‘दोस्त के घर गई श्रद्धा तो आफताब ने हत्या की’, 6629 पेज की चार्जशीट में पुलिस ने बताया कत्ल का मकसद

0
12

‘दोस्त के घर गई श्रद्धा तो आफताब ने हत्या की’, 6629 पेज की चार्जशीट में पुलिस ने बताया कत्ल का मकसद

नई दिल्ली: श्रद्धा मर्डर मामले में दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर दी। पुलिस ने बताया कि 6,629 पेज की चार्जशीट में 150 से अधिक लोगों के बयान दर्ज किए गए हैं। चार्जशीट में पुलिस ने श्रद्धा की हत्या के बारे में बताया है, जिसमें कहा गया है कि हत्या वाले दिन 18 मई को श्रद्धा अपने एक दोस्त से मिलकर महरौली स्थित किराए के घर पर आई थीं। इससे उनका लिवइन पार्टनर और हत्या का आरोपी आफताब खुश नहीं था। इसी बात को लेकर दोनों में कुछ कहासुनी हुई। जिसके बाद आफताब ने अपनी लिवइन पार्टनर की हत्या कर दी। हत्या करने के बाद आरोपी ने श्रद्धा के शव को आरी और चाकू से 35 टुकड़ों में काट डाला, जिन्हें महरौली, गुरुग्राम और महाराष्ट्र के जंगलों में ठिकाने लगाया गया। शव के काटे गए अधिकतर टुकड़े महरौली-छतरपुर के जंगलों में फेंके गए। इसमें मुख्य आरोपी आफताब पूनावाला ही बनाया गया है।

चार्जशीट के पन्ने पूछकर मैजिस्ट्रेट बोले…- यह तो बहुत बड़ी है
मेट्रोपोलिटन मैजिस्ट्रेट अविरल शुक्ला ने जांच अधिकारी से पूछा कि चार्जशीट कितने पन्नों की है। जवाब मिला कि 6,629 पन्नों की। इस पर मैजिस्ट्रेट बोले कि यह तो बहुत बड़ी है। आखिरकार, आपने आज (मंगलवार को) चार्जशीट दाखिल कर ही दी। इसके बाद अदालत ने आफताब की न्यायिक हिरासत दो हफ्तों के लिए बढ़ा दी। आरोपी को विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अदालत के सामने पेश किया गया। अदालत ने निर्देश दिया कि वह पुलिस की फाइनल रिपोर्ट पर 7 फरवरी को विचार करेगी और उस दिन आरोपी को व्यक्तिगत रूप से अदालत के सामने पेश किया जाए। इस दौरान आफताब ने अपने वकील को बदलने की इच्छा भी जताई। पिछली कुछ सुनवाइयों पर आरोपी की ओर से एडवोकेट एम.एस खान पेश हुए थे। उन्होंने एनबीटी से कहा, आफताब चाहता है कि वो उससे हर 15 दिन में एक बार जरूर मिलें, जबकि, वो पिछले एक महीने से उससे नहीं मिले हैं। खान ने यह दावा किया कि वो जल्द जेल में जाकर आफताब से मिलेंगे।

पूनावाला संग रह रही थी श्रद्धा
मामले में सदर्न रेंज की जॉइंट पुलिस कमिश्नर मीनू चौधरी ने बताया कि मंगलवार को पुलिस ने कोर्ट में श्रद्धा मर्डर मामले की चार्जशीट दाखिल कर दी। मुंबई पुलिस ने महरौली थाना पुलिस में श्रद्धा के गुम होने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। मामले की छानबीन करते हुए दिल्ली पुलिस ने श्रद्धा के पिता के बयान लिए। इसके आधार पर मामले में श्रद्धा के अपहरण का मामला दर्ज कर उसकी खोजबीन शुरू की गई। इसमें बताया गया था कि अंतिम बार श्रद्धा महरौली इलाके में देखी गई थी। वह अपने दोस्त आफताब पूनावाला के साथ यहां रह रहीं थीं।

पूछताछ में आफताब ने कबूला गुनाह
पुलिस ने तफ्तीश करते हुए 12 नवंबर, 2022 को आफताब पूनावाला को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस का दावा है कि गिरफ्तार आरोपी आफताब पूनावाला ने पुलिस पूछताछ में खुलासा किया कि उसने अपनी दोस्त श्रद्धा की हत्या करने के बाद उसके शव को काट डाला था। उसके टुकड़े-टुकड़े करके उसने छतरपुर, गुरुग्राम और महाराष्ट्र के जंगलों में फेंक दिए थे। उसने छतरपुर में किराए का मकान लेने के बाद ही श्रद्धा की गला घोंटकर हत्या की। इसके बाद शव काट डाला था। मामले की गंभीरता को देखते हुए साउथ दिल्ली पुलिस ने इस मामले की जांच के लिए 9 टीमें बनाई। साथ ही डीसीपी साउथ के नेतृत्व में एसआईटी का भी गठन किया।

सजा से बचने के लिए नई चाल चल रहा है आफताब, श्रद्धा केस में चार्जशीट के बाद बोले पिता
…यूं मिलते गए सुराग
तफ्तीश शुरू करते हुए पुलिस ने छतरपुर और गुरुग्राम के जंगलों से श्रद्धा के शव के कटे हुए कुछ टुकड़े बरामद किए। कुछ चाकू, कपड़े और अन्य चीजें भी बरामद की गई। हालांकि, बताया जाता है कि पुलिस अभी तक आरी और श्रद्धा के सिर को बरामद नहीं कर पाई है। मामले में पुलिस ने आफताब का नार्को, पॉलीग्राफ टेस्ट कराने के बाद वॉयस सैंपल लेकर भी जांच कराई। साथ ही मोबाइल फोन की सीडीआर, छतरपुर और गुरुग्राम में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज भी जब्त की गई,जिसमें आफताब दिखाई दिया।

बरामद हड्डियों और अन्य सबूतों की डीएनए जांच भी कराई गई। एफएसएल रोहिणी से भी कई मामलों में जांच कराई गई। हैदराबाद लैब और एम्स में भी सैंपल भेजकर रिपोर्ट ली गई। पुलिस ने बताया कि मामले में साइंटिफिक मेथड इस्तेमाल करते हुए ढेर सारे डिजिटल, इलेक्ट्रॉनिक और अन्य सबूत भी इकट्ठे किए। जिसमें लैपटॉप, मोबाइल फोन, सीसीटीवी कैमरे, कैमरा और कुछ सोशल मीडिया से भी सबूत इकट्ठे किए गए। सीडीआर के साथ-साथ आरोपी की जीपीएस लोकेशन के हिसाब से भी सबूत मैच किए गए। मामले में बरामद तमाम सबूतों और हालातों के हिसाब से पुलिस ने कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की। मामले में हत्या और सबूत मिटाने के तहत पुलिस ने कोर्ट में चार्जशीट दायर की।

दिल्ली की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Delhi News