बिहार में एयरपोर्ट पर सियासी घमासान, बीजेपी ने दागी ‘मिसाइल’ तो जेडीयू ने की ‘बमवर्षा’

0
106

बिहार में एयरपोर्ट पर सियासी घमासान, बीजेपी ने दागी ‘मिसाइल’ तो जेडीयू ने की ‘बमवर्षा’

नील कमल, पटना: जंगलराज, भ्रष्टाचार, बेरोजगारी और रोजगार, विकास, शराबबंदी, तुष्टीकरण जैसे अनेक मुद्दों की के साथ अब राजगीर एयरपोर्ट को लेकर महागठबंधन सरकार और बीजेपी के बीच जुबानी जंग जारी है। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्र सरकार से राजगीर में एयरपोर्ट बनाने की मांग की थी। केंद्र द्वारा मांग को ठुकराए जाने के बाद सुशील कुमार मोदी ने कहा था कि अगर नीतीश कुमार को वहां एयरपोर्ट बनाना है तो राज्य सरकार अपने खर्च पर बनाए। सोमवार को ही नीतीश कुमार ने राजगीर में यह ऐलान किया कि राज्य सरकार अपने खर्च पर एयरपोर्ट का निर्माण करेगी। नीतीश कुमार के ऐलान के बाद जेडीयू ने बीजेपी खासकर सुशील कुमार मोदी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

राज्य सरकार के हाथ में होता तो नीतीश कुमार कभी का बना चुके होते एयरपोर्ट
राजगीर में नीतीश कुमार द्वारा एयरपोर्ट बनाने की घोषणा किए जाने के बाद जेडीयू प्रवक्ताओं ने सुशील मोदी के खिलाफ हल्ला बोल दिया है। जेडीयू प्रदेश प्रवक्ता अभिषेक झा और अंजुम आरा ने सुशील मोदी को मनगढ़ंत, अटपटे और जुमलेबाजी के लिए विश्व प्रसिद्ध बताया। जेडीयू प्रवक्ता ने कहा कि सुशील मोदी का यह कहना कि राजगीर में केंद्र सरकार एयरपोर्ट नहीं बनाती है तो, राज्य सरकार अपने खर्च पर बना ले, यह असंवैधानिक है। इसके अलावा उन्होंने पटना, पूर्णिया और बिहटा एयरपोर्ट के बारे में भी झूठ बोला है। आज इस देश में संविधान को बचाने की लड़ाई सर्वाधिक गंभीर मुद्दा है। सभी जानते हैं कि नागरिक विमानन सेवा संविधान की केन्द्रीय सूची में है न कि राज्य या समवर्ती सूची में।

एयरपोर्ट बनाए नीतीश सरकार और बेचे मोदी सरकार : JDU
जेडीयू प्रवक्ता अभिषेक झा ने कहा कि एयरपोर्ट बनाए राज्य सरकार और उस पर टैक्स लगाए केंद्र सरकार। नागरिकों से दरभंगा से दिल्ली तक के लिए पच्चीस-पच्चीस हजार किराया ले केंद्र सरकार और उससे होने वाली आमदनी से विश्व भ्रमण करे मोदी सरकार। जेडीयू ने पूछा कि क्या मोदी सरकार की औपचारिकता अब सिर्फ सरकारी संपत्तियों को अडानी-अंबानी को बेचने तक सीमित रह गई है ? इसका मतलब यह हुआ कि राजगीर में एयरपोर्ट बनाएंगे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उसे अडानी-अंबानी को बेच देगी मोदी सरकार? जदयू का कहना है कि एक दौर था जब टाटा ने एयर इंडिया बनाया और उसे दशकों तक सफल रूप से चलाकर भारत सरकार को दे दिया था। एक आज का दौर है जब मोदी सरकार एक के बाद कुल आठ एयरपोर्ट अडानी को बेच चुकी है।

राजगीर में एयरपोर्ट जरूरी क्यों
जेडीयू का कहना है कि पूरे बिहार में सर्वाधिक देसी और विदेशी पर्यटक नालंदा खासकर राजगीर के आस-पास ही आते हैं। नालंदा विश्व विद्यालय समेत कई वैश्विक ऐतिहासिक धरोहर है। राजगीर में आयुद्ध कारखाना है। कुछ साल में राजगीर में नालंदा विवि का नया कैंपस बनकर तैयार हो जाएगा। साथ ही वहां अंतरराष्ट्रीय स्तर का खेल मैदान भी बन रहा है। यानी आने वाले साल में नालंदा के विभिन्न पर्यटक और ऐतिहासिक स्थलों पर आने वाले देसी-विदेशी पर्यटकों की संख्या में अप्रत्याशित तौर पर वृद्धि होने वाली है। जेडीयू की ओर से यह भी कहा गया कि केंद्र सरकार के ही आंकड़े बताते हैं कि 2018 में बिहार अंतरराष्ट्रीय और घरेलू समग्र पर्यटन के मामले पूरे भारत में 9वें स्थान पर रहा था। जहां वर्ष 2005 में कुल 63,321 विदेशी यात्री बिहार आए थे, 2019 में उनकी संख्या बढ़कर 10.90 लाख हो गई। जबकि घरेलू पर्यटकों की कुल संख्या 68.81 लाख से बढ़कर 3.5 करोड़ पहुच गई। यानी विदेशी यात्रियों की संख्या में लगभग 18 और घरेलू में लगभग पांच गुना वृद्धि हुई है।

एयरपोर्ट के निर्माण और विस्तार के लिए जमीन दे चुकी है सरकार
जेडीयू की ओर से कहा गया कि सुशील कुमार मोदी ने आरोप लगाया कि बिहार सरकार ने पटना, पूर्णिया और बिहटा में बन रहे एयरपोर्ट के लिए जमीन उपलब्ध नहीं कराए। जबकि बिहार सरकार ने बिहटा में 108 एकड़ जमीन दे चुकी है। इसके अलावा दरभंगा एअरपोर्ट के विस्तार के लिए मांगी गई जमीन को 2023 तक अधिग्रहण कर दे दिया जाएगा। जदयू ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने भो कहा है कि बिहार में कम से कम 5-6 डोमेस्टिक और एक इंटरनेशनल एयरपोर्ट की जरुरत है, जबकि वर्तमान में बिहार में मात्र तीन एयरपोर्ट ही है। हालांकि पहले बिहार में कई एयरपोर्ट हुआ करते थे, लेकिन मुंगेर, भागलपुर, फारबिसगंज और रक्सौल एयरपोर्ट को बंद कर दिया गया है। जेडीयू की ओर से यह भी याद दिलाया गया कि 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुजफ्फरपुर में एयरपोर्ट बनाने की घोषणा की थी। इसके अलावे सबेया में भी एक एयरपोर्ट बनाना है, पर उसकी कोई चर्चा ही नहीं हो रही है

बिहार की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Delhi News