Amritpal Singh Live: कहां छ‍िपा है भगोड़ा अमृतपाल सिंह? करेगा सरेंडर या होगा अरेस्‍ट, जान‍िए बड़े अपडेट

12
Amritpal Singh Live: कहां छ‍िपा है भगोड़ा अमृतपाल सिंह? करेगा सरेंडर या होगा अरेस्‍ट, जान‍िए बड़े अपडेट

Amritpal Singh Live: कहां छ‍िपा है भगोड़ा अमृतपाल सिंह? करेगा सरेंडर या होगा अरेस्‍ट, जान‍िए बड़े अपडेट

चंडीगढ़: खाल‍िस्‍तानी समर्थक और ‘वारिस पंजाब दे’ प्रमुख अमृतपाल स‍िंह पंजाब पुल‍िस की पकड़ से बाहर है। पंजाब पुलिस ने होशियारपुर के कई गावों में अमृतपाल की तलाश में सर्च ऑपरेशन चलाया। लेक‍िन सफलता नहीं म‍िली। इस बीच पंजाब पुलिस ने गुरुवार को अमृतसर समेत राज्य के कई शहरों में नाकाबंदी कर दी। पुल‍िस इंतजार में रही कि कट्टरपंथी अमृतपाल किसी भी वक्त सरेंडर कर सकता है। वहीं अमृतपाल ने पंजाब पुल‍िस को वीड‍ियो जारी कर चुनौती दी है। उधर, कुछ देर पहले पंजाब सरकार ने सिखों की सर्वोच्च धार्मिक संस्था अकाल तख्त को बताया है क‍ि कट्टरपंथी उपदेशक अमृतपाल सिंह के खिलाफ पुलिस कार्रवाई के दौरान हिरासत में लिए गए 360 लोगों में से 348 को अब रिहा कर दिया गया है।

अमृतसर शहर में RPF का फ्लैग मार्च
अमृतपाल स‍िंह के सरेंडर की चर्चा के बीच गुरुवार को रैपिड एक्शन फोर्स ने अमृतसर शहर में फ्लैग मार्च किया। रैपिड एक्शन फोर्स के अस‍िस्‍टेंट कमांडेंट वरुण शर्मा ने बताया क‍ि हमारी टीम यहां पर काफी दिनों से फ्लैग मार्च कर रही है। जनता के बीच में विश्वास कायम करने के लिए हम ऐसे मार्च लागातार करते रहते हैं।
अमृतपाल की तलाश के लिए होशियारपुर के गांव में ड्रोन तैनात
पंजाब पुलिस ने अलगाववादी अमृतपाल सिंह को पकड़ने के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत होशियारपुर जिले के एक गांव में गुरुवार को ड्रोन तैनात किया जहां दो दिन पहले कुछ संदिग्धों ने पुलिस की ओर से पीछा किए जाने के बाद अपनी कार छोड़ दी थी। सूत्रों के मुताबिक मरनैन गांव और उसके आस-पास तैनात पुलिसकर्मी भी कट्टरपंथी अमृतपाल की तलाश में वाहनों की जांच कर रहे हैं। पुलिस ने इलाके में अपना तलाशी अभियान फिर से शुरू किया और गांव में एक ड्रोन तैनात किया। हालांकि, इस पर पुलिस विभाग की ओर से कोई आधिकारिक टिप्पणी नहीं आई है।

क्या अमेरिका में है अमृतपाल सिंह? जारी वीडियो के बाद कयास लगाने में जुटी एजेंसियां
कहां सरेंडर कर सकता है खाल‍िस्‍तानी समर्थक अमृतपाल स‍िंह

इस बीच, पुलिस ने अमृतसर और बठिंडा और उसके आस-पास के इलाकों की सुरक्षा बढ़ा दी है, क्योंकि अमृतपाल सिंह अमृतसर में स्वर्ण मंदिर अथवा बठिंडा में तख्त श्री दमदमा साहिब में प्रवेश करने के बाद आत्मसमर्पण कर सकता है।

Navbharat Times -सर्वश्रेष्ठ कोशिशों के बावजूद अमृतपाल अब तक अरेस्ट नहीं… सरेंडर की खबरों के बीच पंजाब सरकार ने हाई कोर्ट से कहा
पंजाब पुल‍िस के हाथ खाली

पंजाब पुलिस ने मंगलवार रात होशियारपुर के कई गावों में अमृतपाल की तलाश में सर्च ऑपरेशन चलाया। कहा जा रहा था कि अमृतपाल एक चैनल को इंटरव्यू देकर दरबार साहिब में सरेंडर करेगा। पुलिस चाहती थी कि उसे सरेंडर से पहले गिरफ्तार कर लिया जाए। इसी सिलसिले में बुधवार सुबह अमृतसर स्थित दरबार साहिब और तख्त दमदमा साहिब की तरफ जाने वाले रास्तों को सील कर दिया गया।

Navbharat Times -Amritpal Singh: अमृतपाल का वीडियो दिखाने वाला यूट्यब चैनल बैन, यूपी के लखीमपुर खीरी से हुआ था शूट
अमृतपाल ने वीड‍ियो जारी कर क्‍या कहां?
अमृतपाल ने एक वीडियो जारी कर अकाल तख्त जत्थेदार से अपील की कि वैसाखी से अगले दिन सरबत खालसा बुलाएं। उसने देश-विदेश में बसे सिखों से सरबत खालसा में भाग लेने की अपील करते हुए कहा कि काफी समय से हमारी कौम अपने मसलों पर छोटी-छोटी लड़ाई लड़ रही है। अब एकजुट होकर लड़ने का समय आ गया। बता दें कि सरबत खालसा पंथक संकट को हल करने के लिए सिख संगठनों की बुलाई सभा होती है। इसे अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार बुलाते हैं। इसमें संकट का हल तलाशने पर चर्चा होती है। जो फैसला होता है, जत्थेदार कौम को उसका पालन करने को कह देते हैं।

पुलिस की मंशा मुझे गिरफ्तार करने की नहीं थी : अमृतपाल
वीडियो में अमृतपाल ने कहा क‍ि जब मैं 18 मार्च को खालसा वहीर शुरू करने मालवा जा रहा था, तो हजारों पुलिसकर्मियों ने घेर लिया। पुलिस की मंशा गिरफ्तार करने की नहीं थी, इसलिए मैं फरार हो गया। अमृतपाल ने कहा कि वाहेगुरु की कृपा से मैं चढ़दीकला में हूं। हुकूमत ने लोगों में मन में डर पैदा किया है। हकूमत ने जो धक्का किया है उसके खिलाफ आवाज उठाना कौमी फर्ज है। अमृतपाल ने पुलिस कार्रवाई का विरोध करने वाले लोगों का आभार जताते हुए कहा, जहां तक गिरफ्तारी की बात है, तो वह वाहे गुरु के हाथ में है। अगर पंजाब सरकार का इरादा मुझे गिरफ्तार करने का था, तो पुलिस मेरे घर आ सकती थी और मैं मान जाता।

Navbharat Times -जेल में बंद गैंगस्टरों से संबंध, रंगदारी मांगना… अमृतपाल का फाइनेंसर दलजीत कलसी करता था ये काम
पंजाब सरकार ने हिरासत में लिए गए 348 लोग किए रिहा
पंजाब सरकार ने सिखों की सर्वोच्च धार्मिक संस्था अकाल तख्त को बताया किया है कि कट्टरपंथी उपदेशक अमृतपाल सिंह के खिलाफ पुलिस कार्रवाई के दौरान हिरासत में लिए गए 360 लोगों में से 348 को अब रिहा कर दिया गया है। अकाल तख्त के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह के निजी सचिव जसपाल सिंह ने बृहस्पतिवार को कहा कि राज्य सरकार की ओर से संदेश मिला है कि बाकी लोगों को भी जल्द रिहा कर दिया जाएगा। दरअसल इस हफ्ते की शुरुआत में अकाल तख्त के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने पंजाब सरकार को अल्टीमेटम दिया था कि अमृतपाल सिंह और उसके सहयोगियों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई के दौरान पकड़े गए सभी सिख युवकों को रिहा कर दिया जाए।

पंजाब की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Punjab News