श्रीलंका में 8 धमाकों में 290 लोगों की मौत, 500 से ज्यादा घायल

0

भारत के पड़ोसी देश श्रीलंका में सिलेसिलेवार तरीक़े से आठ बम धमाके हुए हैं, जिसमें अबतक 290 के क़रीब लोग मारे जा चुके हैं। इन हमलों में 500 ले ज़्यादा से लोग घायल हुए हैं। हमलों में पांच भारतीय नागरिकों के भी मारे जाने की ख़बर है। इन हमलों की विश्व बिरादरी ने कड़ी निंदा की है। फिलहाल, श्रीलंका पुलिस ने 24 संदिग्ध लोगों को गिरफ़्तार किया है।

श्रीलंका में तीन जगहों पर हुए आत्मघाती हमलों में अब 290 से ज़्यादा लोगों ने अपनी ज़िन्दगी गंवा दी है। ईसाइयों के त्योहार ईस्टर पर ये हमले चर्च और उन पांच सितारा होटलों में हुए, जहां ईसाई धर्म के लोग इस्टर त्योहार का उत्सव मना रहे थे। इन हमलों की ज़िम्मेदारी अब तक किसी भी संगठन ने नहीं ली है। विश्व बिरादरी में इन हमलों को लेकर चौतरफ़ा निन्दा हो रही है और कई देशों ने श्रीलंका को मदद देने की बात कही है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना और प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे से फोन पर बात की और आतंकवादी हमले को क्रूर और सुनियोजित बर्बर आतंकी हमला बताया। पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा कि वे भीषण हमला झेलने वाले पड़ोसी मुल्क के साथ मज़बूती से खड़े हैं। पीएम मोदी ने श्रीलंका को हरसंभव मदद देने की भी बात कही है।

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना ने लोगों से शांति बनाए रखने और विस्फोट की तेज़ी से जांच के लिए अधिकारियों के साथ सहयोग करने का आग्रह किया। सिरिसेना ने कहा कि मैं इस घटना से स्तब्ध और दुखी हूं। इन जघन्य कृत्यों के पीछे षड्यंत्रों का पता लगाने के लिए इसकी जांच शुरू कर दी गई है। उन्होंने देशवासियों से  शांत रहने और अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की है।