स्कूलों में नहीं लगे बायोमेट्रिक तो खुशी से पागल हुए शिक्षक, मिले गायब | Biometrics not installed in schools Teachers found missing | Patrika News

0
68


स्कूलों में नहीं लगे बायोमेट्रिक तो खुशी से पागल हुए शिक्षक, मिले गायब | Biometrics not installed in schools Teachers found missing | Patrika News

शासन प्रशासन ने इंटर कालेजों में बायोमैट्रिक हाजिरी की व्यवस्था की है और आदेश दिए है कि कालेज में जब अध्यापक पढ़ाने के लिए जाएं तो सबसे पहले वह अपने अंगूठे को मशीन में लगाएं। यह हाजिरी की मशीन में अंगूठा लगाते ही उपस्थिति दर्ज हो जाएगी। लेकिन पता चला कि कुछ राजकीय कालेज अब भी ऐसे है जिनमें बिजली या इंटरनेट की व्यवस्था सही नहीं है। जिसके कारण बायोमैट्रिक शुरू नहीं हो सकी।

यह भी पढ़ें

पहले दिन खुले स्कूल, 430 में से पहुंचे मात्र 30 बच्चे, नहीं कोई व्यवस्था

35 स्कूलों में नहीं लगी मशीन जनपद भर में कुल इंटर कालेजों की संख्या 229 है। इसमें से 35 राजकीय है और शेष सहायता प्राप्त व वित्त विहीन है। बायोमैट्रिक की जानकारी ली गई तो पता चला कि राजकीय कालेज अभी 35 में से कुछ ऐसे है जहां पर अभी तक व्यवस्थाएं अधूरी होने के कारण इस सेवा को शुरू ही नहीं किया और इसी कारण यह नहीं पता चल सकता है कि बच्चों को पढ़ाने वाले गुरु जी कितने समय पर आए और कितने गुरु जी बच्चों के आने के बाद पहुंचे।

बोले डीआईओएस डीआईओएस कोमल सिंह बोले कि बायोमैट्रिक हाजिरी के लिए सभी कालेज में शुरू करने के निर्देश दे दिए गए है। अभी कुछ सरकारी कालेज में शुरू हो गई है। उन्होने कहा कि कुछ राजकीय कालेज में अभी बायोमैट्रिक शुरू नहीं हुई जहां जल्द ही शुरू की जाएगी।





Source link