लोकसभा चुनाव- आम आदमी पार्टी ने इन सात सीटों को लेकर बनाई ये नई रणनीति

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियां तैयारियां में जुटी हुई है. इसी चुनावी माहौल को देखते हुए आम आदमी पार्टी ने सात सीटों को लेकर एक नई रणनीति बनाई है. पार्टी के मुताबिक, प्रत्येक दस घर पर एक विजय प्रमुख बनाया जाएगा. ये ही नहीं, हर विधानसभा क्षेत्र में सभी पदाधिकारियों को एक-एक बूथ कि जिम्मेदारी दी जाएगी.

बता दें कि चुनावों का जायजा लेने के लिए ‘आप’ के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल लोकसभा वार कार्यकर्ताओं के साथ मीटिंग कर रहें है. जिसकी शुरुआत उन्होंने गुरुवार को दक्षिणी दिल्ली लोकसभा के कार्यकर्ताओं के साथ की है, जो की देर रात तक चली है. हालांकि इसके शुक्रवार को पूर्वी संसदीय सीट कि लोकसभा प्रभारी आतिशी के समेत कार्यकर्ताओं के साथ दिल्ली सीएम केजरीवाल की बैठक खबर लिखे जाने तक जारी थी.

इस दौरान केजरीवाल ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा है कि यह ‘आप’ का दायित्व है कि वह दिल्ली के तमाम सात सीटों से बीजेपी को बुरी तरह हराए. उन्होंने ये भी कहा कि जब हम सत्ता में आए तो अधिकारी से लेकर कर्मचारी तक हमसे डरते थे. लेकिन बीजेपी ने एक-एक करके हमसे सभी अधिकारी छीन लिए.

इसके अतिरिक्त हमारे काम में भी रूकावट पैदा की. इसके अलावा हमने जो शिक्षा स्वास्थ्य में कार्य किया है वह है किसी से छुपा तक नहीं है. उसकी चर्चाओं देश-विदेश दोनों जगहों पर हो रहीं है. दूसरी और दिल्ली प्रदेश संयोजक गोपाल राय  का कहना है कि पार्टी हर दस घर में एक विजय प्रमुख कि नियुक्ति करेगी. इन दस प्रमुखों का काम होगा की वह उन दस घरों के मतदाताओं से मिले और उन्हें समीकरण समझाएं. ताकि उन दस घरों का वोट ‘आप’ के खेमे में आ सकें.

अरविंद केजरीवाल ने उन भी कहा है कि वह ‘डोर टू डोर ‘अभियान में समझदारी से काम करें. उन्होंने कहा साल 2014 में बीजेपी को लोकसभा चुनाव में 46 फीसदी, आप को 33 फीसदी और कांग्रेस को 15 फीसदी वोट प्राप्त हुए थे. मगर अब सर्वे कहते है कि भाजपा को 10 फीसदी ही वोट हासिल होंगे.