योगी की जुबां पर ‘अखिलेश ही अखिलेश’।

1
CM Yogi
CM Yogi

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार को पूरे 100 दिन हो गए है. योगी सरकार की जश्न की तैयारियां चल रही है. 100 दिन पूरे होने के अवसर पर राज्य में दो तरह के जश्न होंगे. एक ही दिन, एक ही समय पर 2 तरह के बुकलेट बांटे जायेंगे. एक जिसमे योगी सरकार के सारे काम और योजनाएं होंगी. तो दूसरी में 100 दिनों के सरकारी दावों के सच की परत उधेड़ती पड़ताल. कुल मिलाकर कहीं हर्ष, तो कहीं विषाद का माहौल होगा. एक बुकलेट का रंग केसरिया तो दूसरे का रंग लाल और हरा होगा.

वैसे यूपी की राजनीती में यह पहली बार होगा कि 100 दिन पूरे होने के अवसर पर कोई सरकार विपक्ष राजनैतिक पार्टी पर हमला बोलेगी. योगी अपनी उपलब्धियां गिनवाएँगे वहीँ दूसरी और योगी अखिलेश की नाकामियां गिनवाएँगे. योगी सरकार ने अपनी रिपोर्ट कार्ड तैयार कर ली है वहीँ अखिलेश सरकार ने भी अपनी सफलताओं की लिस्ट बना ली है. दोनों पार्टी ने एक दूसरे की बोलती बंद करने की ठान ली है. अभी यूपी में सियासी दंगल खत्म नहीं हुआ है.

यूपी के विधानसभा चुनाव अभी ही खत्म हुए है और योगी सरकार के हाथ यूपी की कमान आ गयी है. लेकिन राजनैतिक गर्माहट देखने के बाद लगता है पार्टियों का चुनावी खुमार अभी नहीं उतरा है. शायद यही वजह है जो योगी सरकार को अपनी सफलताओं के बारे में लोगो को बताना है और विपक्ष की नाकामी के बारें में जनता को वाक़िफ़ कराना है. भाजपायिओं के दिल में पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ का नाम होगा लेकिन जुबान पर अखिलेश यादव होगा. भाजपा सरकार की उपलब्धियों की बुकलेट तो होगी ही लेकिन भाजपाई अखिलेश सरकार के समय हुई धांधलियों और भ्रष्टाचार की भी बात करेंगे.

अब अखिलेश सरकार की नाकामियों और धांधलियों का हम कुछ कह नहीं सकते लेकिन यह ज़रूर है कि अखिलेश सरकार के पास सत्ता न होने के बाद भी सबकी जुबां पर अबतक सिर्फ अखिलेश ही अखिलेश है.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 − two =