‘यूनिफॉर्म और दूध देकर झूठी वाहवाही लूट रही कांग्रेस, योजना पूर्व BJP सरकार की देन’, देवनानी ने गहलोत पर बोला हमला

0
129

‘यूनिफॉर्म और दूध देकर झूठी वाहवाही लूट रही कांग्रेस, योजना पूर्व BJP सरकार की देन’, देवनानी ने गहलोत पर बोला हमला

अजमेर: राजस्थान के पूर्व शिक्षा मंत्री और अजमेर उत्तर के बीजेपी विधायक वासुदेव देवनानी ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर स्कूली बच्चों को दूध और यूनिफॉर्म देने की योजना को लेकर निशाना साधा। पूर्व मंत्री वासुदेव देवनानी ने गहलोत सरकार पर झूठी वाहवाही लूटने का आरोप लगाया। देवनानी ने कहा कि स्कूली बच्चों को दूध देने की योजना दरअसल बीजेपी सरकार की है, लेकिन कांग्रेस ने सत्ता में आने के बाद इस योजना को बंद कर दिया था। अब चूंकि विधानसभा चुनाव होने में एक साल का समय रह गया है, इसलिए कांग्रेस सरकार केवल बच्चों व उनके अभिभावकों को गुमराह करने के साथ-साथ उनसे छलावा कर रही है।

देवनानी ने कहा कि पूर्ववर्ती बीजेपी शासनकाल में स्कूली बच्चों को सप्ताह में छह दिन दूध दिया जा रहा था। कांग्रेस ने सत्ता में आते ही इसे बंद कर दिया। पूरे चार साल तक सरकार दूध योजना पर कुंडली मारकर बैठी रही। अब सप्ताह में केवल दो दिन दूध देने की योजना मंगलवार से शुरू की गई है। उन्होंने कहा कि जब पूर्ववर्ती बीजेपी सरकार छह दिन बच्चों को दूध दे रही थी, तो कांग्रेस को भी पूरे छह दिन ही दूध दिए जाने की व्यवस्था करनी चाहिए थी। लेकिन गहलोत सरकार ने अब यह योजना शुरू की है, तो बच्चों के मुंह से चार दिन का दूध छीन लिया है।

शिक्षा व्यवस्था का पूरा ढांचा चरमरा गया: देवनानी
देवनानी ने कहा कि कांग्रेस सरकार अस्थिरता में चल रही है। उसे खुद पता नहीं है कि वह कितने दिन रहेगी। फिर भी सरकार ने शिक्षा क्षेत्र को पूरी तरह मजाक बनाकर रख दिया है। शिक्षा व्यवस्था का पूरा ढांचा चरमरा गया है। विद्यार्थियों और अभिभावकों पर बेवजह आर्थिक भार डाला जा रहा है। यूनिफॉर्म सिलाई का अभिभावकों पर अतिरिक्त बोझ पड़ेगा, जिसे कोई भी सहन करने की स्थिति में नहीं है। सिलाई का सारा खर्च सरकार को खुद वहन करना चाहिए। देवनानी ने कहा कि यदि कांग्रेस सरकार बच्चों के पोषण और स्वास्थ्य के प्रति इतनी ही चिंतित थी, तो उसे सत्ता संभालते ही दूध योजना शुरू कर देनी चाहिए थी। लेकिन अब उसे चुनाव देखकर बच्चों के पोषण और स्वास्थ्य की चिंता सताने लगी है।

यूनिफॉर्म योजना भी पूर्ववर्ती बीजेपी शासनकाल की थी सोच: देवनानी
उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार केवल दिखावा और ढोंग कर रही है। पिछले चार साल से डिब्बों में बंद पड़ा हुआ दूध पाउडर खराब हो गया है। डिब्बों को चूहे कुतर गए हैं। लेकिन कांग्रेस सरकार ने इन डिब्बों की सुध नहीं ली। देवनानी ने कहा कि यूनिफॉर्म योजना भी पूर्ववर्ती बीजेपी शासनकाल की सोच थी। लेकिन चुनाव का ऐलान होने के कारण इस पर अमल नहीं हो पाया था। बीजेपी शासन में कक्षा एक से आठ तक के बच्चों को निशुल्क यूनिफॉर्म दिए जाने की योजना थी और कक्षा नौ से 12 तक बच्चों की यूनिफॉर्म का रंग बदला था। लेकिन कांग्रेस ने सत्ता में आते ही बीजेपी शासनकाल में जो यूनिफॉर्म तय की थी, उसे बदल दिया था।

देवनानी ने कहा कि अब चार साल बाद कांग्रेस यूनिफॉर्म का रंग बदला जा रहा है, जिसकी कोई तुक नजर नहीं आती है। बीजेपी शासनकाल में बीस साल बाद यूनिफॉर्म बदली गई थी, किंतु कांग्रेस चार साल में ही यूनिफॉर्म बदल रही है। इसमें भी बच्चों को दो यूनिफॉर्म की सिलाई के लिए केवल 200 रुपए दिए जा रहे हैं। देवनानी ने सवाल किया, कांग्रेस सरकार और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बताएं कि दो यूनिफॉर्म की सिलाई मात्र 200 रुपए में कैसे हो सकती है। जबकि बाजार में एक यूनिफॉर्म की सिलाई कई गुणा अधिक होती है।

राजस्थान की और समाचार देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Rajasthan News