भाजपा की सरकार बनने पर रीट पेपर लीक के गुनहगारों को जेल में डालेंगे | REET Paper Leak BJP Vasudev Devnani Attack On Subhash Garg DP Jaroli | Patrika News

0
104

भाजपा की सरकार बनने पर रीट पेपर लीक के गुनहगारों को जेल में डालेंगे | REET Paper Leak BJP Vasudev Devnani Attack On Subhash Garg DP Jaroli | News 4 Social

रीट पेपर लीक मामला अभी तक शांत नहीं हो पाया है। भाजपा का आरोप है कि मामले के असली आरोपियों को ना तो गिरफ्तार किया गया और ना ही उनसे पूछताछ हुई है। मामले को लेकर विधायक वासुदेव देवनानी ने शिक्षा राज्य मंत्री सुभाष गोयल को आड़े हाथों लिया।

जयपुर। रीट पेपर लीक मामला अभी तक शांत नहीं हो पाया है। भाजपा का आरोप है कि मामले के असली आरोपियों को ना तो गिरफ्तार किया गया और ना ही उनसे पूछताछ हुई है। मामले को लेकर विधायक वासुदेव देवनानी ने शिक्षा राज्य मंत्री सुभाष गोयल को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि पेपर लीक मामले में सुभाष गर्ग के साथ माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के पूर्व चेयरमैन डी.पी. जारोली की लिप्तता है। भाजपा की सरकार आने पर दोषियों पर कार्रवाई होगी और दोषियों को जेल भेजा जाएगा।

देवनानी ने कहा कि गुजरात ने राजस्थान मॉडल फेल हो गया। कांग्रेस की हालत पहले ऐसी नहीं हुई। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट आपस में लड़ रहे है। राजस्थान की जनता पहचान चुकी है। अशोक गहलोत द्वारा अपने पूर्व अध्यक्ष को कभी नक्कारा, निकम्मा और गद्दार तक कहा गया है। जो अपनी पार्टी के नहीं हुए वो प्रदेश की जनता के क्या होंगे। उन्होंने जनाक्रोश यात्रा के बारे में बताया कि अब तक प्रदेशभर में 45 हजार किलोमीटर से ज्यादा यात्रा हो चुकी है। इसके अलावा 6114 सभाएं होने के साथ ही लाखों पत्रक बांटे जा चुके हैं। यात्रा के दौरान अब तक 84 हजार शिकायतें आईं हैं।

यह भी पढ़ें

वसुंधरा राजे का तंज, चार साल बाद विकास तो हुआ मगर सिर्फ़ ख़ास मेहमान के लिए – वसुन्धरा राजे

सावरकर के खिलाफ राहुल किसके कहने पर बोलते हैं

वीर सावरकर को लेकर राहुल गांधी के बयान पर देवनानी ने कहा कि सावरकर का आजादी में बड़ा योगदान था जो किसी भी कांग्रेसी से ज्यादा रहा है। उन्हें तो दो-दो बार आजीवन कारावास हुआ। जेल की यातनाएं सहनी पड़ी। उन्होंने पूछा कि आखिर सावरकर को खिलाफ राहुल गांधी किसके कहने पर बोलते हैं।

शिक्षा का कर दिया बंटाधार

इससे पहले देवनानी ने प्रदेश में शिक्षा के गिरते स्तर पर चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा कि मेरे समय मे शिक्षा के मामले राजस्थान दूसरे नंबर पर आ गया था। मगर इस सरकार ने शिक्षा का बंटाधार कर दिया। उच्च शिक्षा मे 50 फीसदी पद खली पड़े है। 490 में से 460 कॉलेज में अस्थायी प्राध्यापक लगे हैं। विश्विद्यालयों में आज 2200 में से 1200 पद खाली पड़े हैं और उच्च शिक्षा के नाम पर कॉलेज बच्चों को लूट रहे हैं, लेकिन इस ओर सरकार का कोई ध्यान नहीं है। कुल मिलाकर शिक्षा में जबर्दस्त भ्रष्टाचार हो रहा है।

राजस्थान की और समाचार देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Rajasthan News