BCCI Central Contract: टीम इंडिया से बाहर चल रहे रहाणे और ईशांत को मिलने वाला है बड़ा झटका, गिल और सूर्या की होगी चांदी!

0
164


BCCI Central Contract: टीम इंडिया से बाहर चल रहे रहाणे और ईशांत को मिलने वाला है बड़ा झटका, गिल और सूर्या की होगी चांदी!

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) टीम से बाहर चल रहे पूर्व उपकप्तान अंजिक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) को एक और झटका देने की तैयारी में है। शीर्ष परिषद की 21 दिसंबर को होने वाली बैठक के दौरान 2022-23 सत्र के सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट सूची को अंतिम रूप दिया जा सकता है। इससे अजिंक्य रहाणे और इशांत शर्मा की छुट्टी करने की तैयारी है। वहीं युवा सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल के साथ ही सूर्यकुमार यादव को प्रमोशन मिल सकता है।

हार्दिक को भी मिल सकता है प्रमोशन

भविष्य के टी20 कप्तान के रूप में पेश किये जा रहे हार्दिक पंड्या को ग्रुप सी से ग्रुप बी में प्रमोशन मिलने की संभावना है। इस बैठक के एजेंडे में 12 मुद्दे सूचीबद्ध है। यह बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित की जाएगी। भारतीय टीम का टी20 विश्व कप और बांग्लादेश वनडे में प्रदर्शन की समीक्षा एजेंडे का हिस्सा नहीं है, लेकिन अगर अध्यक्ष जरूरी समझे तो चर्चा के लिए गैर-सूचीबद्ध मुद्दों पर विचार किया जा सकता है।

इस बैठक में शीर्ष परिषद वी जयदेवन के लिए एकमुश्त भुगतान की भी पुष्टि करेगी। जयदेवन की तैयार की गयी प्रणाली (वीजेडी) का इस्तेमाल बारिश से प्रभावित घरेलू सीमित ओवरों के मैचों में होता है। जिसका वर्षा-नियम सूत्र एक दशक से अधिक समय से घरेलू सफेद गेंद के खेल में उपयोग किया जा रहा है।

साहा को भी मिलेगा झटका

इस बैठक का मुख्य मुद्दा सीनियर पुरुष और महिला टीमों के लिए ‘रीटेनरशिप अनुबंध’ पर चर्चा करना है। भारतीय टीम में जगह बनाने की दौड़ से लगभग बाहर हो चुके पूर्व उपकप्तान रहाणे और तेज गेंदबाज इशांत का सूची से बाहर होना लगभग तय है। विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा को भी सूची से बाहर कर दिया जाएगा क्योंकि उन्हें साल की शुरुआत में बता दिया गया था कि उन्हें फिर से भारत के लिए नहीं चुना जाएगा।

बीसीसीआई चार वर्गों में खिलाड़ियों को केंद्रीय अनुबंध देता है जिसमें ए प्लस (सात करोड़ रुपये सालाना), ग्रुप ए (पांच करोड़ रुपये सालाना) ग्रुप बी (तीन करोड़ रुपये सालाना), और ग्रुप सी (एक करोड़ रुपये सालाना) शामिल हैं। बीसीसीआई खिलाड़ियों अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शन के अलावा कई और मानकों को देखते हुए इस अनुबंध में खिलाड़ियों का वर्गीकरण को निर्धारित करता है। इसमें राष्ट्रीय चयनकर्ताओं के परामर्श करना भी शामिल है।

टी20 में नंबर एक बल्लेबाज हैं सूर्यकुमार

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने गोपनीयता की शर्त पर कहा, ‘सूर्यकुमार ग्रुप सी में है लेकिन पिछले एक साल के प्रदर्शन के बूते ग्रुप ए नहीं तो कम से कम ग्रुप बी में पदोन्नति के हकदार है। वह आईसीसी की मौजूदा टी20 अंतरराष्ट्रीय रैंकिंग में शीर्ष बल्लेबाज हैं और ए टीम में जगह पाने के दावेदार भी है।

गिल अब नियमित तौर पर दो प्रारूप में खेलते है और वह ग्रुप सी से ग्रुप बी में पदोन्नति की उम्मीद कर रहे होंगे। ईशान किशन जैसे बल्लेबाज ने भी पिछले कुछ समय में सीमित ओवरों की दोनों अंतरराष्ट्रीय प्रारूप में कई मैच खेल लिये है। उन्हें इस सूची में जगह मिलना लगभग पक्का है। पंड्या को पिछली सूची में ग्रुप सी में डीमोट (पदावनत) कर दिया गया था क्योंकि चोट के कारण वह उस सत्र में ज्यादा क्रिकेट नहीं खेल पाये थे। वह अब टी20 टीम के कप्तानी करने के दावेदार है और आगामी सूची में वह ग्रुप ए या बी में जगह बना सकते है।

Ind vs Ban: ऋषभ पंत की ‘छुट्टी’, टीम इंडिया को मिला टेस्ट में नया उपकप्तान, केएल राहुल को कमानnavbharat times -IND vs BAN: केएल राहुल ने झाड़ा पल्ला, ऋषभ पंत को उपकप्तानी से हटाए जाने पर दिया अटपटा बयानnavbharat times -Shikhar Dhawan: ईशान किशन के दोहरा शतक पर बोले दिनेश कार्तिक, एक शानदार करियर का दुखद अंत हो सकता है



Source link