अरविंद केजरीवाल ने इस अंदाज में किया दिल्ली पुलिस का बचाव

Arvind Kejriwal
Arvind Kejriwal

इस समय दिल्ली पुलिस की हर जगह किरकिरी हो रही है। जब से यह CAA चर्चा में आया में आया है तब से दिल्ली पुलिस लोगों के निशाने पर है। फिर चाहे जामिया का मामला हो JNU का। लोग हर जगह दिल्ली पुलिस को कोस रहें हैं। लेकिन चौकाने वाली बात है दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल, जो हमेशा दिल्ली पुलिस की बुराई करते रहते हैं, उन्होंने इस बार दिल्ली पुलिस का बचाव किया है। यह बचाव बड़े अजीब तरीके से किया है। आइये इस बारें में विस्तार से जानते हैं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि दिल्ली की खराब कानून व्यवस्था के लिए दिल्ली पुलिस को जिम्मेदार ठहराना ठीक नहीं है। पुलिस वही करती है, उन्हें जो ऊपर से आदेश मिलता है। इस बात का सीधा मतलब है कि वह केंद्र सरकार को इस बारें में कोस रहें है।

उन्होंने कहा कि अगर एक महीने के लिए दिल्ली की पुलिस अगर उन्हें दे दी जाए तो परिणाम लाकर दिखा देंगे। जिस तरह 49 दिन में भ्रष्टाचार को खत्म किया था, उसी तरह दिल्ली की कानून व्यवस्था को सुधार देंगे। मुख्यमंत्री मंगलवार को कनॉट प्लेस स्थित सेंट्रल पार्क में आयोजित टाउन हॉल में आयोजित मीटिंग में जनता के सवालों का जवाब दे रहे थे।

केजरीवाल ने कहा कि पहली बार उनकी 49 दिन की सरकार बनी थी। इसमें भ्रष्टाचार निरोधक शाखा उनके पास थी तो 49 दिन में ही भ्रष्टाचार खत्म हो गया था। AAP दिल्ली पुलिस को देकर देख लो, महीने भर के अंदर नतीजे आ जाएंगे। मैं दिल्ली पुलिस को दोष नहीं देता है।

दिल्ली पुलिस सक्षम हैं। उनके पास आधुनिक तकनीक है। उन्हें खुली छूट देकर देखो, वो अच्छे से अच्छा काम करके दिखाएंगे। आज स्कूलों में वही शिक्षक और प्रधानाचार्य हैं। हमने किसी को नहीं बदला। इस मौके पर उन्होंने पांच साल के कामकाज का रिपोर्ट कार्ड लोगों के सामने रखा।

यह भी पढ़ें: ईरान में विमान क्रैश होने के बाद अब न्यूक्लियर पावर प्लांट के पास भूकंप के झटके

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने पांच साल काम किया। शुरू में तेजी से काम किया। इसके बाद एलजी साहब के पास फाइलें अटकने लगीं तो धरना देना पड़ा। फिर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आया, जिसके बाद से फाइलें तेजी से चल रही हैं।