भारत जोड़ो यात्रा की राजस्थान में ‘एंट्री’, राहुल के साथ मंच पर गहलोत, कमलनाथ, पायलट मौजूद | ‘Entry’ of Bharat Jodo Yatra in Rajasthan, Gehlot, Kamal Nath, Pilot | Patrika News

0
48

भारत जोड़ो यात्रा की राजस्थान में ‘एंट्री’, राहुल के साथ मंच पर गहलोत, कमलनाथ, पायलट मौजूद | ‘Entry’ of Bharat Jodo Yatra in Rajasthan, Gehlot, Kamal Nath, Pilot | News 4 Social

यात्रा का विश्राम स्थल चऊंली गांव में खेतों में रहेगा। यात्रियों के रूकने और भोजन की व्यवस्था यहीं की गई है। सोमवार सुबह छह बजे से यात्रा की औपचारिक शुरूआत झालावाड़ के काली तलाई स्थल से होगी। यात्रा छह जिलों से गुजरेगी और 18 विधानसभा इलाके भी इस दौरान आएंगे। यात्रा में 521 किलोमीटर का पैदल सफर किया जाएगा। 21 दिसंबर तक यात्रा राजस्थान में रहेगी। इसके बाद अलवर से हरियाणा में प्रवेश कर जाएगी।

वसुंधरा के गढ़ झालरापाटन से शुरूआत— भारत जोड़ो यात्रा मध्यप्रदेश होते हुए राजस्थान के झालावाड़ जिले में आ रही है और पूर्व सीएम वसुंधरा राजे के विधानसभा क्षेत्र झालरापाटन से इसकी शुरूआत की जाएगी। पार्टी की ओर से बड़ा स्वागत गेट बनवाया गया है। राजस्थान में प्रवेश करते ही राहुल की यात्रा का राजस्थान के लोकनृत्य कालबेलिया और हाड़ौती के बिन्दौरी से स्वागत किया जाएगा। इस दौरान पूरी सरकार तैनात रहेगी।

लोगों से मुलाकात और बातचीत भी:
राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा के दौरान पैदल चलने के दौरान लोगों से मुलाकात कर बातचीत करेंगे। दोपहर में लंच किया जाएगा। इसमें अलग अलग व्यवस्था रहेगी। इनमें राहुल गांधी के साथ सीनियर नेता मौजूद रहेंगे और बाकी व्यवस्था पूरी यात्रा के दौरान रहने वाले यात्रियों के लिए की जाएगी। राहुल गांधी लंच के बाद थोड़ा आराम करेंगे और फिर यात्रा शुरू करेंगे। रात्रि विश्राम के लिए खेतों में कंटेनर बना दिए गए है। राहुल गांधी के कंटेनर में बेड और अटैच बाथरूम है।

मंदिर दर्शन भी करेंगे राहुल:
राहुल अपनी इस यात्रा के दौरान आने वाले बड़े मंदिरों में भी जाएंगे। मंदिर दर्शन करके कांग्रेस अपनी अलग छवि दिखाने की कोशिश करेगी। गणेश मंदिर के साथ ही हनुमान मंदिरों में दर्शन कर आर्शीवाद लेंगे। राहुल गांधी ने मध्यप्रदेश के उज्जैन में महाकाल और ओंकारेश्वर मंदिर में पूजा अर्चना भी की थी और तिलक लगाकर मोदी सरकार पर जनसभा में हमले भी साधे थे।

नया राजस्थान दिखाने की कोशिश
राहुल गांधी की इस यात्रा की तैयारी बहुत पहले ही शुरू कर दी गई थी। पूरे रूट पर सडकें चमाचम कर दी गई है। किसानों को इन इलाकों में 24 घंटे बिजली भी दी जा रही है। सीएम गहलोत की ओर से नया राजस्थान दिखाने की कोशिश की जा रही है। गहलोत सरकार की सरकारी योजनाओं के प्रचार वाले होर्डिग लगा दिए गए है। इनमें बिजली अनुदान, चिरंजीवी योजना, ओपीएस आदि शामिल है। सीएम गहलोत के होर्डिग के साथ ही पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट के पूरे रास्ते होर्डिग लगा दिए गए है। पायलट अपनी ताकत दिखाना चाहेंगे। इसीलिए उन्होंने अपना एक वीडियों भी टवीटर पर डाला है।

यात्रा का यूं रहेगा सफर
कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा झालावाड़ के झालरापाटन विधानसभा क्षेत्र के चऊंली गांव में शाम 7 बजे एंट्री करेगी। अगले दिन 5 दिसंबर को सुबह 6 बजे यात्रा की औपचारिक शुरूआत होगी और वो आगे चलेगी। इस दौरान काली तलाई, सुरजपोल नाका में नुक्कड़ सभाएं की जाएगी। वहीं फिर रात्रि विश्राम किया जाएगा। अगले दिन 6 दिसंबर की सवेरे हिरिया खेड़ी में नुक्कड़ सभा होगी और शाम को ये यात्रा मोरू कलां के खेल मैदान में पहुंचेगी। रात्रि विश्राम भी यहीं किया जाएगा। राहुल गांधी की यात्रा 7 दिसंबर को कोटा से निकलेगी यहां केवल नगर में नुक्कड़ सभा करने के बाद शाम को जगपुरा में रात्रि विश्राम किया जाएगा। आठ दिसंबर को यात्रा का विराम रहेगा। 9 दिसंबर को बूंदी जिले के केशोरायपाटन स्थित गुड़ली गांव में यात्रा आएगी और बालापुरा चौराहे होते हुए बजड़ली पहुंचेगी। इस दौरान भी नुक्कड़ सभाओं की जाएगी। भारत जोडो यात्रा 10 और 11 दिसंबर को बूंदी में रहेगी और 12 दिसंबर को बूंदी से सवाई माधोपुर पहुंचेगी। भारत जोड़ो यात्रा 13 दिसंबर को सवाईमाधोपुर होते हुए दौसा के लालसोट पहुंचेगी और 15 दिसंबर तक यात्रा यहीं चलेगी। इस दौरान किसानों से मुलाकात भी कराई जाएगी और मीणा हाईकोर्ट में रात्रि में रूकेगी। इसके बाद 16 दिसंबर को राहुल गांधी की यात्रा में ब्रेक रखा गया है। राहुल गांधी अपनी यात्रा 17 और 18 दिसंबर को दौसा, सिकराय, बांदीकुई से गुजरेगी और 19 दिसंबर को अलवर पहुंचेगी। यहां मालाखेड़ा में दोपहर ढाई बजे जनसभा की जाएगी। इसे राहुल गांधी, सीएम अशोक गहलोत, पीसीसी चीफ गोविंद डोटासरा, सचिन पायलट सहित कई नेता सम्बोधित करेंगे। इसके बाद राहुल की ये यात्रा 20 दिसंबर को अलवर शहर, रामगढ से होकर निकलेगी और 21 को रामगढ के गांव बिजरा में रात्रि में यात्रा के विश्राम के साथ ही राजस्थान में ये यात्रा पूरी हो जाएगी।



राजस्थान की और समाचार देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Rajasthan News