मध्य प्रदेश: यहाँ दुल्हे नहीं दुल्हनें घोड़े पर चढ़कर लायी बारात

0
MP News
MP News

हमने सामान्य शादियों में दूल्हे को घोड़े पर चढ़ते देखा है। वह बारात लेकर निकलता है। लेकिन ज़माना अब बदल रहा है। लड़कियां लड़कों से आगे बढ़ रही है। इसका नज़ारा तब देखने को मिला जब दो बहनें घोड़ी पर चढ़कर बारात के लिए निकली। आइये इस बारें में विस्तार से जानते हैं।

दो बहनों ने अपने सबसे अच्छे दुल्हन के कपड़े पहने, अपनी शादी की बारात निकाली और पाटीदार समुदाय द्वारा परंपरा के तहत खंडवा में अपने दूल्हे के घरों में घोड़ों की सवारी की।

इन दोनों बहनों का नाम साक्षी और सृष्टि हैं। इन दोनों की शादी 22 जनवरी को हुई। इनकी शादी अनोखे अंदाज के लिए ख़ूब चर्चा में रही।

सृष्टि ने एएनआई को बताया, “मुझे इस समुदाय का हिस्सा होने पर गर्व है और वे इस परंपरा का पालन कर रही हैं।”

दुल्हनों के पिता ने अन्य समुदायों के लोगों से इस देश की महिलाओं को सम्मान देने के लिए इस परंपरा का पालन करने का आग्रह किया।

दुल्हनों के पिता अरुण ने कहा, “यह 400-500 साल पुरानी परंपरा है। हम इसे” बेटी बचाओ, बेटी पढाओ “के सरकार के संदेश का समर्थन करने के लिए आगे ले जा रहे हैं। इस देश की बेटियों के साथ समान व्यवहार किया जाना चाहिए। यह वह संदेश है जिसे हम बताना चाहते हैं। हमारी परंपरा और इसका पालन जारी रहेगा।”

यह भी पढ़ें: 10 साल के लड़के से प्रेग्नेंट हुई 13 साल की लड़की

उन्होंने कहा, “मैं अन्य समुदायों के लोगों से इस परंपरा को अपनाने और अपनी बेटियों को सम्मान देने का आग्रह करता हूं।”