15 दिन किन्नरों के बीच रहकर सीखी बोली और चाल-ढाल, फिर एक्टिंग में कर दिया कमाल | bollywood actor learn acting from kinner life | Patrika News

0
344

15 दिन किन्नरों के बीच रहकर सीखी बोली और चाल-ढाल, फिर एक्टिंग में कर दिया कमाल | bollywood actor learn acting from kinner life | Patrika News

नवदीप सिंह ने अपने किरदार को लेकर बताया पहले तो थोड़ा सोच में पड़ गया फिर सोचा ये काम में बेहतर करके दिखाऊंगा। रोल दमदार था लेकिन सबसे बड़ी समस्या थी किन्नरों की दिनचर्या और उनके रहन-सहन को जानने की। इसके लिए मैंने जबलपुर की किन्नर हीराबाई, बबली दीदी, कटरीना, काजल दीदी के पास 15 दिन रह कर उनकी दिनचर्या और रहन-सहन बोलचाल का तरीका सीखा। जब मैंने वेब सीरीज की शूटिंग शुरू की तो मेरे सीनियर एक्टर, डायरेक्टर की सराहना ने मेरी मेहनत को सफल कर दिया। जबलपुर के नवोदित कलाकार नवदीप सिंह की वेब सीरीज शिक्षा मंडल, शिक्षा के व्यवसायीकरण और उसके पीछे छिपे रहस्यों और राज को उजागर करती है। नवदीप सिंह जबलपुर में पले बढ़े हैं और उन्होंने बॉलीवुड में अपना मुकाम बनाने के लिए बहुत संघर्ष किया है।

NSD में मप्र का इकलौता स्टूडेंट बना
नवदीप सिंह पिता रतन सिंह, मां सुनिधि ठाकुर के पुत्र हैं। उन्होंने शुरुआत बताया मैंने एक्टिंग की शुरुआत विवेचना रंगमंडल से की थी। जिसमें अरुण पांडे, विवेक पांडे, सपन बनर्जी, नवनीत चौबे से अभिनय के गुण सीखे। इसी बीच 2015 में एमपीएसडी में चयन हो गया जहां 1 साल तक एक्टिंग की बारीकियां जानी। साल 2017 मेरा सबसे बड़ा टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ। जब प्रदेश से एकमात्र मेरा चयन एनएसडी में हुआ। 3 साल तक एनएसडी में ट्रेनिंग के दौरान मैंने जमीनी तौर पर कला और कलाकार को जाना। इस दौरान प्रसिद्ध कलाकार रघुवीर यादव, जयंत देशमुख, हेमा सिंह, अमितेश ग्रोवर, मनोज बाजपाई, गोविंद नामदेव जैसे मंजे हुए कलाकारों के निर्देशन में काम करने का अवसर प्राप्त हुआ और उन्होंने ही मुझे प्रेरित किया। उनका कहना था कि अपने अभिनय को ऐसा बनाओ और छवि ऐसी रखो कि लोग तुम्हारे काम से तुम्हें जाने। मैंने करीब 60 से ज्यादा नाटकों में मंच पर अभिनय किया है, इसके अलावा 10 नाटकों का निर्देशन भी किया है।

Copy

इंडियन एजुकेशन को उजागर करती है वेब सीरीज
नवदीप सिंह ने बताया वेब सीरीज शिक्षा मंडल, शिक्षा के व्यवसायीकरण से लेकर इंडियन एजुकेशन में खामियों और खूबियों को लेकर बनाई गई है। इसका उद्देश्य शिक्षा के प्रति लोगों को जागरूक करना भी है। भ्रष्टाचार से लेकर प्रोत्साहन तक और प्रतिभाओं को आगे बढ़ाने जैसी बातें इस वेब सीरीज में कही गई हैं। मेरा किरदार 9 एपिसोड वाली वेब सीरीज में से 8 में दिखाई देगा।

जबलपुर कभी नहीं छोडूंगा
नवदीप सिंह ने कहा वेब सीरीज के बाद अभी एक नए प्रोजेक्ट पर भी काम चल रहा है जो बहुत जल्द रिलीज होने वाला है. इसके अलावा अन्य प्रोजेक्ट की बात चल रही है। मैं कितना भी काम कर लूं बॉलीवुड में लेकिन जबलपुर कभी नहीं छोडूंगा। जल्दी ही जबलपुर के कलाकारों के लिए काम करूंगा।



उमध्यप्रदेश की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Madhya Pradesh News