पुलवामा अटैक के तकरीबन 2 महीने बाद मसूद अजहर ग्लोबल आतंकी घोषित

0

14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले के लिए ज़िम्मेदार मसूद अजहर को इस घटना के तकरीबन 2 महीने के बाद “ग्लोबल आतंकी” घोषित कर दिया. माना जा रहा है कि यूनाइटेड नेशनस सिक्योरिटी काउंसिल (UNSC) द्वारा मसूद अजहर को आतंकी घोषित करना सामरिक दृष्टि से भी एक महत्वपूर्ण कदम है.

मालूम हो कि जैश-ए-मोहम्मद नामक एक आतंकी संगठन जिसका मुखिया मसूद अजहर है, ने इसी साल 14 फरवरी को सीआरपीएफ के जवानों के एक जत्थे पर हमला कर दिया था, जिसमें 40 जवान शहीद हो गये थे. इसके बाद से भारत अंतराष्ट्रीय स्तर पर मसूद को ‘ग्लोबल आतंकी’ घोषित करने के लिए प्रयास कर रहा था.

लेकिन मसूद को ग्लोबल आतंकी घोषित करने में सबसे बड़ा अड़ंगा चीन का था. चीन ने 2009 से चार बार तक मसूद को आतंकी घोषित करने के लिए अपने ‘वीटो’ का इस्तेमाल किया. चीन ने 2009, 2016, 2017 और 2019 में इस अंतराष्ट्रीय समुदाय के द्वारा मसूद को ग्लोबल आतंकी घोषित करने में रोक लगाई.

अब जबकि अंतराष्ट्रीय स्तर पर दबाव पड़ने के कारण चीन को ‘वीटो’ हटाना पड़ा तो आतंक के मसले पर भारत को ये सफलता प्राप्त हो पायी है. आपको बताते चलें कि संयुक्त राष्ट्र में भारत के प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी. उन्होंने इस बात के लिए उन सभी देशों को भी धन्यवाद दिया जिन्होंने मसूद को ग्लोबल आतंकी घोषित कराने में सहयोग दिया है.