ख़त्म नही हो रही दरिंदगी, अब दिल्ली से आई एक बुरी ख़बर

0

इस वक़्त देश में तनाव भरा माहौल है. हर तरफ महिलाओं की सुरक्षा को लेकर पुख्ता इंतज़ाम किये जाने की मांग उठ रही है. कठुआ, सूरत और उन्नाव जैसे बलात्कार के मामलों ने आमजन को झकझोर कर रख दिया है. हर कोई अपने आस-पास रह रही स्त्री को लेकर चिंतित है, लगभग हर शख्स इस आन्दोलन का हिस्सा बन चुका है. लेकिन इंसानी फितरत बाज़ नही आ रही. भेड़िये अब भी हमारे बीच रूप बदलकर रह रहे हैं. इस बार दिल्ली में एक बच्ची से रेप का डरावना मामला सामने आया है. बच्ची का बलात्कार होना पहले ही दुःख और हैरानी की बात थी लेकिन उससे भी ज़्यादा पीड़ादायक है परिजनों को जानकारी मिलने का ज़रिया. दरअसल लड़की के परिवार को इस घटना के बारे में तब पता चला जब पिछले शनिवार को उन्हें वाट्सएप पर एक वीडियो मिला. बताया जा रहा है कि यह वीडियो उनकी मानसिक रूप से कमज़ोर 12 वर्षीय बच्ची का है. वीडियो में कथित तौर पर पड़ोसी बच्ची के साथ रेप करता दिख रहा है. इस मामले में दिल्ली पुलिस ने सोमवार को तीन युवकों को गिरफ्तार किया है.

पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये गाये आरोपियों की पहचान दिल्ली के रोहिणी के मंगोलपुर कलां इलाके के रहने वाले बंटी और उसके दो दोस्तों के रूप में हुई है. पुलिस का कहना है कि बंटी बच्ची को बहला-फुसलाकर पास के एक सामुदायिक भवन में सूनसान स्थान पर ले गया और रेप किया. इस दौरान उसके दोनों दोस्त बलात्कार की घटना का वीडियो बनाते रहे.

पुलिस ने वाट्सएप वीडियो से रेप के घटनास्थल की पहचान कर ली है. पुलिस अधिकारियों ने कहा कि बंटी को रेप के मामले में पॉक्सो (प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रेन फ्रॉम सेक्शुअल ऑफेंसेंज एक्ट) में गिरफ्तार किया गया है. जबकि वारदात में शामिल उसके दोस्तों की गिरफ्तारी आईटी एक्ट व आईपीसी की धाराओं तहत हुई है.

वहीं पीड़िता के परिजनों ने आरोपी के परिजनों पर केस वापस लेने का दबाव बनाने का आरोप लगाया है. एक समाचार एजेंसी से बात करते हुए पीड़िता की मां ने कहा कि बंटी पावरफुल आदमी है और उसके परिजनों की क्षेत्र में धमक और जान-पहचान है. बंटी की गिरफ्तारी के बाद से ही उसके परिजन लगातार केस वापस लेने का दबाव बना रहे हैं. साथ ही हमारे उपर घर छोड़ने का भी दबाव बनाया जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × 1 =