बांग्लादेश में बॉर्डर के पास गिरफ्तार की गयी महिला क्रिकेटर के पास मिला ड्रग्स का ज़खीरा

0

बांग्लादेश पुलिस ने म्यांमार बॉर्डर के पास से एक महिला क्रिकेटर को ड्रग्स के साथ रंगे हाथो गिरफ्तार किया है। गिराफ्तार की गयी खिलाड़ी बांग्लादेश महिला क्रिकेट टीम की क्रिकेटर है। ड्रग तस्करी के अपराध में गिरफ्तार की गयी महिला क्रिकेटर का नाम नाज़नीन खान मुक्ता बताया जा रहा है, जो ढाका प्रीमियर लीग में अंसर टीम के लिए खेलती हैं।

इस गिरफ्तारी की सबसे हैरतंगेज़ बात है ड्रग्स की मात्रा। पुलिस ने महिला क्रिकेटर के पास से 14,000 मेथांफेटामाइन टैबलेट बरामद की हैं। यह नशीली दवा होती है, जिसे ड्रग्स के तौर पर नशे के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक नाज़नीन खान मैच खेलकर वापस लौट रही थीं कि तभी चिटगांव में पुलिस ने उनकी बस रोककर तलाशी लेनी शुरू कर दी। इस छानबीन में पुलिस को उनके बैग से ड्रग्स 14000 ड्रग्स की गोलियां मिलीं।

स्थानीय पुलिस चीफ प्रनब चौधरी ने बताया कि तलाशी के दौरान हमने नाज़नीन के पास 14000 गोलियां बरामद की जो कि एक पैकेट में रखी हुई थी। यह मामला सामने आने के बाद महिला क्रिकेटर के खिलाफ ड्रग तस्करी का मामला दर्ज किया जाएगा। ऐसे में उन्हें अधिकतम उम्र कैद की सजा भी हो सकती है।

गौर करने वाली बात यह है कि जिस जगह पुलिस ने बस को रोककर तलाशी ली, वो कॉक्स बाज़ार है जो कि म्यांमार की सीमा के पास है। बता दें कि यहां से लाखों ड्रग्स की गोलियां बनाई जाती है जिसे बांग्लादेश भेजा जाता है।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि म्यांमार में 7,00,000 रोहिंग्या के पलायन के बाद बांग्लादेश में तस्करी काफी बढ़ गई है। अपराधियों का गैंग रोहिंग्या शरणार्थियों का इस्तेमाल कर रहे हैं और उनकी नाव में ड्रग्स भेज रहे हैं। पिछले महीने शुरू हुई इस छानबीन में अब तक 90 लाख ड्रग्स की गोलियां बरामद की जा चुकी हैं। लगातार ड्रग्स की तस्करी बढ़ने के बाद ढाका तस्करी करने वालों के खिलाफ सख्त कानून लाने की तैयारी कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fifteen − four =