बिहार और दिल्ली के बाद अब UP में हाई अलर्ट हुआ जारी , जाने क्या है पूरा मामला

0
बिहार और दिल्ली के बाद अब UP में हाई अलर्ट हुआ जारी , जाने क्या है पूरा मामला
बिहार और दिल्ली के बाद अब UP में हाई अलर्ट हुआ जारी , जाने क्या है पूरा मामला

अयोध्या विवाद में सुप्रीम कोर्ट का फैसला बहुत जल्द आ सकता है। 17 नवम्बर से पहले अयोध्या केस में फैसले आने की उम्मीद है। अयोध्या प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है। उत्तर प्रदेश के अधिकांश जिलों में धारा-144 लागू है और अयोध्या से जुड़े किसी भी आयोजन पर रोक लगा दी गई है ।

उत्तर प्रदेश में सोशल मीडिया पर नजर रखने के लिए टीम बना दी गई है. डीजीपी मुख्यालय पर सोशल मीडिया मॉनीटर टीम बनाई गई है. इसकी अगुवाई साइबर क्राइम के आईजी अशोक कुमार सिंह कर रहे हैं. इस टीम की जिम्मेदारी सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने वालों को चिन्हित करना है. इस टीम ने पिछले 15-20 दिनों में 72 लोगों को गिरफ्तार किया है.राम मंदिर पर फैसले से पहले दिल्ली से लेकर उत्तर प्रदेश में हलचल तेज हो गई है।

यह भी पढ़ें : बेघर हुए कारसेवकों के हीरों, अब ऐसे बीता रहें है अपनी जिंदगी

ड्रोन से अयोध्या शहर की निगरानी की जा रही है. अयोध्या को लेकर स्थानीय प्रशासन ने पीस कमेटियां बनाई हैं। सुरक्षा व्यवस्था को सबसे ज्यादा पुख्ता करने के निर्देश दिया गया है। सुप्रीम कोर्ट के आने वाले फैसले के मद्देनजर सांप्रदायिक सौहार्द बनाए रखने के लिए पुलिस सप्ताह व्यापी सदभावना अभियान शहर के अलग-अलग इलाकों में चला रही है, इसके लिए बाकायदा अलग-अलग टोलियां लोगों के बीच जाकर अफवाहों से बचने और उन्हें फैलने से रोकने से लेकर सोशल मीडिया पर लोगों को उकसाने वाले मैसेज को फॉरवर्ड न करने की अपील करती दिख रही हैं।