बंगाल में 22 सीट क्या 22 बूथ जीत कर दिखाने का चैलेंज कर ममता के भतीजे ने ललकारा शाह को

0

नई दिल्ली: जल्द ही लोकसभा चुनाव होने वाले है. चुनावी गर्मागर्मी के बीच पार्टियां आए दिन एक दूसरे पर निशान साधते नजर आ रहीं है. इस लड़ाई का सबसे ज्यादा असर हमें भारतीय जनता पार्टी और ममता बनर्जी के बीच होते दिख रहा है.

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी ने अमित शाह को दिया चैलेंज

बता दें कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने खुद कहा है कि उनका मुख्य उद्देश बंगाल में 22+ सीटें जीतने का है. लेकिन शाह के इस जवाब पर टीएमसी की तरफ से करार जवाब आया है. आज एक रैली को संबोधित करने के दौरान पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी ने कहा है की वह कहते है कि वे 22 सीटें जीतेंगे, मैं उन्हें चुनौती देता हू्ं कि वे यहां 22 बूथ ही जीत कर दिखाएं.

ममता बनर्जी ने मोदी सरकार पर कसा तंच

आपको बता दें कि ममता के भतीजे के अलावा ममता ने खुद भी इस रैली को संबोधित किया है. रैली को संबोधित करते हुए ममता ने मोदी सरकार पर तंच कसा है. उन्होंने कहा है कि किसी को नोटबंदी के आउटपुट की जानकारी तक नहीं है, रुपए अभी तक के निचले स्तर पर है. ये लोग जंगलमहल में कुछ सीटें क्या जीत गए इन्होंने हिंसा की राजनीति शुरू कर दी.

ये ही नहीं  ममता ने कहा कि जो गुंडे पहले सीपीएम के लिए धमकी देने का काम करते थे, अब वह भाजपा की शरण में है. उन्होंने इस दौरान बीजेपी पर आरोप तक लगाया कि पंचायत चुनाव के दौरान बीएसएफ वोटिंग लाइन तक गुस गई थी.

यह भी पढ़ें: 2019 के चुनाव को अपने नाम करने के लिए राहुल गांधी ने तैयार की अपनी सेना

आज के युग में आम लोगों को अपना धर्म चुनने का अधिकार तक नहीं है- ममता बनर्जी

बंगाल की सीएम ने आगे कहा कि यूपी में एनकाउंटर का हवाला देते हुए लोगों को मारा जा रहा है. उन्होंने कहा कि इंदिरा गाँधी की एमरजेंसी की बात को भूलिए, आज के युग में आम लोगों को अपना धर्म चुनने का अधिकार तक नहीं है. आज ये लोग पुराने इतिहास को मिटा देना चाहते है. ये ही नहीं, अभी तक मुगलसराय का नाम बदला गया है, शायद आगे चलकर लाल किले का भी नाम बदल दें. उन्होंने इस रैली में असम में एनआरसी के मुद्दे पर भी जमकर हमला बोला है.