हैमर शार्क: गहरे पानी में रहने वाली तेज तैराक मछली | Hammer Shark: Deep-water fast swimmer | Patrika News

0
112

हैमर शार्क: गहरे पानी में रहने वाली तेज तैराक मछली | Hammer Shark: Deep-water fast swimmer | Patrika News

यह एक खतरनाक समुद्री मछली हैए जो उष्णकटिबंधीय सागरों एवं महासागरों में पाई जाती है। हालांकि कभी कभी गर्मियों में कुछ शार्क समशीतोष्ण सागरों में पहुंच जाती हैं।

जयपुर

Published: August 07, 2022 11:16:20 pm

यह एक खतरनाक समुद्री मछली हैए जो उष्णकटिबंधीय सागरों एवं महासागरों में पाई जाती है। हालांकि कभी कभी गर्मियों में कुछ शार्क समशीतोष्ण सागरों में पहुंच जाती हैं। हैमर शार्क मछली का सिर आगे से हथौड़े के आकार का होता है। इसलिए इसको हथौड़ा सिर शार्क कहा जाता है। माना जाता है कि इसका हथौड़ा जैसा सिर इसके मुड़ने में विशेष सहायता करता है।

Copy

Hammer Shark

  • हैमर शार्क गहरे पानी में रहने वाली एक तेज तैराक मछली है। कभी.कभी इस सतह के पास भी तैरते हुए देखा जा सकता है। यह पानी की सतह पर अपने पीठ के पंख और पूंछ की सहायता से तैरती है।
  • हैमर शार्क की छाती के पंख बहुत छोटे होते हैं। इसलिए यह अपने सिर से बढ़े हुए भाग की सहायता से शारीरिक संतुलन बनाए रखने का कार्य करती है।
  • यह अकेली रहना पसंद करती है। किन्तु कभी कभार इसके छोटे झुण्ड भी देखने को मिल जाते हैं। इसके झुण्ड के सदस्यों की संख्या प्रायरू 6 होती है।
  • हैमर शार्क की 5 जातियां हैं। सभी जातियों की आंखों एवं नथुनों की स्थिति में भिन्नता होती है।
  • हैमर शार्क के सिर की बनावट भी सभी जातियों में एक सी नहीं होती है। इसकी कुछ जातियों में सिर के आगे का भाग गोल होता है एवं कुछ जातियों में यह सीधा होता है।
  • इसकी कुछ प्रजातियां ऐसी भी होती हैंए जिनके सिर के आगे का भाग आड़ा.तिरछा होता है। एक प्रजाति ऐसी भी होती हैए जिसका सिर गुर्दे की शक्ल का होता है।
  • इसके सिर के प्रत्येक बढ़े हुए भाग के सिरे पर एक.एक आंख होती है और आंख के बगल में एक नथुना होता है। इसके नथुने से इसे विभिन्न प्रकार की गंध पहचानने की सुविधा रहती है।
  • हैमर शार्क की पांचों जातियों के आकार एवं स्वरूप में बहुत अधिक अंतर होता है। सबसे बड़ी हैमर शार्क को ग्रेट हैमर्ड हेड शार्क कहते हैं। इसकी लम्बाई करीब 6 मीटर और वजन 910 किलोग्राम तक होता है। इसकी आखों के मध्य की दूरी एक मीटर तक हो सकती है।
  • बोनेट हैमर शार्क सबसे छोटी होती है। इसकी लम्बाई लगभग 1ण्5 मीटर होती है।
  • इसकी प्रायरू सभी जातियों का रंग एक सा ही होता है। इनकी पीठ और ऊपर का भाग भूरे रंग एवं नीचे का भाग हल्के रंग का होता है।
  • इसे जापान में अधिक खाया जाता है। हालांकि यह मानव के लिए घातक होती है।
  • हैमर शार्क प्रायरू समुद्री नावों का पीछा करती है। इसलिए नावों और स्टीमर पर सवार लोगों को सावधान रहना पड़ता है।
newsletter

Anand Mani Tripathi

आनंद मणि त्रिपाठी (@aanandmani) राजनीति, अपराध, विदेश, रक्षा एवं सामरिक मामलों के पत्रकार हैं। पत्रकारिता के तीनों माध्यम प्रिंट, टीवी और आनलाइन में गहरा और अपनी तेज तर्रार रिपोर्टिंग के लिए जाने जाते हैं। पश्चिम बंगाल के कलकत्ता में जन्म हुआ। प्रारंभिक शिक्षा उत्तर प्रदेश के कानपुर और बस्ती में हुई। माध्यमिक शिक्षा नवोदय विद्यालय बस्ती, फैजाबाद और पूर्वोत्तर त्रिपुरा के धलाई जिले में हुई। अयोध्या के साकेत महाविद्यालय से स्नातक और 2009 में जेआईआईएमसी,दिल्ली से पत्रकारिता का डिप्लोमा किया।
हरियाणा से पत्रकारिता आरंभ की। शिक्षा, विज्ञान, मौसम, रेलवे, प्रशासन, कृषि विभाग और मंत्रालय की रिपोर्टिंग की। इंवेस्टिगेटिव रिपोर्टिंग से शिक्षा और रेलवे विभाग के कई भ्रष्टाचार का खुलासा किया। रक्षा मंत्रालय के रक्षा संवाददाता पाठयक्रम-2016 पूरा किया। इसके बाद रक्षा मामलों की पत्रकारिता शुरू कर दी। चीन, पाकिस्तान और कश्मीर मामलों पर तीक्ष्ण नजर रहती है।
लेफ्टिनेंट उमर फैयाज की हत्या 2017, राइफलमैन औरंगजेब की हत्या 2018, जम्मू—कश्मीर में बदले 2018 में बदले राजनीतिक समीकरण, पुलवामा हमला 2019, कश्मीर से 370 का हटना, गलवान घाटी मुठभेड़ 2020 को बेहद करीब से जम्मू और कश्मीर में रहकर ही कवर किया। कोरोना काल 2020 में भी लददाख से नेपाल तक की यात्रा चीन के बदलते समीकरण को लेकर की।
इसके साथ ही लोकसभा चुनाव 2019 में जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और पंजाब की रिपोर्टिंग की। 9 नवंबर 2019 को श्रीराम जन्म भूमि अयोध्या मामले में आए फैसले की अयोध्या से कवर किया। 2022 उत्तरप्रदेश् चुनाव को सहारनपुर से सोनभद्र तक मोटर साइकिल के माध्यम से कवर किया। पत्रकारिता से इतर आनंद मणि त्रिपाठी को संगीत और पर्यटन का जबरदस्त शौक है। इन्हें किसी भी कार्य में असंभव शब्द न प्रयोग करने के लिए जाना जाता है…

अगली खबर

right-arrow



राजस्थान की और समाचार देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Rajasthan News