यूपी अब बीमार राज्य नहीं रहेगा: अमित शाह

0

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि जिन दलों में आंतरिक लोकतंत्र नहीं होता, वे घराने की पार्टियां बन जातें है। भाजपा में ही आंतरिक लोकतंत्र है। कांग्रेस में सबको पता है कि सोनिया के बाद राहुल गांधी अध्यक्ष होंगे, लेकिन भाजपा में मेरे बाद कौन अध्यक्ष होगा, किसी को नहीं पता।उन्होंने कहा कि पांच साल में यूपी की बीमारू स्टेट से बाहर निकाल देंगे।

भाजपा की सरकार जिस राज्य में बनी वहां विकास दर डबल डिजिट में पहुंच गई। सभी अच्छे मानकों पर भाजपा खरी उतर रही है। अमित शाह ने यह बात रविवार को भारतीय जनता पार्टी के लखनऊ महानगर के एक सम्मेलन में कही। सम्मेलन सइंटिफ़िक कन्वेशन सेंटर में आयोजित किया गया। भाजपा ने राजस्थान और मध्य्प्रदेश को बीमारू राज्य की श्रेणी से बाहर निकाल लिया। अब यूपी को पांच साल में बाहर निकाल लेंगे । लोकसभा में 80 में 73 सीट अगर यूपी नहीं देता तो हमारी सरकार नहीं बनती।

पिछड़ो और दलितों को जोड़ने की कोशिश

भाजपा अपने जनाधार को पिछड़ो और दलितों में बढ़ाने की तैयारी में है । पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सामाजिक समरसता का संदेश देते हुए कहा कि अब सपा व बसपा समर्थक यादव व दलितों को भाजपा से जोड़ने पर फोकस होना चाहिए।अमित शाह ने पार्टी को जन-जन तक पहुंचाने का संकल्प पार्टी के पदाधिकारियों को दिलाया।

बूथ अध्यक्ष के घर किया भोजन

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमिता शाह ने पार्टी के बूथ अध्यक्ष सोनू यादव के घर भोजन कर एक साथ कई संदेश दे दिए । उन्होंने न सिर्फ संगठन के कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाया, बल्कि यह संदेश भी दिया कि भाजपा भी यादवो को खासा महत्व देने जा रही है। उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और डॉ. दिनेश शर्मा भी थे। पार्टी में चर्चा थी कि अमित शाह किसी दलित कार्यकर्ता के घर भोजन पर जा सकते है, लेकिन रविवार को उनका काफिला गोमती नगर की बड़ी जुगाली बस्ती में सोनू यादव के घर पहुंचा । उनके साथ प्रदेश प्रभारी ओम माथुर और पार्टी के नेताओं की भीड़ थी। सोनू यादव अपने बीच पार्टी के इतने बड़े नेताओं को एक साथ पाकर न सिर्फ उनका परिवार, बल्कि पूरी बस्ती के लोग खुश थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

15 − 10 =