पुजारा को बाहर कर दिया, सरफराज का सिलेक्शन नहीं, गांगुली ने उठाए इन फैसलों पर सवाल

0
पुजारा को बाहर कर दिया, सरफराज का सिलेक्शन नहीं, गांगुली ने उठाए इन फैसलों पर सवाल


पुजारा को बाहर कर दिया, सरफराज का सिलेक्शन नहीं, गांगुली ने उठाए इन फैसलों पर सवाल

नई दिल्ली: भारतीय टीम के वेस्टइंडीज दौरे के लिए चुनी गई टेस्ट टीम को लेकर काफी बहस हो रही है। एक ओर कई लोगों का मानना है कि चेतेश्वर पुजारा के दिन अब लद गए हैं तो दूसरी ओर कुछ लोगों की दलील यह भी थी कि सिर्फ पुजारा इकलौते नहीं हैं, जिनके बल्ले से रन नहीं बन रहे। विराट कोहली की फॉर्म तो पुजारा से भी खराब है। दूसरी ओर, सरफराज खान का सिलेक्शन नहीं होने पर सुनील गावस्कर सहित तमाम दिग्गजों ने सवाल उठाए थे।अब पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने भी सिलेक्टरों पर सवाल उठाए हैं। भारतीय चयनकर्ताओं ने चेतेश्वर पुजारा जैसे कद के बल्लेबाज को बाहर करके बदलाव की प्रक्रिया की शुरुआत कर दी है। दूसरी ओर, गांगुली चाहते हैं कि एक खिलाड़ी के साथ के साथ संवाद स्पष्ट होना चाहिए जो भारत के लिए 100 से ज्यादा टेस्ट मैच खेल चुका हो। उन्होंने कहा, ‘चयनकर्ताओं को उसके (पुजारा) बारे में स्पष्ट होना चाहिए था। क्या वे उसे टेस्ट क्रिकेट में और खिलाना चाहते हैं या फिर वे युवाओं के साथ जारी करना चाहते हैं, उसे इस बारे में बताया जाना चाहिए था। पुजारा जैसे कद के खिलाड़ी को आप टीम से बाहर, फिर अंदर और फिर बाहर, फिर अंदर नहीं कर सकते। ऐसा ही अजिंक्य रहाणे के साथ भी है।’

ऐसा लगने लगा है कि टेस्ट क्रिकेट में टीम में जगह बनाने के लिए भी एक खिलाड़ी को आईपीएल में मजबूत प्रदर्शन करना चाहिए जैसा कि रुतुराज गायकवाड़ ने किया। गांगुली हालांकि इस बात से इत्तेफाक नहीं रखते। उन्होंने कहा कि सरफराज खान जैसे शानदार बल्लेबाज को खुद को साबित करने का मौका दिया जाना चाहिए था जो आईपीएल में अच्छा नहीं कर सके।

गांगुली ने कहा, ‘मुझे लगता है कि यशस्वी जायसवाल ने रणजी ट्रॉफी, ईरानी ट्रॉफी, दलीप ट्रॉफी में काफी रन जुटाए हैं। मुझे लगता है कि इसलिये वह टीम में है। मुझे लगता है कि सरफराज खान को भी एक मौका दिया जाना चाहिए था, उसने भी पिछले तीन वर्षों में काफी रन बनाये हैं।’ उन्होंने कहा, ‘ऐसा ही अभिमन्यु ईश्वरन के साथ भी है, जिन्होंने पिछले पांच से छह वर्षों में काफी रन जुटाये हैं। मैं हैरान हूं कि ये दोनों ही टीम में नहीं है लेकिन भविष्य में इन्हें मौका दिया जाना चाहिए। लेकिन यशस्वी जायसवाल का चयन अच्छा है।’

विश्व कप के स्थलों की पसंद पर गांगुली ने आईसीसी (अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) और बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट बोर्ड) दोनों की प्रशंसा की। उन्होंने कहा, ‘इसका शानदार कार्यक्रम है और मैचों को अच्छे स्टेडियम में दिया गया है। बीसीसीआई और आईसीसी ने सही स्थलों पर सही मैच दिये हैं और मैं जानता हूं कि यह शानदार विश्व कप होगा।’
Cheteshwar Pujara: चेतेश्वर पुजारा के लिए उनके पिता का पैगाम, बताया कैसे होगी टीम इंडिया में होगी वापसीNavbharat Times -टीम इंडिया को चुनने में हो गई है BCCI से चूक? वेस्टइंडीज दौरे पर महंगी पड़ेंगी ये तीन गलतियांNavbharat Times -OPINION: वो घिस-घिसकर रन बनाते हैं, आपने IPL से चुन ली टेस्ट टीम, BCCI ने तो हद कर दी!



Source link