता नहीं दिख रहा है। बंगाल बीजेपी ने एक बार फिर से आरोप लगाया है कि तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने उनके विधायकों और कार्यकर्ताओं पर हमला करवाया है। आरोप है कि बीजेपी विधायक दिबाकर घरामी पर बांकुरा जिले में टीएमसी समर्थकों ने हमला बोल दिया। हालांकि, इससे उलट राज्य की पुलिस का कहना है कि ऐसा कोई हमला नहीं हुआ है।

राज्य में नेता प्रतिपक्ष बीजेपी विधायक शुभेंदु अधिकारी ने ट्वीट कर यह बताया है कि घरामी के अलावा सात अन्य बीजेपी कार्यकर्ताओं को भी टीएमसी के गुंडों ने पीटकर घायल किया है।  शुभेंदु ने ट्वीट किया, ‘सोनमुखी विधायक दिबाकर पर टीएमसी के गुंडों ने माणिकबाजार पंचायत इलाके में हमला किया। उनके साथ 7 अन्य बीजेपी कार्यकर्ता भी हमले में गंभीर रूप से घायल हो गए हैं, जिन्हें बांकुरा मेडिकल कॉलेज भेजा गया है। एक विधायक भी गैर-विधायक मुख्यमंत्री के जंगल राज में सुरक्षित नहीं है। भयावह!’

पुलिस का दावा कुछ और

Copy

हालांकि, एडिशनल सुप्रीनटेंडेंट ऑफ पुलिस गणेश बिस्वास ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया कि उन्हें ऐसे किसी भी हमले के बारे में कोई जानकारी नहीं है। खुद विष्णुपुर के बीजेपी जिला अध्यक्ष सुजीत अगस्थी ने कहा कि घरामी पर प्रत्यक्ष हमला नहीं हुआ बल्कि बीजेपी कार्यकर्ताओं पर माणिकबाजार पंचायल इलाके में रविवार शाम हमला हुआ था। अगस्थी ने यह भी आरोप लगाया कि हमले की शिकायत के लिए बीजेपी कार्यकर्ता सोनमुखी पुलिस स्टेशन गए थे लेकिन उनके ही दो लोगों को हिरासत में ले लिया गया था।

भाजपा के बिष्णुपुर के आयोजन जिलाध्यक्ष सुजीत अगस्ती ने कहा कि घरामी पर शारीरिक हमला नहीं किया गया था। उन्होंने दावा किया कि रविवार शाम को मानिकबाजार पंचायत क्षेत्र में एक बैठक के दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमला हुआ था। अगस्ती ने आरोप लगाया कि भाजपा कार्यकर्ता जब सोनमुखी पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराने गए तो उनमें से दो को हिरासत में ले लिया गया। तृणमूल कांग्रेस के एक जिला नेता ने कहा कि अधिकारी ‘झूठ’ बोल रहे हैं और तृणमूल कांग्रेस ने ऐसा कोई हमला नहीं किया है।

बता दें कि शुभेंदु ने बीजेपी विधायक दिबाकर घरामी पर हुए जानलेवा हमले का आरोप टीएमसी पर लगाया है। उनका कहना है कि यह हमला टीएमसी ने करवाया है। अपने एक ट्वीट में नंदीग्राम विधायक ने टीएमसी कार्यकर्ताओं के साथ कथित विवाद में घायल हुए भाजपा कार्यकर्ताओं की तस्वीरें पोस्ट की हैं।

ममता की बढ़ रहीं मुश्किलें

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की मुश्किलें अब कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। एक तरफ राज्य में बीजेपी लगातार उन पर हिंसक हमलों के आरोप लगा रही है वहीं, दूसरी तरफ हाई कोर्ट की तरफ से भी सख्त रवैया देखने को मिला है। बता दें कि  5 सदस्यीय बेंच ने चुनाव के बाद हुई हिंसा के पीड़ितों के सभी केस दर्ज करने का आदेश दिया है। इसके अलावा पहले सिविल सोसायटी ने एक रिपोर्ट सौंपी थी जिसमें ममता बनर्जी और बंगाल सरकार पर चुनाव के बाद हुई हिंसा के लिए जिम्मेदार ठहराया गया था

यह भी पढ़ें: इतिहास या विज्ञान कौन सा विषय़ ज्यादा महत्वपूर्ण है ?

Today latest news in hindi के लिए लिए हमे फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम में फॉलो करे | Get all Breaking News in Hindi related to live update of politics News in hindi, sports hindi news, Bollywood Hindi News, technology and education etc.

Source link