अब बच्चे ने PUBG बैन करने की करी मांग

0

PUBG एक ऐसा गेम बन चूका है जो दुनिया में बहुत ज्यादा प्रचिलित है और इस गेम को बच्चो से लेकर बूढ़ों तक काफी पसंद किया जाता है और इस गेम को करीब 100 करोड से ज्यादा लोगो ने डाउनलोड किया हुआ है | जहा इस गेम को इतना पसंद किया जा रहा है दूसरी तरफ एक 11 साल के बच्चे ने इस गेम को कोर्ट से बैन करने की मांग की है।

11 साल का बच्चा पहुंचा कोर्ट

एक तरफ़ जहां दुनिया इस खेल की दिवानी बनी हुई हैं, वही एक 11 साल के बच्चे ने इसे बैन करने की मांग की है। इस 11 साल के लड़के का नाम अहद नियाज़ है और वह छठी कक्षा में पढ़ता है.

अहमद की उम्र 11 साल है, अहमद ने अपने पेशे से वकील मां मरियम नियाज के साथ सरकार और कोर्ट से गुहार लगाई है कि PUBG खेल बंद होना चाहिए. अहद निजाम के अनुसार यह गेम खेलने वालों के मन में बुरे विचार आते हैं. यह गेम मार-पीट और चोरी जैसी सोच को बढ़ावा देता है.

क्या कहना है 11 साल के असद नियाज का

अहद नियाज का कहना है कि इसी वजह से उसने सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े को पत्र लिखकर तत्काल इस गेम पर प्रतिबंध लगाने का अनुरोध किया है. कई जगहों से ऐसी खबरें भी आई है कि लोग गेम खेलने के चक्कर में रात रात भर जागते है. गेम खेलने वाले बच्चों की माने तो इस खेल को खेलकर आर्मी के कमांडो जैसा एहसास होता है. स्कूलों में अध्यपकों ने बच्चों से इस खेल सो दूरी बनाए रखनी की मांग की है।

क्या है PUBG गेम ?

PUBG यानी की प्लेयर अननोन्स बैटलग्राउंड्स (PUBG) एक ऐसा ऑनलान गेम जिसे सबसे पहले पीसी, iOS और एक्सबॉक्स वर्जन पर लॉन्च किया गया था लेकिन अब इसे फोन पर भी लॉन्च किया जा चुका है. जैसे ही ये गेम फोन में आया सबसे पहले इसने उन बच्चों को टारगेट किया जो छोटी उम्र के हैं और ऑनलाइन गेमिंग के शौकीन हैं. लेकिन इस गेम में जैसे जैसे अपडेट आते गए ये गेम बड़े लेवल पर पहुंच गया और अब कई युवा इस गेम को लेकर काफी क्रेजी हो चुके हैं. इस गेम ने जैसे ही बाजार में अपनी एंट्री की बाकी सभी गेम मार्केट से गायब हो गए. यानी की अब बच्चों से लेकर बूढ़ों तक सभी इस गेम के पीछे पागल हो चुके हैं.