साइकिल ट्रैक तोड़ने पर अखिलेश ने दिया कुछ ऐसा जवाब !

0
साइकिल ट्रैक तोड़ने पर अखिलेश ने दिया कुछ ऐसा जवाब !

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रदेश सरकार पर ईर्ष्या और प्रतिशोध के आधार पर काम करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि साइकिल ट्रैक ध्वस्त करके सरकार गलत निर्णय करेगी।
अगली बार उनकी सरकार बनी तो दुर्घटना में किसी साइकिल यात्री की मृत्यु पर उसके आश्रितों या परिवारीजनों को 10 लाख रुपये की मदद का प्रावधान किया जाएगा। साथ ही सपा सरकार साइकिल पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए भी कड़े कदम उठाएगी। साइकिल यात्रा को प्रोत्साहित करने के लिए ट्रैक का विस्तार होगा।

नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना ने दो दिन पहले संकरे रास्तों पर बने साइकिल ट्रैक को तुड़वाने की बात कही थी। उन्होंने मंगलवार को इसे फिर दोहराया और यह भी कहा कि इस सिलसिले में जल्द ही आदेश जारी होगा।

सपा मुख्यालय से मंगलवार को अखिलेश यादव की तरफ से जारी बयान में खन्ना के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की गई। यादव ने कहा कि साइकिल ट्रैक ध्वस्त करने से दुर्घटनाएं बढ़ेंगी। प्रदूषण में वृद्धि होगी। जन सुविधाओं में कटौती होगी। सरकार को जनता के विरोध का भी सामना करना पड़ेगा। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा लोकतंत्र की धज्जियां उड़ा रही है। एक ओर वह जनता के हितों के विरुद्ध निर्णय ले रही है तो दूसरी ओर जनकल्याण की बात कर रही है।

सपा मुखिया ने कहा कि भाजपा सरकार का विकास विरोधी चरित्र उजागर होता जा रहा है। सपा सरकार ने विकास के जो नए मानक तैयार किए थे, उनको नष्ट करना ही मौजूदा सरकार ने अपना ध्येय बना लिया है। साइकिल ट्रैक ध्वस्त करने की बात करना भी उसी एजेंडे का हिस्सा है। समाजवादी सरकार में पर्यावरण संरक्षण के लिए साइकिल यात्रा को प्रोत्साहित किया गया था।

अखिलेश ने कहा कि साइकिल ट्रैक बनवाने के निर्णय की सराहना विदेशी पर्यटकों ने भी की थी। बच्चों के लिए यह सुरक्षित वाकिंग ट्रैक का भी काम कर सकता है। विकसित देशों में इसका प्रचलन बढ़ा है। प्रदेश की भाजपा सरकार को यह स्मरण रखना चाहिए कि पेरिस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कार्बन उत्सर्जन के प्रदूषण से बचाव के पक्ष में प्रतिबद्धता जाहिर की थी। जब हाल में वे नीदरलैंड यात्रा पर गए थे तो वहां के प्रधानमंत्री ने उन्हें साइकिल भेंट की थी। इसके विपरीत यूपी में भाजपा सरकार साइकिल चलाने वालों को हतोत्साहित करने में जुटी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

sixteen − 7 =