राजस्थान में राहुल ने बताया किस मुद्दे को लेकर भारत जोड़ो यात्रा पर निकलें, PM मोदी को लेकर कही यह बड़ी बात

0
105

राजस्थान में राहुल ने बताया किस मुद्दे को लेकर भारत जोड़ो यात्रा पर निकलें, PM मोदी को लेकर कही यह बड़ी बात

जयपुर: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा है कि वे देश के तीन बड़े मुद्दों लेकर भारत जोड़ो यात्रा पर निकले हैं। पहला मुद्दा बेरोगजारी का है जिससे आज देश का हर युवा परेशान है। दूसरा मुद्दा महंगाई का है जिसने हर घर का बजट बिगाड़ दिया है और तीसरा नफरत की राजनीति का है जिसके जरिए लोगों में द्वैषता फैलाई जा रही है। इन तीन मुद्दों को लेकर वे कन्याकुमारी से लेकर कश्मीर तक यात्रा कर रहे हैं। भारत जोड़ो यात्रा का मकसद यही कि देश के लोग इन मुद्दों को जाने और उनके बारे में बात करे। भारत जोड़ो यात्रा के दौरान दौसा में मीडिया से मुखातिब होते हुए राहुल गांधी ने ये बातें कही।

बीजेपी के राज में रोजगार नहीं मिल सकता – राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा कि कन्या कुमारी से अब तक की यात्रा में उन्हें हजारों ऐसे युवा मिले हैं जिन्होंने रोजगार को लेकर शिकायतें की। इंजीनियरिंग किए हुए युवा आज टैक्सी चलाने और मजदूरी करने को मजबूर हैं। ये हालात हैं हिन्दुस्तान के। राहुल गांधी ने कहा कि जो लोग गरीब हैं, बेरोजगार हैं, उन्हें कोई रास्ता नहीं दिख रहा लेकिन देश में 5-6 अरबपति ऐसे हैं जिन्हें सब कुछ मिल जाता है। वे एयरपोर्ट खरीद लेते हैं, पोर्ट्स खरीद लेते हैं। सड़कें भी वही बनाते हैं और खेती भी वही करते हैं। सारा देश उन 5-6 अरबपतियों के हाथ में है और यह देश के लिए बहुत गहरी चोट है।

महंगाई ने देश के हर घर का बजट बिगाड़ दिया

राहुल गांधी ने कहा कि दूसरा बड़ा मुद्दा देश में महंगाई का है जो लगातार बढती जा रही है। पहले (यूपीए शासन के दौरान) घरेलू गैस सिलेंडर 400 रुपए का आता था जो आज 1100 रुपए का मिल रहा है। पेट्रोल के दाम पहले 60 रुपए प्रति लीटर हुआ करते थे आज 110 रुपए प्रति लीटर है। डीजल के दाम 55 रुपए लीटर हुआ करता था लेकिन आज डीजल 93 रुपए लीटर मिल रहा है। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट आ चुकी है इसके बावजूद भी डीजल और पेट्रोल के दाम कम नहीं किए जा रहे हैं। राहुल गांधी ने कहा कि ये जो पैसा आपकी जेब से निकल रहा है, वह देश के 5 पूंजीपतियों के हाथों में जा रहा है। किसानों के परिवारों की जेब से पैसा निकाल कर कुछ पूंजीपतियों को दिया जा रहा है। इसे समझने की जरूरत है।

वेणुगोपाल के बयान ने फिर बढ़ाई उलझन, गहलोत- पायलट कौन पड़ेगा भारी, पिक्चर अभी बाकी है….

देश में फैलाई जा रही है नफरत की राजनीति

राहुल गांधी ने कहा कि केन्द्र सरकार की योजनाओं के जरिए जनता में डर का माहौल बनाया जा रहा है। पहले नोटबंदी लाई गई, बाद में मनमर्जी की जीएसटी थोप दी गई। इससे देश के आम व्यापारी और मीडिल मेन के दिलों में डर बैठ गया है। इसी डर की वजह से उनके दिलों में नफरत पैदा हो गई है। राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी और आरएसएस देश में नफरत फैलाने का काम करती है। लोगों को एक दूसरे से लड़ाया जा रहा है। अगर एक घर के सदस्य आपस में लड़ते रहेंगे तो वे आगे नहीं बढ सकते। उसी तरह देश में लोग आपस में लड़ते रहेंगे तो देश तरक्की नहीं कर सकता। नोटबंदी और जीएसटी दो हथियार हैं जो छोटे व्यापारियों और दुकानदारों को खत्म कर रहे हैं। गुड़, बेसन और आटा खरीदने पर ही जीएसटी थोप दिया गया। इससे छोटे दुकानदारों को भारी नुकसान हो रहा है।

4-5 पूंजीपतियों के इशारे पर काम कर रहे मोदी

राहुल गांधी ने कहा कि देश के 55 करोड़ लोगों के पास जितना धन है, उतना धन केवल 100 लोगों के पास है। इन 100 लोगों में 5-6 लोग ऐसे हैं जैसे वे महाराजा हों। पूरी सरकार, पूरा मीडिया और पूरी ब्यूरोक्रेसी उन्हीं के इशारे पर काम करती है। राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी उन्हीं के इशारों पर काम करते हैं। उन्हीं लोगों के इशारों पर छोटे और मीडिल साइज व्यापारियों को खत्म किया जा रहा है। उन्हीं के कहने पर निर्णय लिए जाते हैं।

प्रियंका गांधी ने दौड़ में सबको पीछे छाेड़ा, देखें राजस्थान में भारत जोड़ा यात्रा का वायरल वीडियो

राजस्थान की और समाचार देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Rajasthan News