सुशील मोदी का अल्टीमेटम, कहा- शराबकांड के पीड़ितों को मुआवजा दिलाने के लिए किसी भी हद तक जाएगी बीजेपी

0
32

सुशील मोदी का अल्टीमेटम, कहा- शराबकांड के पीड़ितों को मुआवजा दिलाने के लिए किसी भी हद तक जाएगी बीजेपी

ऐप पर पढ़ें

बिहार के सारण के जहरीली शराबकांड के मृतकों के परिजनों से मिलकर लौटे बीजेपी नेता और राज्यसभा सांसद सुशील मोदी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान उन्होने नीतीश सरकार को जमकर घेरा। सुशील मोदी ने कहा कि जहरीली शराब से मरने वालों का आंकड़ा 100 के पार चला गया है। और सरकार मरने वालों का आंकड़ा छिपा रही है। शराब पीकर लोगों के मारे जाने पर प्रशासन लाशों को जलवा रही है। ताकि आंकड़ों को छुपाया जा सके। उन्‍होंने कहा कि लोगों को धमकाया जा रहा है।

पीड़ित परिवारों को मिले मुआवजा

सुशील मोदी ने कहा कि सरकार को सारण कांड के मृतक के परिजनों को मुआवजा देना ही होगा। जब गोपालगंज के पीडितों को पैसा दिया गया तो सारण को क्यों नहीं। नीतीश सरकार हठ छोड़े और 4-4 लाख रुपए के मुआवजे का प्रावधान करे। जहरीली शराब पीकर मरने वाले ज्‍यादातर लोग गरीब ओर कमजोर तबके से आते हैं। इस लिए सरकार को उन्‍हें मुआवजा देना चाहिए। सुशील मोदी ने कहा कि नीतीश कुमार बीजेपी के बारे में सदन में कहते हैं,  कि ये सब शराबी है, इन्हे भगाओ , बर्बाद हो जाओगे। बीजेपी हमेशा पूर्ण शराबबंदी के पक्ष में रही है। अगर नीतीश जी से बिहार नहीं संभल पा रहा है तो वो त्यागपत्र दे दें। बीते 6 सालों में बिहार में शराब से 1000 से ज्यादा मौत हो चुकी है। 

सीएम अहंकार में कहते हैं ‘जो पीएगा वो मरेगा’

सुशील मोदी ने आरोप लगाया कि जिस शराब को पीने से सैकड़ों लोगों की मौत हुई। उसे बनाने के लिए स्प्रिट स्थानीय मशरक थाने से आपूर्ति की गई थी। नेशनल क्राइम रिकॉर्ड में भी राज्य सरकार आंकड़ों को छुपा रही है। सरकार 6 सालों में केवल 23 लोगों की मौत का आंकड़ा गिना रही है। ये प्रावधान है कि अगर जहरीली शराब से मौत पर मृतकों को 4 लाख रुपए और उससे घायल को 2 लाख रुपए मुआवजा देने का प्रावधान है। ये रकम शराब बेचने वाले से वसूला जाएगा और मृतक के परिजन को दिया जाएगा। सुशील मोदी ने कहा सरकार ऐसा क्‍यों नहीं करती है। इसके उलट नीतीश कुमार कहते हैं जो पीएगा वो मरेगा। 

बीजेपी से माफी मांगें नीतीश कुमार 

सुशील मोदी ने कहा नीतीश कुमार बीजेपी वालों को धमकी देते हैं कि बर्बाद हो जाओगे, इस बयान के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को बीजेपी से माफी मांगनी चाहिए। उन्‍होंने सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा कि सरकार ने केवल छोटे अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है। वहीं, एसपी और डीएसपी पर कोई करवाई नहीं की गई है। सुशील मोदी ने कहा, किसी दरोगा की इतनी हिम्मत नहीं है कि बिना एसपी के संरक्षक के शराब बिकवा ले। उन्‍होंने एक बार फिर नीतीश कुमार से इस्‍तीफे की मांग करते हुए कहा कि उन्‍हें जल्द से जल्द इस्तीफा देकर तेजस्वी को मुख्यमंत्री बना देना चाहिए। ताकि वो शराब बेचने वालों पर नियंत्रण पा सके, क्योंकि ये शराब बेचने वाले तेजस्वी के आदमी हैं।

बिहार की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Delhi News