राजस्थान में पेयजल को लेकर बढ़ी चिंता… सरकार जुटी | WATER SUPPLY DEPARTMENT JAIPUR SUMMER CONTINGENCY PLAN | Patrika News

0
98

राजस्थान में पेयजल को लेकर बढ़ी चिंता… सरकार जुटी | WATER SUPPLY DEPARTMENT JAIPUR SUMMER CONTINGENCY PLAN | Patrika News

Water supply department जयपुर। प्रदेश में गर्मियों में पेयजल को लेकर जलदाय विभाग की चिंताएं अभी से बढ़ गई है। Drinking Water in Summer इसे लेकर विभाग ने दो माह पहले से ही तैयारियां शुरू कर दी है। Jaipur Drinking Water summer Plan सबसे अधिक चिंता राजधानी में पेयजल को लेकर सता रही है। इसे लेकर बीसलपुर पेयजल परियोजना के पंप हाउस सहित जलाशयों, पम्पिंग स्टेशनों के रखरखाव व मरम्मत का काम किया है।

जयपुर

Published: February 15, 2022 09:18:57 am

Water supply department जयपुर। प्रदेश में गर्मियों में पेयजल को लेकर जलदाय विभाग की चिंताएं अभी से बढ़ गई है। Drinking Water in Summer इसे लेकर विभाग ने दो माह पहले से ही तैयारियां शुरू कर दी है। Jaipur Drinking Water summer Plan सबसे अधिक चिंता राजधानी में पेयजल को लेकर सता रही है। इसे लेकर हाल ही विभाग ने 13 साल बाद दो दिन का शटडाउन लेकर बीसलपुर पेयजल परियोजना के पंप हाउस सहित जलाशयों, पम्पिंग स्टेशनों के रखरखाव व मरम्मत का काम किया है, वहीं अब प्रदेश के सभी जिलों में कंटीजेंसी प्लान में आकस्मिक कार्यों के लिए 50-50 लाख रुपए की स्वीकृति जारी की है। प्रदेश के 17 जिलों में जल परिवहन पर 12.34 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इसकी भी स्वीकृति जारी कर दी गई है।

Copy

राजस्थान में पेयजल को लेकर बढ़ी चिंता… सरकार जुटी

विभाग के अधिकारियों की मानें तो जलदाय विभाग ने गर्मियों में पेयजल प्रबंधन के लिए अग्रिम तैयारी की है। प्रदेश में आगामी गर्मियों में पानी की संभावित अतिरिक्त मांग को देखते हुए जलदाय विभाग ने जिला कलक्टर्स को कंटीजेंसी प्लान के तहत आकस्मिक कार्यों के लिए 50-50 लाख रुपये की स्वीकृति जारी की गई है। जलदाय मंत्री डॉ. महेश जोशी की मंजूरी के बाद विभाग की ओर से इस सम्बंध में आदेश जारी कर दिया गया है। डॉ. जोशी ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे प्रदेश के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में कंटीजेंसी प्लान के तहत स्वीकृत राशि का उपयोग करने के लिए अपने-अपने क्षेत्रों में जिला कलक्टर्स के साथ समन्वय से कार्य करे, जिससे किसी भी आकस्मिक कार्य के लिए इस राशि का उपयोग कर मौके पर लोगों की पेयजल जरूरतों को पूरा किया जा सके।

राजधानी में पेयजल आपूर्ति के लिए किया ये काम…
शहर में आगामी गर्मियों जनता को बीसलपुर प्रोजेक्ट से निर्बाध रूप से निर्धारित मात्रा में स्वच्छ पेयजल आपूर्ति करने के लिए पिछले दिनों 2 दिन का शटडाउन लिया गया। इसमें बीसलपुर सिस्टम के तहत लगभग 100 किमी लम्बाई में मुख्य ट्रांसमिशन मैन व लगभग 130 किमी लम्बाई में ट्रांसफर मैन में लीकेज मरम्मत का कार्य, सूरजपुरा पम्प हाउस, बालावाला पम्प हाउस, रामनिवास बाग पम्प हाउस, पृथ्वीराज नगर के वेस्टर्न फीडर, अमानीशाह एवं जवाहर सर्किल पम्पिंग स्टेशनों में रिपेयर व मेंटेनेंस के काम कराए गए।

जल परिवहन पर खर्च होंगे 12.34 करोड
प्रदेश के 17 जिलों में जल परिवहन की व्यवस्था के लिए चालू वित्तीय वर्ष के अंतिम तीन माह में 12.34 करोड़ रुपए खर्च होंगे। इसमें से तीन जिलों पाली, सिरोही एवं जैसलमेर के लिए 769.92 लाख रुपये की राशि अकाल मद से खर्च होगी।

जल परिवहन पर कहां कितना होगा खर्च
जिला — राशि
अजमेर — 17.58 लाख
भीलवाड़ा — 22.84 लाख
करौली — 20.09 लाख
बीकानेर — 13 लाख
गंगानगर — 6.04 लाख
दौसा — 32.04 लाख
सीकर — 11.96 लाख
बारां — 44.30 लाख
बूंदी — 51.84 लाख
झालावाड़ — 10.92 लाख
चितौड़गढ़ — 42.78 लाख
राजसमंद — 18.03 लाख
उदयपुर — 16.50 लाख
प्रतापगढ़ — 2.09 लाख

newsletter

अगली खबर

right-arrow



राजस्थान की और समाचार देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Rajasthan News