आरजेडी में गर्माया माहौल, तेजस्वी और तेजप्रताप के बीच अनबन, लालू ने दिखाया तेजप्रताप पर भरोसा

0

बिहार: राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव आज अपना 70वां जन्मदिन मना रहें है. पर इस मौके में लालू के परिवार से कुछ इस प्रकार की खबरे आ रही है जिसे सुनकर आप हैरान हो जाओगे. लालू के पुत्र तेजस्वी और तेजप्रताप के बीच मनमुटाव की खबरे खूब सुर्खियां बटोर रही है. लेकिन जिस चीज को लेकर विवाद हुआ है उसमें बड़े बेटे तेजप्रताप यादव की बात को कुछ हद तक स्वीकार कर लिया गया है.

बता दें कि तेजप्रताप के करीबी राजेंद्र पासवान को पार्टी का जनरल सेकेट्ररी नियुक्त कर दिया है. जानकारी के अनुसार, इससे पहले लालू का बड़ा बेटे तेजप्रताप, अपने करीबी दोस्त राजेंद्र पासवान को प्रदेश का अध्यक्ष बनाना चाहते थे, जिसको लेकर यह विवाद हुआ है.

क्या थी विवाद की असली वजह

जानकारी के मुताबिक, आरजेडी के बीच अगले प्रदेश अध्यक्ष को लेकर लालू के दोनों बेटों के बीच मनमुटाव की खबरे आई है. जहां एक तरफ तेज प्रताप अपने करीबी राजेंद्र पासवान को पार्टी का अगला प्रदेश अध्यक्ष बनाना चाहते हैं, वहीं तेजस्वी यादव पूर्व मंत्री शिवचंद्र राम को प्रदेश अध्यक्ष बनाने के पक्ष में है. जिसको लेकर परिवार के दोनों बेटों के बीच झड़प दिखी.

वहीं इस बात को लेकर बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने अपने पिता लालू से बात कि, जिसमें लालू ने कहा की जो तुम्हारी बात है वो भी एक तरह से सही है. जो भी पार्टी में ये लोग कारनामा कर रहे हैं हम उनको देखेंगे. जानकारी के अनुसार, दूसरी तरफ राबड़ी देवी ने कहा कि पार्टी और परिवार में सब कुछ ठीक है, कोई भी विवाद नहीं हुआ है.

यह भी पढ़ें: पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव को मिला तीन दिन का पैरोल, आज शाम की फ्लाइट से जाएंगे पटना

क्या था तेजप्रताप का ट्वीट

सूत्रों के अनुसार, दोनों भाइयों के बीच काफी समय से कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है. जिसका पता शनिवार की सुबह को लगा था, जब तेजप्रताप यादव ने एक ट्वीट के जरिए लिखा खुद को कृष्ण और तेजस्वी को अर्जुन बताया था. इस ट्वीट में तेज प्रताप ने कहा, ‘मेरा सोचना है कि मैं अर्जुन को हस्तिनापुर की गद्दी पर बैठाऊं और खुद द्वारका चला जाऊं. वहीं ट्वीट के बाद तेज प्रताप का एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें वह पार्टी में कोई उनकी बात नहीं सुन रहा है, इसको लेकर नाराज दिखे थे.

विडियो में क्यों नाराज है तेज प्रताप यादव

इस विडियो में लालू के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव आरजेडी नेता राजेंद्र पासवान के बारे में कहा रहें है, जो दलित समाज से आते है. इस विडियो से यह साफ दिखा रहा था कि तेज प्रताप राजेंद्र राम को पार्टी में सम्मानजनक पद देने पर ज्यादा बल दे रहें है. इसमें उन्होंने यह भी शिकायत की है कि पार्टी द्वारा उनकी इस मांग को लेकर अनदेखी हो रही है. इस वायरल विडियो में तेज प्रताप यादव आरजेडी के अंदर कुछ असामाजिक तत्वों की एंट्री को लेकर भी कहा रहे हैं, जो पार्टी को न केवल कमजोर कर रहे हैं, बल्कि उन्हें तेजस्वी के साथ लड़वाने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने विडियो में आगे भी कहा कि अगर वह किसी भी नेता को फोन करते है तो कोई भी उनको रिस्पांस नहीं देता है.

यह भी पढ़ें: लालू यादव ने कानपुर में 15 मिनट तक रुकवाई राजधानी एक्सप्रेस

विवाद को बढ़ता देखे तेजस्वी यादव ने भी अपनी चुप्पी तोड़ी

विवाद को बढ़ता देख तेजस्वी यादव ने भी अपनी चुप्पी तोड़ी और कहा कि इनका उनके भाई के साथ को मनमुटाव नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि वह मेरे बड़े भाई है और मेरे मार्गदर्शक भी है. वहीं उन्होंने आगे कहा कि तेजप्रताप की जो भी शिकायतें है उसे उचित फोरम पर बातचीत के जरिए सुलझा लिया जाएगा.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 × 4 =