प्रशांत किशोर की राहुल और प्रियंका से मुलाकात, सियासी गलियारे में सुगबुगाहट शुरू

157

प्रशांत किशोर की राहुल और प्रियंका से मुलाकात, सियासी गलियारे में सुगबुगाहट शुरू

Prashant Kishor meets Priyanka and Rahul: इस साल के अंत में होने वाले गुजरात चुनाव (Gujarat Elections 2022) से पहले कांग्रेस में हलचल बढ़ गई है। हिंदुस्‍तान टाइम्‍स (HT) की रिपोर्ट के मुताबिक चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) ने राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा (Rahul Gandhi and Priyanka Gandhi) से मुलाकात की है। यह मुलाकात गुरुवार को हुई। इससे सियासी गलियारे में सुगबुगाहट बढ़ गई कि क्‍या गुजरात कैंपेन से पहले प्रशांत किशोर कांग्रेस के साथ दोबारा काम कर सकते हैं। पिछले साल प्रशांत किशोर ने कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की थी। इसके बाद उनके कांग्रेस में शामिल होने की अटकलें तेज हो गई थीं। खबरें उड़ी थीं कि प्रशांत किशोर को देश की सबसे पुरानी पार्टी में कोई बड़ा पद दिया जा सकता है।

एचटी ने अपनी रिपोर्ट में कांग्रेस के दो वरिष्‍ठ नेताओं के हवाले से इस मुलाकात के बारे में बताया है। यह अलग बात है कि इस मीटिंग के बारे में कोई औपचारिक बयान नहीं आया है। दोनों नेताओं ने बताया कि प्रशांत किशोर ने गुरुवार को राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा से मुलाकात की।

‘इन नेताओं ने इसी पार्टी नेतृत्व में पद और सम्मान हासिल किए’ राहुल के साथ बैठक में ‘जी23’ नेताओं पर भड़कीं सैलजा

इस मुलाकात की बात ऐसे समय सामने आई है जब भाई-बहन ने इसके एक दिन पहले एक अन्‍य चुनावी रणनीतिकार सुनील कानूगोलू से मुलाकात की। सुनील अब कांग्रेस के साथ काम कर रहे हैं। गुजरात में दिसंबर में चुनाव होने हैं। दोनों नेताओं ने बताया कि किशोर के साथ राहुल और प्रियंका की मुलाकात गुजरात कैंपेन को लेकर थी।

navbharat times -हैपीनेस इंडेक्‍स में भारत का 136वां स्‍थान, राहुल गांधी ने कसा तंज- नफरत के सूचकांक में जल्‍द टॉप पर होंगे

2020 की शुरुआत में किशोर ने कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्‍व से मुलाकात की थी। बताया गया था कि वह 2024 लोकसभा चुनाव में पार्टी की मदद के लिए कोई प्‍लान लेकर पहुंचे थे। कई बैठकों के बाद कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्‍व में किशोर का स्‍वागत करने की रजामंदी बन गई थी। हालांकि, किशोर के ही दूसरे क्‍लाइंट तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने बात बिगाड़ दी। हाल के विधानसभा चुनाव से पहले टीएमसी ने कांग्रेस में तगड़ी सेंधमारी की थी।

पिछले महीने किशोर के पूर्व सहयोगी सुनील कानूगोलू ने कांग्रेस के साथ काम करना शुरू कर दिया। इसके बाद किशोर के पार्टी के साथ काम करने की संभावनाएं बहुम कम हो गईं। दोनों ने 2014 में नरेंद्र मोदी के कैंपेन के लिए काम किया था। इसके बाद किशोर के रास्‍ते अलग हो गए। वहीं, सुनील बीजेपी के साथ जुड़े रहे।

Rahul Gandhi, Prashant Kishor and Priyanka



Source link