तीन आतंकी हुए ढेर, सुरक्षाबलों को मिली बड़ी सफलता

0
90908
90908

भारत द्वारा आतंकियों का खातमा जारी है, आतंकबाद को जार से खत्म करने का संकल्प लिए भारत के जावन एक के बाद एक आतंकबाद को ढेर कर रहे है। मंगलवार को त्राल में हुई मुठभेड़ में तीन आतंकियों को मारा गया है. जम्मू-कश्मीर में सेना और पुलिस को आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन में बड़ी कामयाबी मिली है, यह बेशक तोर पर आतंकबाद के खिलाफ बहुत बड़ी कामयाबी है।

गजवत-उल-हिंद का सरगना हामिद लल्हारी को भारत जवान द्वारा मौत के घाट उतार दिया गया लल्हारी ने जाकिर मूसा के बाद इस ग्रुप की कमान संभाली थी। प्रेस कांफ्रेंस को सम्बोधित करते हुए जम्मू-कश्मीर के पुलिस DGP दिलबाग सिंह ने इस बात पर मोहर लगा दी की त्राल के एनकाउंटर में तीन आतंकी मारे गए जो तीनों ही लोकल आतंकी थे. इनमें हामिद लल्हारी भी शामिल था।

दिलबाग सिंह ने कहा कि जाकिर मूसा के बाद इस ग्रुप की कमान हामिद लल्हारी को दी गई थी, इसी ने इस ग्रुप को दोबारा खड़ा किया. लल्हारी ने ही नावेद और जुनैद को शामिल किया, तीनों जैश के साथ काम कर रहे थे. उन्होंने कहा कि आजकल जैश-ए-मोहम्मद, लश्कर और हिज्बुल के साथ मिलकर घाटी में आतंक फैलाने की कोशिश कर रहा था।

यह भी पढ़ें : पुलिस ने वकील को हेलमेट न पहनने पर मारा थप्पड़, वकीलों ने फिर पढ़ाया पुलिसवालों को पाठ

DGP दिलबाग सिंह ने साथ ही यह भी कहा की जम्मू-कश्मीर के युवाओं से एक बार फिर आतंक के रास्ते पर ना जाए लोग पाकिस्तान के इशारों पर गलत रास्ते पर चल रहे हैं, उन युवाओ को सही रस्ते में आने की जरूरत है , हथियार उठाने से कुछ नहीं होगा, वो सिर्फ मौत का एक जरिया है. साथ ही उन्होंने यह भी भी दावा किया कि अब ऐसे युवाओं की रफ्तार काफी कम हुई है जो आतंक का रास्ता अपना रहे हैं।

देश से आतंकवाद का खातमा होना बहुत जरुरी है। इसने देश में डर का माहौल बना रखा है, भारत के तरफ यह एक करारा हवाब है आतकवाद के खिलाफ, की जो भी आतकवाद को बढ़वा देगा उसका खातमा होना निश्चिंत है।