अमेरिकी पर्यटक बोले, बहुत सुंदर है रानी की धरती, एक बार फिर आएंगे

0
Bundelkhand News
Bundelkhand News

झाँसी की रानी के नाम से मशहूर लक्ष्मी बाई की जन्मतिथि 19 नवम्बर को थी। इस दौरान बुंदेलखंड में उनके जन्मोत्सव मनाया गया। इसमें देश विदेश से पर्यटक शामिल होने आये। बूड़नेलखण्ड की सुंदरता और यहाँ की कहानियां सुनकर सभी विदेशी सैलानी मुग्ध हो गए।

विश्व धरोहर सप्ताह के अंतर्गत पिछले दिनों राजकीय संग्रहालय में स्मारकों की चित्र प्रदर्शनी लगाई गयी थी, जिसे देखने के लिए बृहस्पतिवार को अमेरिका के पर्यटक आए।

चित्रों और बुंदेलखंड की ख़ूबसूरती देखने के बाद पर्यटकों ने कहा कि चित्रों में नजर आ रहे स्मारक और यह धरती बेहद खूबसूरत है। उन्होंने कहा कि वह बुंदेलखंड में एक बार फिर आएंगे।

आपको बता दें कि राज्य पुरातत्व विभाग, इंटैक और राजकीय संग्रहालय के सहयोग से बुंदेलखंड के प्राचीन स्मारकों के चित्रों की प्रदर्शनी लगायी गयी थी। गुरुवार के दिन बुंदेलखंड युनिवर्सिटी के ललित कला संस्थान के विद्यार्थियों ने भी पुरा स्मारकों के चित्र प्रदर्शनी में लगाए।

इन चित्रों को देखने के लिए अमेरिका से 13 सदस्यीय दल आया था। उन्होंने इन चित्रों के जरिये बुंदेलखंड की वास्तुकला, इतिहास और नक्कासी को देखा, जिसे देखकर वह मुग्ध हो गए। इन 13 व्यक्तियों को ललितपुर देवगढ़ के बौद्ध गुफाओं में स्थित भगवान् बुद्ध की मुर्तियाँ, चंदेल कालीन मंदिर, देवगढ़ में मान स्तंभ, योगिनी के मंदिर, ओरछा के मंदिरों ने अच्छा ख़ासा मोह लिया।

यह भी पढ़ें: यहाँ भैंसों को किडनैप करके मांगी जाती है फ़िरौती

ये अमेरिकी बुंदेलखंड की सुंदरता से प्रभावित तो हुए ही। इसके अलावा हॉलीवुड भी बुंदेलखंड के इतिहास और यहाँ की वीरांगना लक्ष्मी बाई के वीरता से अछूता नहीं है क्योकि अब हॉलीवुड में भी झाँसी के रानी के ऊपर एक फिल्म बन रही है। फिल्म के प्रोडूसर ने कहा कि झाँसी की रानी एक वीर योध्या थी उनकी बहादुरी को पूरे दुनिया के सामने दिखाया जाना चाहिए।