Adani NDTV Deal: NDTV का सबसे बड़ा शेयरधारक बनने की ओर अडानी समूह, 5 दिसंबर को बंद हो रहा ओपन ऑफर

0
89

Adani NDTV Deal: NDTV का सबसे बड़ा शेयरधारक बनने की ओर अडानी समूह, 5 दिसंबर को बंद हो रहा ओपन ऑफर

नई दिल्ली: एनडीटीवी के शेयरधारकों ने शनिवार को अडानी समूह को करीब 53 लाख शेयरों की पेशकश की है। इससे समूह मीडिया कंपनी का सबसे बड़ा शेयरधारक बन जाएगा और उसे प्रसारणकर्ता कंपनी का चेयरमैन नियुक्त करने का अधिकार मिल जाएगा। अडानी समूह ने एक छोटी कंपनी का अधिग्रहण करके नई दिल्ली टेलीविजन लि.(NDTV) में 29.18 प्रतिशत हिस्सदारी पर अप्रत्यक्ष अधिकार हासिल कर लिया था। इसके बाद समूह मीडिया कंपनी के निवेशकों के लिए खुली पेशकश लेकर आया। शेयर बाजार की अधिसूचना के मुताबिक, यह खुली पेशकश 5 दिसंबर को बंद होगी।

53.27 लाख शेयरों के लिए प्रस्ताव मिले
नेशनल स्टॉक एक्सचेंज की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक, अडानी की खुली पेशकश के तहत एनडीटीवी के अल्पांश शेयरधारकों से 294 रुपये प्रति शेयर के भाव पर 1.67 करोड़ या 26 प्रतिशत शेयरों की खरीद की पेशकश की गई है। इसमें से अडानी समूह को अबतक 53.27 लाख शेयरों के लिए प्रस्ताव मिल चुके हैं।कॉरपोरेट निवेशकों ने सबसे ज्यादा 39.34 लाख शेयरों की पेशकश की है। वहीं खुदरा निवेशकों ने सात लाख से अधिक शेयरों की पेशकश की है। पात्र संस्थागत खरीदारों ने 6.86 लाख शेयरों की पेशकश की।

NDTV Share Price: प्रणय -राधिका रॉय के इस्तीफे के बाद शेयरों में उछाल, अपर सर्किट लगा
शुक्रवार को 414.40 रुपये पर बंद हुआ एनडीटीवी का शेयर
अडानी की खुली पेशकश एनडीटीवी के शेयर के मौजूदा भाव की तुलना में काफी कम कीमत पर की गई है। खुली पेशकश के तहत शेयर का भाव 294 रुपये प्रति शेयर तय किया गया है, जबकि शुक्रवार को शेयर बाजारों में एनडीटीवी का शेयर 414.40 रुपये पर बंद हुआ था। अबतक जितने शेयरों की पेशकश की गई है वह एनडीटीवी के शेयरों का 8.26 प्रतिशत है। इसके अलावा अडानी समूह 29.18 प्रतिशत हिस्सेदारी पहले ही हासिल कर चुका है। अब इन्हें मिलाकर मीडिया कंपनी में समूह की हिस्सेदारी 37.44 प्रतिशत होगी। यह इसके संस्थापक प्रणय रॉय और राधिका रॉय की 32.26 प्रतिशत हिस्सेदारी से ज्यादा है।

navbharat times -फैक्ट चेक : रवीश के इस्तीफे के बाद NDTV में एंकरिंग करने लगे संबित पात्रा? जानिए वायरल वीडियो की हकीकत
मिल जाएगा ये अधिकार
इससे पहले एनडीटीवी में प्रवर्तकों की हिस्सेदारी 61.45 प्रतिशत थी। इसमें 1.88 करोड़ शेयर या 29.18 प्रतिशत हिस्सेदारी आरआरपीआर होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड की थी जिसका गौतम अडानी की अगुवाई वाले अडानी समूह ने गत अगस्त में अप्रत्यक्ष तरीके से अधिग्रहण कर लिया था। अब एनडीटीवी का सबसे बड़ा शेयरधारक बनने के बाद अडाणी समूह को कंपनी के निदेशक मंडल के चेयरपर्सन समेत कम से कम दो निदेशक नियुक्त करने का अधिकार मिल जाएगा।

राजनीति की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – राजनीति
News