मुंबई में ड्रग्‍स माफिया कैसे करता है काम, NCB कैसे करती है धरपकड़, ये वेब सीरीज सब समझा देगी

0
113


मुंबई में ड्रग्‍स माफिया कैसे करता है काम, NCB कैसे करती है धरपकड़, ये वेब सीरीज सब समझा देगी

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से ही मुंबई में ड्रग्‍स के मकड़जाल पर हर भारतीय की नजर है। नारकोटिक्‍स कंट्रोल ब्‍यूरो लगातार ड्रग्‍स के इस गोरखधंधे पर नकेल कसने की हर संभव कोश‍िश में जुटा है। जाहिर तौर पर ऐसे में हर किसी के जेहन में एक सवाल जरूर है कि आख‍िर ड्रग्‍स का धंधा चलता कैसे है? ड्रग्‍स देश की आर्थ‍िक राजधानी पहुंचता कैसे है और आख‍िर NCB कैसे यह पता लगाती है कि कहां ड्रग की डील हो रही है? इन तमाम सवालों के सटीक जवाब के लिए जाहिर तौर पर इससे जुड़ी जांच के अध‍िकारी ही पुष्‍ट तौर पर कुछ बता सकते हैं। लेकिन ड्रग्‍स के धंधे और NCB के काम करने के तरीके पर बनी एक वेब सीरीज ऐसी है, जो आपको इसी रूप-रेखा जरूर दे देती है। नेटफ्ल‍िक्‍स की वेब सीरीज ‘पाउडर’ में पंकज त्र‍िपाठी हैं। NCB चीफ के किरदार में मनीष चौधरी हैं। पुलिस अफसर की भूमिका में ‘आर्या’ फेम विकास कुमार हैं। यह सीरीज देखने लायक है, क्‍योंकि इसमें न सिर्फ थ्र‍िल है, बल्‍क‍ि यह आपको ड्रग्‍स के गोरखधंधे और NCB की कार्यप्रणाली के बारे में बहुत कुछ समझा देती है।

‘पाउडर’ वेब सीरीज की कहानी
साल 2010 में Powder Series टीवी पर रिलीज हुई थी। बाद में इसे ओटीटी प्‍लेटफॉर्म Netflix पर रिलीज किया गया। अपने नाम के मुताबिक ही यह पूरी तरह से मुंबई में ड्रग्‍स के धंधे पर आधारित है। कहानी के केंद्र में दो लोग हैं। एक नारकोटिक्‍स कंट्रोल ब्‍यूरो यानी NCB का हेड उस्‍मान मलिक है। इस किरदार में मनीष चौधरी हैं। जबकि दूसरे हैं मुंबई में ड्रग माफिया का सिरमौर नावेद अंसारी। इस रोल में पंकज त्रिपाठी हैं। उस्‍मान और नावेद मुंबई की झुग्‍गी बस्‍ती में कभी साथ पले-बढ़े। एक ने देश सेवा को चुना और दूसरे ने अपराध को।

नावेद अंसारी के रोल में पंकज त्र‍िपाठी

Copy

navbharat times -Top 10 Hindi Web Series 2022: आ गई साल की टॉप 10 हिंदी वेब सीरीज की लिस्‍ट, चेक कर लीजिए आपने कौन सी नहीं देखी
NCB की परेशानी और नावेद अंसारी का सपना
‘पाउडर’ वेब सीरीज में NCB की सबसे बड़ी परेशानी ये है कि वह नावेद अंसारी के गोरखधंधे के बारे में जानती तो सबकुछ है, लेकिन उसके पास इसे साबित करने के लिए कोई सुबूत नहीं है। नावेद NCB अध‍िकारियों के लिए किसी साए की तरह है। जिसकी मौजूदगी का एहसास तो सबको है, लेकिन कोई उसे छू नहीं सकता। दूसरी ओर नावेद ड्रग्‍स के धंधे के साथ-साथ राजनीति में अपनी किस्‍मत चमकाने के लिए भी दांव खेल रहा है।

पाउडर वेब सीरीज में बृंदा के किरदार में गीतिका त्‍यागी।

navbharat times -Sex Life Web Series: दो बच्‍चों की मां पति संग सेक्‍स लाइफ से नाखुश है, एक्‍स बॉयफ्रेंड लौट आया है, अब वो क्‍या करे?
विकास कुमार और राहुल बग्‍गा की दमदार एक्‍ट‍िंग
यह सीरीज सिर्फ ड्रग्‍स के धंधे और नारकोटिक्‍स ब्‍यूरो के काम के तरीके पर ही बात नहीं करती। यह पुलिस और NCB के बीच की खींचतान को भी दिखाती है। यह ईमानदारी, धोखा, लालच, प्‍यार और ताकत पाने की लालसा की भी कहानी है। इस सीरीज में एक और एजेंसी का जिक्र बार-बार आता है, जिसे DRI नाम दिया गया है। यानी डायरेक्‍टरेट ऑफ रेवेन्‍यू इंटेलिजेंस। यकीनन पंकज त्रिपाठी और मनीष चौधरी सीरीज की जान हैं। लेकिन इसमें विकास कुमार, राहुल बग्‍गा के साथ ही रसिका दुग्‍गल और गीतिका त्‍यागी के किरदार ने खूब रंग जमाया है।

navbharat times -Web Series to Watch: एक डॉक्‍टर बीवी, मुख्‍यमंत्री की सर्जरी और एक फोन कॉल- CM को मार दो वर्ना… खेल खत्‍म
28 एपिसोड, लेकिन बोर नहीं करती
‘पाउडर’ वेब सीरीज को अतुल सभरवाल ने डायरेक्‍ट किया है। कहानी भी उन्‍होंने ही लिखी है। सीरीज की कहानी में उनकी रिसर्च और मेहनत झलकती है। सबसे अच्‍छी बात यह है कि 28 एपिसोड की यह सीरीज कहीं भी आपको बोर होने का मौका नहीं देती है। कुल मिलाकर कुछ अच्‍छा, दमदार और दिलचस्‍प देखने की चाहत रखते हैं तो यह वेब सीरीज इस हफ्ते आपके लिए परफेक्‍ट है।



Source link