मुख्यमंत्री Yogi Adityanath ने दिए ‘राशन कोटेदारों’ के लिए अच्छी खबर | Chief Minister Yogi Adityanath gave good news for ration kotdars | Patrika News

0
87

मुख्यमंत्री Yogi Adityanath ने दिए ‘राशन कोटेदारों’ के लिए अच्छी खबर | Chief Minister Yogi Adityanath gave good news for ration kotdars | Patrika News

योगी बाबा गंभीर नाथ प्रेक्षागृह एवं सांस्कृतिक केन्द्र में आयोजित उचित दर विक्रेताओं को सी0एस0सी0 के रूप में सक्षम बनाए जाने के लिए राज्य सरकार एवं सी0एस0सी0 ई-गवर्नेंस सर्विस इंडिया लि0 के मध्य एम0ओ0यू0 हस्तान्तरण एवं उचित दर विक्रेताओं के लाभांश में वृद्धि कर उन्हें आर्थिक रूप से स्वावलम्बी बनाये जाने के कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश के 80 हजार राशन के उचित दर विक्रेताओं के जीवन में व्यापक परिवर्तन लाने का यह एक अभियान है। इस अवसर पर कोटे की दुकानों को सी0एस0सी0 के रूप में विकसित करने के लिए राज्य सरकार एवं सी0एस0सी0 ई-गवर्नेंस सर्विस इंडिया लि0 के बीच एम0ओ0यू0 का आदान-प्रदान किया गया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोटेदारों को लोग बड़ी हेय दृष्टि से देखते थे, लोगों की सोच में परिवर्तन हो, इसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रेरणा से पूरे देश में तकनीक का अधिक उपयोग करने का अभियान प्रारम्भ हुआ। वर्ष 2017 के पहले उत्तर प्रदेश के लिये यह एक सपना था, क्योंकि हमारे पास 80 हजार राशन कोटे की दुकानें थीं। इनमें समयबद्ध ढंग से ई-पॉस मशीन लगाने का कार्य हुआ और 3 वर्ष के अन्दर ही कोरोना महामारी के आगमन के साथ प्रदेश के 15 करोड़ लोगो को राशन की सुविधा देना प्रारम्भ किया गया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के अन्दर कोटेदारों ने जितनी अच्छी व्यवस्था देने का कार्य किया है, उसकी सर्वत्र सराहना हुई। पैसा और सुविधा सरकार दे रही है, लेकिन अन्न कोटेदारों के माध्यम से गरीबों तक पहुंचता है। इस श्रेय को ध्यान में रखकर उनका लाभांश जो पहले प्रति कुन्तल 70 रुपये था, उसमें 20 रुपये की वृद्धि कर 90 रुपये प्रति कुन्तल किया जा रहा है। इसके साथ उन्हें सी0एस0सी0 की सुविधा भी प्राप्त हो रही है।

उचित दर की दुकानों के माध्यम से ई-स्टैम्प बिक्री की सुविधा, आय प्रमाण-पत्र, जाति प्रमाण-पत्र आदि की सुविधा को आगे बढ़ा सकते हैं। इसके साथ ही, वहां पर बैंकिंग सुविधाएं दी जानी चाहिए। बिजली के बिल को जमा करने के साथ ही बहुत सारी सेवाएं आपके माध्यम से सामान्य नागरिक को मिल सकती हैं, इससे आपकी आय भी बढ़ेगी।

Copy

मुख्यमंत्री ने कहा कि आय बढ़ाने और ईमानदारी के साथ कार्य करने का सुख व्यक्ति के लिये अनुपम होता है। बेईमानी से व्यक्ति कितना भी कमा ले, लेकिन वह कभी फलता नहीं है। व्यक्ति सदैव परेशान और भयभीत रहता है। विगत 5 वर्षो में देश में सबसे अच्छा खाद्यान्न वितरण का कार्य उत्तर प्रदेश में हुआ है। सबसे बड़ी आबादी का प्रदेश होने के बावजूद राज्य सरकार तकनीक को अपनाकर इसे सफल करने में सम्भव हुई है।

उत्तर प्रदेश की एक बड़ी आबादी है जो राशन कार्ड धारक है और वह देश में कहीं से भी राशन ले सकती है। किसी निराश्रित, दिव्यांग की मदद करना पुण्य का भागीदार बना देता है। प्रत्येक गरीब को बिना भेदभाव के सुविधा का लाभ कोटेदार पहुंचाते हैं। ईमानदारी के साथ कार्य करने के कारण कोटेदारो के लाभांश को बढ़ाने एवं सुविधाओं को जोड़ने की कार्यवाही को आगे बढ़ाया गया है। इस कार्यक्रम से प्रदेश के 80 हजार राशन कोटेदार जुड़ रहे हैं।



उत्तर प्रदेश की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Uttar Pradesh News