बिहार दौरे पर अमित शाह, मेरा बूथ सबसे मजबूत प्लान के लिए देंगे विशेष मंत्र

18
बिहार दौरे पर अमित शाह, मेरा बूथ सबसे मजबूत प्लान के लिए देंगे विशेष मंत्र

बिहार दौरे पर अमित शाह, मेरा बूथ सबसे मजबूत प्लान के लिए देंगे विशेष मंत्र


नीलकमल, पटना: सितंबर 2022 में जब केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बिहार के सीमांचल इलाके का दौरा किया था। तब उन्होंने बिहारवासियों से यह वादा किया था कि वह 2025 विधानसभा चुनाव तक हर महीने बिहार का दौरा करेंगे। अप्रैल के पहले सप्ताह में केंद्रीय गृहमंत्री 2 अप्रैल को बिहार के सासाराम में विशाल जनसभा को संबोधित करेंगे। आपको बता दें कि बीजेपी ने 2 अप्रैल को सासाराम के रेलवे मैदान में सम्राट अशोक जयंती मनाने का कार्यक्रम तैयार किया है।

ऐतिहासिक होगा समारोह : सम्राट चौधरी

भारतीय जनता पार्टी बिहार प्रदेश के नवनियुक्त अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने कहा कि 2 अप्रैल को गृह मंत्री अमित शाह के सासाराम आने से सम्राट अशोक को मानने वालों को नई ऊर्जा मिलेगी। उन्होंने पार्टी की ओर से सासाराम के रेलवे मैदान में आयोजित सम्राट अशोक के जयंती समारोह मे सभी कार्यकर्ताओं को जोर-शोर से पूरी मजबूती और ताकत के साथ मौजूद रहने को कहा। इसके अलावा बिहार बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने सभी मुखिया प्रतिनिधियों को भी 2 अप्रैल को सासाराम के रेलवे मैदान में आने का न्योता दिया।

आप राजधानी पटना जिले से जुड़ी ताजा और गुणवत्तापूर्ण खबरें अपने वाट्सऐप पर पढ़ना चाहते हैं तो कृपया यहां क्लिक करें।

मेरा बूथ सबसे मजबूत टारगेट

सम्राट चौधरी ने बताया कि जल्द ही पार्टी में पन्ना प्रमुख, बूथ स्तर की जिम्मेदारियों का निर्वहन करने वालों की रूप रेखा तैयार की जाएगी। जिसके बाद पार्टी को नई मजबूती मिलेगी। उन्होंने कहा कि बिहार में जिन-जिन लोगों ने राज किया सभी को भाजपा ने आगे बढ़ाया। खुद को पीछे रखकर बीजेपी ने दूसरे को सता की कुर्सी पर बिठाया। जब-जब पिछड़ों के हक की बात हुई तो बीजेपी ने उस विधेयक को लेन का काम किया। चाहे मंडल कमीशन की बात हो या STSC कानून की या गरीब सवर्णों के हक में आरक्षण की व्यव्स्था करने की। जबकि बाकी दलों ने आरक्षण देने के नाम पर सिर्फ धोखा देने का काम किया है।

‘मेरा दिल्ली में रहना जरूरी था’, सम्राट चौधरी के अभिनंदन समारोह में गैरमौजूदगी पर सुशील मोदी ने बताई वजह

लालू नीतीश ने पिछड़े वर्ग को ठगा- सम्राट चौधरी

सम्राट चौधरी ने कहा कि लालू यादव और नीतीश कुमार की सरकार ने बिहार में पिछड़े वर्गों के अधिकार का बंदरबाट किया। लेकिन भाजपा ने सभी के साथ न्याय करने का जिम्मा उठाया है। उन्होंने महागठबंधन सरकार से पूछा कि वह बताएं कि कि 2001 में हुए पंचायत चुनाव में लालू प्रसाद और नीतीश कुमार की पार्टी ने पिछड़ों के लिए क्या किया ? पंचायत चुनाव में पिछड़े वर्ग के आरक्षण की कितनी व्यवस्था की थी ?

Navbharat Times -Samrat Chaudhary अपने सिर से कब उतारेंगे भगवा पगड़ी? नीतीश को लेकर उनकी ‘कसम’ जान लीजिए

नीतीश कुमार को बस खुद की फिक्र है : सम्राट चौधरी

सम्राट चौधरी ने कहा कि नीतीश कुमार को अब बिहार से कोई मतलब नहीं है। उन्हें सिर्फ और सिर्फ अपने से मतलब है। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा की नल-जल की योजना के लिए मोदी सरकार ने 500 करोड़ रुपए देने का ऐलान किया था। लेकिन पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर सीएम नीतीश कुमार ने पैसे लेने से मना कर दिया। सम्राट चौधरी ने कहा कि 6 महीना के बाद राज्य में लोकसभा चुनाव की सरगर्मी तेज हो जायेगी। इस दौरान भाजपा के सभी कार्यकर्ता लालू – नीतीश की पार्टी को शून्य पर समेटने का काम करेंगे।

बिहार की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Delhi News