प्रसूता की हुई मौत, परिजनों ने डॉक्टर पर लापरवाही का लगाया आरोप

134


प्रसूता की हुई मौत, परिजनों ने डॉक्टर पर लापरवाही का लगाया आरोप

आरोपी डॉक्टरों के खिलाफ कार्यवाही की मांग को लेकर परिजन जिला महिला अस्पताल में बैठ प्रदर्शन करने को मजबूर हो गए हैं।

महोबा. महोबा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कबरई में तैनात डॉक्टरों की लापरवाही ने 22 वर्षीय नवविवाहिता प्रसूता की जान ले ली है। मृतका के परिजनों ने सीएचसी के डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाया है। प्रसूता की मौत से परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है। आरोपी डॉक्टरों के खिलाफ कार्यवाही की मांग को लेकर परिजन जिला महिला अस्पताल में बैठ प्रदर्शन करने को मजबूर हो गए हैं।

कबरई थाना क्षेत्र के बबीड़ी गांव में रहने वाली महिला आरती डिलीवरी के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कबरई आई हुई थी, जहां डॉक्टरों ने लापरवाही की सारी हदें पार करते हुए घंटों वही इलाज करा दिया। परिजन बार-बार उसे महोबा जिला अस्पताल ले जाने की जिद करते रहे, बावजूद डॉक्टरों ने सीएससी में ही डिलीवरी हो जाने का परिजनों को आश्वासन देते रहे। उनके इसी आश्वासन के बाद परिजन आरती को लेकर महोबा नहीं आ सके थे।

आरती ने बच्ची को तो जन्म दे दिया मगर डिलीवरी के बाद उसकी हालत लगातार बिगड़ने लगी और जिला अस्पताल पहुंचने से पहले ही आरती ने दम तोड़ दिया। परिजनों का आरोप है कि अगर सीएचसी कबरई के डॉक्टर समय से आरती को महोबा भेज देते तो निश्चित तौर पर उसकी जान बच जाती। हम लोग ऐसे लापरवाह डॉक्टर के खिलाफ जिला प्रशासन से और सीएम योगी से कार्यवाही की मांग करते हैं ।

महोबा महिला जिला चिकित्सालय में तैनात डॉक्टर एसके वर्मा बताते हैं कि महिला को डिलीवरी के बाद अत्यधिक ब्लीडिंग हुई थी। तमाम प्रयासों के बावजूद उसे बचाया नहीं जा सका।







Source link