इस लड़की ने किया कमाल, कमर्शियल प्लेन उड़ाने वाली पहली आदिवासी महिला बनीं, सब हुए गदगद

anupriya madhumita
anupriya madhumita

अनुप्रिया मधुमिता लाकड़ा नाम की प्रतिभाशाली लड़की ने महिला सशक्तिकरण की मिसाल पेश करते हुए स्त्री समाज को गौरवान्वित करने के साथ प्रदेश का नाम रोशन किया है। दरअसल, अनुप्रिया देश की पहली महिला कर्मशियल पायलट बन गई हैं। वह आदिवासी वर्ग से आती हैं और अब इंडिगो एयरलाइंस में सह-पायलट (Co-Pilot) के तौर पर सेवाएं देंगी। यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि अनुप्रिया नक्सल प्रभावित मलकानगिरी जिले की रहने वाली हैं।

First-Women-Pilot-1
First-Women-Pilot-1

27 साल की अनुप्रिया के पिता अनुप्रिया के पिता मॉरिनियास लाकड़ा ओडिशा पुलिस में कॉन्सटेबल हैं जबकी  मां जामज यास्मिन लाकड़ा हाउस वाइफ हैं। अनुप्रिया की दसवीं की पढ़ाई कॉन्वेंट स्कूल और 12वीं की पढ़ाई सेमिलिदुगा के एक स्कूल से हुई है।

अनुप्रिया लाकड़ा बचपन से ही पायलट बनना चाहती थीं। इस ख्वाब को पूरा करने के लिए उन्होंने इंजीनियरिंग की पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी और 2012 में एविएशन एकेडमी ज्वॉइन कर लिया। सात साल तक की ट्रेनिंग के बाद उनका पायलट बनने का ख्वाब पूरा हुआ। अनुप्रिया लाकड़ा की इस उपलब्धि पर परिवार का कहना है कि उनकी बेटी ने परिवार का नाम रोशन करने के साथ ही पूरे राज्य को भी गौरवान्वित किया है।

इसके अलावा ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने अनुप्रिया लाकड़ा को बधाई दी और कहा कि यह दूसरों के लिए एक उदाहरण पेश करेगा। बता दें कि अनुप्रिया नई जगहों पर घूमने का भी शौक रखती हैं।

First-Women-Pilot-2
First-Women-Pilot-2

ये भी पढ़ें : दबंगों के फेर में लड़की की बुलेट bike, दी धमकी