बिहार के नए डीजीपी आरएस भट्टी का शहाबुद्दीन, अनंत सिंह और लालू यादव से क्या है कनेक्शन ? जानिए

0
41

बिहार के नए डीजीपी आरएस भट्टी का शहाबुद्दीन, अनंत सिंह और लालू यादव से क्या है कनेक्शन ? जानिए

ऐप पर पढ़ें

Bihar DGP RS Bhatti: बिहार के नए डीजीपी आरएस भट्टी पटना के सिटी एसपी के अलावा सीवान, पूर्णिया, बोकारो (अब झारखंड) समेत अन्य कई जिलों में बतौर एसपी रह चुके हैं। बाहुबली और सीवान सांसद रहे मो. शहाबुद्दीन को दिल्ली से गिरफ्तार करके लाने के कारण खासा सुर्खियों में रहे थे। इसके अलावा सारण इलाके के दबंग नेता और पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह और मोकामा के पूर्व विधायक बाहुबली अनंत सिंह के बड़े भाई स्वर्गीय दिलीप सिंह पर इन्होंने अलग-अलग मामलों में शिकंजा कसा था। यहीं नहीं एक समय बिहार के मुख्यमंत्री रहे लालू प्रसाद यादव ने भी अपहरण के एक मामले को सुलझाने के लिए छुट्टी पर गए भट्टी को पंजाब से बिहार बुला लिया था। 

जानकारी के अनुसार राजविंदर सिंह भट्टी तब गोपालगंज के एसपी हुआ करते थे। गोपालगंज लालू यादव का गृह जिला है और तब लालू यादव ही सूबे के मुख्यमंत्री थे। उस दौरान छपरा में एक डॉक्टर पुत्र का अपहरण हो गया। इस कांड से नाराज होकर बड़ी संख्या में डॉक्टरों ने हड़ताल कर दिया। डॉक्टरों का एक प्रतिनिधिमंडल तब सीएम लालू यादव से जाकर मिला। उन्होंने एक मांग रखी कि गोपालगंज एसपी आरएस भट्टी को ये केस दिया जाए। लालू यादव ने फौरन हामी भरी और जब खोज किया गया तो भट्टी उन दिनों छुट्टी पर थे। पंजाब के रहने वाले भट्टी तक एक कार्यक्रम में घर गये थे। लालू ने उन्हें फोन किया और विमान भेजकर फौरन बुलवाया।

बेरहम आईपीएस साबित होंगे आरएस भट्टी ? डीजीपी चुने जाने से बिहार के अंडरवर्ल्ड में हड़कंप

आरएस भट्टी पटना आए और लालू यादव ने उन्हें अपहरण केस की जानकारी दी। भट्टी ने अपने अंदाज में ही आसपास के कई जिलों के दुर्दांत अपराधियों की सूची वगैरह तैयार की। उन्होंने वो हाल कर दिया था कि अपराधियों को अब अपने ही बच्चों की चिंता सताने लगी थी। भट्टी का रूप उस समय ऐसा था कि उनके मोर्चा थामने के बाद पुलिस तो पुलिस, अब अपराधियों का गैंग भी अपहृत बच्चे को ढूंढने लगा था और आखिरकार हफ्ते भर के अंदर ही डॉक्टर का अपहृत पुत्र उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले से बरामद कर लिया गया था। 

शहाबुद्दीन को गिरफ्तार कर चर्चा में आए थे भट्टी

मो. शहाबुद्दीन को दिल्ली से गिरफ्तार करके बिहार लाने का वाकया बेहद चर्चित है। वर्ष 2005 के विधानसभा चुनाव के दौरान बिहार में नए डीजीपी बनाए गए राजविंदर सिंह भट्टी (आरएस भट्टी) केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से लौटकर बिहार आए थे और उन्हें सारण डीआईजी का पदभार सौंपा गया था। उस समय फरार चल रहे बाहुबली शहाबुद्दीन के दिल्ली में रहने की सूचना मिली। तब वे पांच पदाधिकारियों की विशेष टीम बनाकर दिल्ली गये।

मंगलवार को पटना पहुंचेंगे नए डीजीपी आरएस भट्टी, सारे एसपी से मांगी गई टॉप 10 क्रिमिनल की लिस्ट

वहां के द्वारका स्थित शहाबुद्दीन के फ्लैट की पहले रेकी की गई। फिर अपने साथ गई एक महिला सब-इंस्पेक्टर गौरी कुमारी को पहले घर के अंदर बिजली चोरी के मामले की जांच करने के बहाने से अंदर भेजा। जब यह स्पष्ट हो गया कि बाहुबली अंदर ही हैं, तब पूरी टीम अंदर घुसकर शहाबुद्दीन को दबोच लिया। फिर बाहुबली को सुरक्षा कारणों से विशेष हेलीकॉप्टर से पटना लाया गया था। उस समय सुरक्षा कारणों से दिल्ली से पटना सड़क या रेल मार्ग से लाना बहुत असुरक्षित था। इसके बाद कुछ अन्य बाहुबलियों के खिलाफ ऑपरेशन को अंजाम देने के कारण सुरक्षा कारणों से फिर से उन्हें केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर जाना पड़ा। केंद्र जाकर उन्होंने सीबीआई में अपनी सेवा दी।

बिहार की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Delhi News