Begusarai News: पति का आरोप- पत्नी और बेटी से कराया जा रहा गंदा काम, धर्मांतरण का भी बना रहे दबाव, एसपी बोले- सब झूठ है

0
161

Begusarai News: पति का आरोप- पत्नी और बेटी से कराया जा रहा गंदा काम, धर्मांतरण का भी बना रहे दबाव, एसपी बोले- सब झूठ है

बेगूसराय: बिहार के बेगूसराय से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। आरोप है कि यहां पर तीन मुस्लिम युवकों ने मां-बेटी से रेप किया है। आरोप है कि धर्म परिवर्तन के लिए दबाव भी बनाया जा रहा है। हालांकि बेगूसराय एसपी ने आरोपों को बेबुनियाद बताया है। एसपी का कहना है कि पुलिस जांच में महिला और उसकी बेटी ने अपने पति और ससुर पर प्रताड़ित करने और मारपीट करने का आरोप लगाया है। जो भी आरोप लगाया जा रहा है सब झूठ है।

क्या है मामला
दरअसल, पूरा मामला सिंघौल थाना के एक गांव की है। आरोप है कि मुस्लिम बहुल इलाके के युवकों द्वारा एक परिवार पर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाया जा रहा है। पीड़िता के पति ने आरोप लगाते हुए कहा है कि पिछले दो वर्षों से गांव के तीन युवकों ने मेरी पत्नी को बहला फुसलाकर कब्जे में लेकर देह व्यापार करवाना शुरू कर दिया। उक्त सभी आरोपियों के बहकावे में आकर मेरी पत्नी ने बड़ी बेटी को भी सभी के चंगुल में फंसा दिया। पीड़िता के पति ने बताया कि 22 जुलाई को तीन युवकों के द्वारा उसकी पत्नी और बेटी के साथ खेत में ले जाकर दुष्कर्म किया गया, जब इसकी शिकायत उसने सिंघौल थाने में करने गया तो वहां से बिना शिकायत दर्ज किए ही वापस कर दिया गया, इसके बाद तीनों आरोपियों ने उसकी पत्नी और शादीशुदा बेटी को अगवा कर लिया।

पुलिस ने नहीं की कार्रवाई तो पहुंचे कोर्ट
इधर, थाने में शिकायत दर्ज नहीं होने के बाद पीड़ित ने 25 जुलाई को बेगूसराय सीजीएम न्यायालय में मुकदमा दर्ज करने के लिए आवेदन दिया है। पीड़ित के अधिवक्ता विश्वंभर झा ने कहा कि पीड़ित के आवेदन सीजीएम न्यायालय में पेश किया गया, जहां कोर्ट ने थानाध्यक्ष को बुलाया है। फिलहाल मिसलेनियस 21/22 के तहत मामला कोर्ट में है। पीड़ित ने आरोप लगाया है कि मुस्लिम बहुल इलाके में मुस्लिम युवकों के द्वारा उसकी पत्नी और बेटी के साथ दुष्कर्म किया गया। इसके बाद बहला फुसलाकर उससे देह व्यापार करवाया जाता है। विरोध करने पर जान से मारने की धमकी के साथ-साथ धर्म परिवर्तन के लिए कहा जा रहा है। हालांकि कोर्ट में दिए गए आवेदन में दुष्कर्म करने और अगवा करने की बात लिखी गई है, लेकिन धर्म परिवर्तन की बात वादी ने बाद में कही है।

एसपी ने किया आरोपों का खंडन
इधर, मामला सामने आने के बाद इस बाबत जह बेगूसराय एसपी योगेन्द्र कुमार से पूछा गया तो उन्होंने आरोपों का खंडन किया। एसपी ने कहा कि महिला और उसकी बेटी शहर में ही रहती है। पुलिस जांच में महिला और उसकी बेटी ने अपने पति और ससुर पर प्रताड़ित और मारपीट करने का आरोप लगाया है। इससे बचने के लिए महिला के पति ने कोर्ट में दुष्कर्म और अपहरण करने की शिकायत की है। एसपी ने कहा कि धर्म परिवर्तन की भी बात कही गई है। उक्त सभी आरोपों को महिला और उसकी बेटी ने खंडन किया है। एसपी के अनुसार, महिला के पति ने अपनी नाबालिग बेटी की भी शादी कर दी थी और बराबर मां-बेटी को प्रताड़ित किया जाता था। ऐसे में उसके पड़ोस के तीन युवक, जो अल्पसंख्यक समुदाय के हैं, वह बीच-बचाव करते थे। इसलिए उन तीनों को आरोपी बनाकर दुष्प्रचार किया गया। एसपी ने कहा कि महिला के पति-ससुर पर मुकदमा दर्ज करने का आदेश दे दिया है। साथ ही सोशल मीडिया पर वायरल करने और तनाव पैदा करने वालों को भी चिन्हित कर कार्रवाई का निर्देश दिया गया है।

Copy

बिहार की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Delhi News