Ajit Pawar: पुणे के पिंपरी से होगी NCP में टूट? अजित पवार के करीबी MLA एकनाथ शिंदे के साथ, समझिये सियासी मायने

9
Ajit Pawar: पुणे के पिंपरी से होगी NCP में टूट? अजित पवार के करीबी MLA एकनाथ शिंदे के साथ, समझिये सियासी मायने

Ajit Pawar: पुणे के पिंपरी से होगी NCP में टूट? अजित पवार के करीबी MLA एकनाथ शिंदे के साथ, समझिये सियासी मायने


मुंबई: बीते कुछ दिनों से राज्य में कई बड़े नेता एक पार्टी से दूसरी पार्टी में जाते हुए नजर आ रहे हैं। बड़े विधायक हों या फिर सांसद सभी इस प्रक्रिया में शामिल हैं। इसी बीच पिंपरी विधानसभा चुनाव क्षेत्र में एनसीपी के विधायक अन्ना बनसोडे ने मुंबई में मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से मुलाकात की थी। इस दौरान एकनाथ शिंदे और अन्ना बनसोडे ने एक ही गाड़ी में इस सफर भी किया था। अब अन्ना बनसोडे की शिंदे से इस मुलाकात के बाद राज्य की सियासत में चर्चाएं और अटकलें शुरू हो चुकी हैं। अन्ना बनसोडे द्वारा सोशल मीडिया पर किया हुआ एक पोस्ट सियासी चर्चा का विषय बना हुआ है। जिसमें वो मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के साथ नजर आ रहे हैं। इस वीडियो से ऐसा लग रहा है कि अन्ना बनसोडे कोई बड़ा निर्णय लेने वाले हैं। उनके इस वीडियो के बाद महाराष्ट्र में कई तरह की सियासी अटकलें चल रही हैं। यह सवाल पूछा जा रहा है कि अन्ना बनसोडे कौन सा बड़ा फैसला लेने वाले हैं, क्या वो एनसीपी छोड़ने वाले हैं या फिर उनके दिमाग में कुछ और चल रहा है?

चर्चा इस बात की भी चल रही है कि बनसोडे एनसीपी छोड़ एकनाथ शिंदे गुट में शामिल हो सकते हैं। महाराष्ट्र में यह चर्चा भी चल रही है कि अजित पवार के कट्टर समर्थक अन्ना बनसोडे उनसे नाराज चल रहे हैं। बनसोडे के पोस्ट में यह भी है कि जब हम कुछ नया करेंगे तो इसकी चर्चा जरूर होगी।

कौन हैं अन्ना बनसोडे?
विधायक अन्ना बनसोडे के राजनीति की शुरुआत एनसीपी से हुई थी। वो पहले एक पान की टपरी (पान की दुकान)चलाते थे। अजित पवार ने उन्हें सीधा विधानसभा का टिकट देकर एमएलए बना दिया था। ऐसे में अगर पिंपरी चिंचवड में एक भी विधायक टूटा तो पार्टी को बड़ा झटका लग सकता है। अन्ना बनसोडे और एकनाथ शिंदे की मुलाकात के कई सियासी मायने अब निकाले जा रहे हैं। अन्ना बनसोडे साल 2014 में चुनाव हार गए थे। जिसके बाद वो राजनीति में ज्यादा सक्रिय नहीं थे। हालांकि, 2019 के चुनाव में अजित पवार के समर्थन के बाद वो चुनाव जीतकर विधायक बन गए थे। कहा जा रहा है कि वो जल्द ही शिंदे गुट में शामिल होंगे?

बनसोड़े के शिंदे गुट में जाने से एनसीपी को तगड़ा झटका लगेगा। उन्होंने सीएम सीएम शिंदे से मुंबई जाकर मुलाकात की है। हालांकि, इस मुलाकात के पीछे की वजह अभी तक स्पष्ट नहीं है। कहा जा रहा है कि बीते कुछ दिनों से अन्ना बनसोडे और अजीत पवार के बीच में तालमेल नहीं है। खबरें इस तरह की भी हैं कि इलाके से इस बार एनसीपी किसी अन्य व्यक्ति को अपना उम्मीदवार बनाना चाहती है। अन्ना बनसोड़े दिवंगत विधायक लक्ष्मण जगताप की अंत्येष्टि के दौरान भी मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के काफी करीब देखे गए थे। ऐसे में यह भी कहा जा रहा है कि अगर वो शिंदे गुट में जाते हैं तो उन्हें उम्मीदवारी मिल सकती है।

राजनीति की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – राजनीति
News