Home Top stories Agra Monkey Attack: ताज देखने आई एक और विदेशी टूरिस्‍ट को बंदरों...

Agra Monkey Attack: ताज देखने आई एक और विदेशी टूरिस्‍ट को बंदरों ने काटा, 15 दिन में पांचवांं मामला

0
31

Agra Monkey Attack: ताज देखने आई एक और विदेशी टूरिस्‍ट को बंदरों ने काटा, 15 दिन में पांचवांं मामला

अनिल शर्मा, आगरा: ताजमहल में बंदरों (agra Monkey Attack) का उत्पात थम नहीं रहा। बुधवार सुबह विंडो से टिकट ले रही स्पेनिश महिला पर्यटक पर बंदरों ने हमला कर उसे काट लिया। दो दिन पहले भी ताज (taj mahal Monkey Attack) के अंदर बंदरों ने एक स्पेनिश महिला सैलानी को काट लिया था। एक बार फिर जिला अस्पताल में पर्यटक को एंटी-रैबीज का इंजेक्शन लगाया गया। हालांकि मंगलवार को ही नवागत डीएम ने बंदरों की समस्या को लेकर बैठक कर एक्शन प्लान पर चर्चा की है।

बुधवार को ताजमहल देखने आई स्पेन की महिला पर्यटक क्रिस्टीना जब टिकट खरीदने के लिए टिकट काउंटर पर पहुंची तो उसी समय उसके ऊपर तीन से चार बंदरों के झुंड ने हमला बोल दिया। बंदरों ने क्रिस्टीना की जांघ पर काट लिया। हादसे के बाद क्रिस्टीना काफी दहशत में आ गई।

बुधवार को इस टूरिस्‍ट को बंदरों ने काट लिया

Copy


इलाज का कोई इंतजाम नहीं था
साथ के गाइड आरिफ ने बताया कि प्रशासन की तरफ से वहां कोई इलाज का इंतजाम नहीं था। इसके चलते वह खुद क्रिस्टीना को लेकर जिला अस्पताल आया। यहां उसे ऐंटी रैबीज का इंजेक्शन लगाया गया और घाव पर पट्टी की गई। आरिफ ने बताया कि करीब दो घंटे बाद क्रिस्टीना नॉर्मल हो पाई। फिलहाल अभी भी वह दोबारा ताजमहल घूमने जाने की हिम्मत नहीं कर पा रही हैं।

सोमवार को भी एक पयर्टक को काटा
इससे पहले सोमवार सुबह महिला स्पेनिश पर्यटक सांद्रा अपने साथियों के साथ ताजमहल में मोबाइल से फोटो खींच रही थी, तभी बंदरों ने महिला पर्यटक पर हमला कर उसके पैर में काट लिया। सुबह सुबह व्यवस्था न होने से वहां मौजूद फोटोग्राफर योगेश पारस और एएसआई कर्मी अरुण कुमार ने महिला पर्यटक का प्राथमिक उपचार कर उसके पैर में पट्टी बांधी।इस दौरान घायल पर्यटक लगातार फूट फूटकर रोती रही। बाद में महिला ने शांति मांगलिक हॉस्पिटल में रेबीज का इंजेक्शन लगवाया। पर्यटक यहां से दिल्ली रवाना हो गई।
navbharat times -Taj Mahal: ताजमहल में बंदरों का आतंक, स्पेनिश महिला पर झुंड में किया हमला, 10 दिन में चौथी घटना
15 दिनों में 5 टूरिस्‍ट पर हमला
बीते 15 दिनों में 5 पर्यटकों पर बंदर हमला कर चुके हैं। इनमें से तीन को काटकर घायल कर दिया था। विश्व धरोहर स्मारक पर बंदरों के उत्पात के कारण विदेशी पर्यटक बुरा अनुभव लेकर लौट रहे हैं।

मंगलवार को आगरा के डीएम नवनीत सिंह चहल ने बंदरों की समस्या को लेकर बैठक की थी। ताजनगरी में बंदरों के उत्पात और हमलों से निजात के लिए बैठक में एक्शन प्लान पर चर्चा हुई। डीएम ने नगर निगम व वन विभाग से कार्य योजना मांगी है। मथुरा की तर्ज पर बंदरों को पकड़ा जाएगा, लेकिन बैठक के अगले ही दिन बंदरों के हमले की एक और घटना हो गई।

उत्तर प्रदेश की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Uttar Pradesh News